• search
राजस्थान न्यूज़ के लिए
नोटिफिकेशन ऑन करें  

साथी कांस्टेबल की मौत के बाद पुलिसकर्मियों ने WhatsApp ग्रुप के जरिए 7 लाख रुपए जुटाकर परिजनों को सौंंपे

|
Google Oneindia News

उदयपुर, 5 जून। राजस्थान पुलिस के कांस्टेबल की मौत के उसके साथियों ने जो कदम उठाया उससे पीड़ित परिवार को आर्थिक संबल मिला है। साथी पुलिसकर्मियों के इस फैसले की हर तरफ सराहना हो रही है।

After death of constable policemen handed over Rs 7 lakh to family members through WhatsApp group

दरअसल, नरेश यादव राजस्थान के उदयपुर जिले के ओगणा पुलिस थाने में कांस्टेबल पद पर कार्यरत थे। 27 मई को वह मोटरसाइकिल पर सवार होकर अपने घर जा रहे थे। रास्ते में मोटरसाइकिल ने बाइक को टक्कर मार दी, जिससे उनकी मौत हो गई।

इसके बाद कांस्टेबल साथी सुनील बिश्नोई समेत अन्य पुलिसकर्मियों ने यादव के परिवार की आर्थिक सहायता करने की ठानी और एक व्हाट्सएप ग्रुप बनाया गया।

Riya Chaudhary : 2 सरकारी नौकरी छोड़कर चुनी 'खाकी', फिर बन गईं राजस्थान पुलिस की लेडी सिंघमRiya Chaudhary : 2 सरकारी नौकरी छोड़कर चुनी 'खाकी', फिर बन गईं राजस्थान पुलिस की लेडी सिंघम

देखते ही देखते इस ग्रुप में मदद करने वालों की संख्या बढ़ गई। लोगों ने स्वच्छा से 500 रुपए से लेकर 51000 तक का आर्थिक सहयोग किया। महज एक सप्ताह में पुलिसकर्मियों ने इस मुहिम के तहत करीब सात लाख रुपए इकट्ठे कर लिए और वो रुपए नरेश यादव के परिजनों को सौंप दिए।

English summary
After death of constable policemen handed over Rs 7 lakh to family members through WhatsApp group
देश-दुनिया की ताज़ा ख़बरों से अपडेट रहने के लिए Oneindia Hindi के फेसबुक पेज को लाइक करें
For Daily Alerts
तुरंत पाएं न्यूज अपडेट
Enable
x
Notification Settings X
Time Settings
Done
Clear Notification X
Do you want to clear all the notifications from your inbox?
Settings X
X