• search
राजस्थान न्यूज़ के लिए
नोटिफिकेशन ऑन करें  

झारखंड के पूर्व CM बाबूलाल मरांडी की 7 साल से लापता बहन भरतपुर में मिली, जानिए यहां कैसे पहुंची?

|

भरतपुर। झारखंड के पूर्व सीएम बाबूलाल मरांडी की सात साल से लापता बहन मैंसूरी देवी राजस्थान के भरतपुर में मिली है। वह भरतपुर स्थित 'अपना घर' आश्रम में रह रही थीं। आश्रम प्रबंधन की सूचना पर मरांडी परिवार के लोग भरतपुर पहुंचे और मैंसूरी देवी को अपने साथ घर ले गए।

टूटने लगी मरांडी परिवार की आस

टूटने लगी मरांडी परिवार की आस

बता दें कि मैंसूरी देवी वर्ष 2012 से लापता है। तब से इनके परिवार तलाश कर रहा है। लम्बे समय तक कोई सुराग नहीं मिलने पर परिजनों की उम्मीद तक टूटने लगी थी। अब भरतपुर के अपना घर आश्रम की सूचना पहुंची तो झारखंड से बाबूलाल मरांडी के छोटे भाई नूनूलाल मरांडी और बेटा सुलेमान अपना घर आश्रम पहुंचे।

 कैसे लापता हुई पूर्व सीएम की बहन?

कैसे लापता हुई पूर्व सीएम की बहन?

भरतपुर के अपना घर आश्रम संचालकों के अनुसार वर्ष 2000 से मैंसूरी देवी मानसिक अवसाद में थी। उनका रांची में इलाज चल रहा था। वर्ष 2012 में परिवार से बिछुड़ गई और भटकते-भटकते भरतपुर के खोह डीग पहुंच गई थीं। मई-2018 में उन्हें वहां से अपना घर आश्रम लाया गया। यहां पर उनका इलाज चला। स्वस्थ होने पर मैंसूरी देवी ने अपना पता बताया।

 पूर्व सीएम आएंगे अपना घर आश्रम

पूर्व सीएम आएंगे अपना घर आश्रम

मीडिया रिपोर्ट्स के अनुसार मैंसूरी देवी को लेने आए परिजनों ने झारखंड के पूर्व सीएम बाबूलाल मरांडी की आश्रम के संस्थापक बीएम भारद्वाज से बात भी कराई। अपनी बहन के मिलने पर ख़ुशी प्रकट करते हुए मरांडी ने भारद्वाज से कहा कि वे जब भी दिल्ली आएंगे तब भरतपुर के अपना घर आश्रम की विजिट जरूर करेंगे।

महिला का आरोप-'रात को घर में घुसा भरतपुर MP पति, सोती हुई पर हाथ रखकर बोला सोने-चांदी से लाद दूंगा तुझे'

देश-दुनिया की ताज़ा ख़बरों से अपडेट रहने के लिए Oneindia Hindi के फेसबुक पेज को लाइक करें
English summary
Former Jharkhand CM Babulal Marandi's missing sister, found in Bharatpur
For Daily Alerts
तुरंत पाएं न्यूज अपडेट
Enable
x
Notification Settings X
Time Settings
Done
Clear Notification X
Do you want to clear all the notifications from your inbox?
Settings X
X