• search
राजस्थान न्यूज़ के लिए
नोटिफिकेशन ऑन करें  

डूंगरपुर में गलत मैसेज वायरल होने पर 200 किसान कृषि विज्ञान केंद्र से लूट ले गए प्याज की उन्नत पौध

|

डूंगरपुर। राजस्थान के डूंगरपुर में अनोखी चोरी का मामला सामने आया है। इसके बाद एक साथ 200 किसानों के खिलाफ रिपोर्ट दर्ज करवाई गई है। ये किसान सोशल मीडिया पर वायरल हुए एक गलत मैसेज के बाद प्याज की उन्नत किस्म की पौध लूट ले गए।

सिर्फ 15-20 किसानों को बुलाया था

सिर्फ 15-20 किसानों को बुलाया था

दरअसल, यूं कि डूंगरपुर कृषि विज्ञान केंद्र के फलोज फार्म हाउस पर कृषि ​वैज्ञानिकों ने एक लाख रुपया खर्च करके तीन बीघा में प्याज की उन्नत किस्म की पौध तैयार की है। यह पौध किसानों को रियायती दर पर उपलब्ध करवाई जानी थी। गुरुवार सुबह साढ़े नौ बजे 15-20 किसानों को फार्म पर हाउस पर रियायती दर पर प्याज की पौध लेने के लिए बुलाया गया था। इससे पहले बुधवार को किसी ने सोशल मीडिया पर मैसेज वायरल करवा दिया था कि गुरुवार को केवीके के फार्म हाउस पर हाईब्रीड प्याज की पाैध निशुल्क बांटी जाएगी।

 कृषि विज्ञान केंद्र फलोज के फार्म हाउस पर पहुंचे किसान

कृषि विज्ञान केंद्र फलोज के फार्म हाउस पर पहुंचे किसान

ऐसे में गुरुवार सुबह अचानक किसानों की भीड़ कृषि विज्ञान केंद्र फलोज के फार्म हाउस पर पहुंच गई। एक साथ इतने अधिक किसान आए कि कृषि विज्ञान केंद्र के वैज्ञानिक भी हैरत में पड़ गए और उनको काबू में नहीं कर सके। किसानों में फार्म हाउस पर खड़ी प्याज की उन्नत किस्म की पौध लूटकर ले जाने की होड़ मच गई। भीड़ अचानक बढ़ी तो केवीके का मुख्य दरवाजा बंद कर दिया गया तो कई महिला-पुरुष किसान दीवार फांदकर भी फार्म हाउस में पहुंच गए और जिसके जितने पौध हाथ लगी वो उतनी लूट ले गया।

 दोवड़ा पुलिस थाने में ​दी रिपोर्ट

दोवड़ा पुलिस थाने में ​दी रिपोर्ट

मीडिया से बातचीत में कृषि विज्ञान केन्द्र फलोज के प्रभारी डॉ. सीएम बलाई ने बताया कि डूंगरपुर जिले के दोवड़ा पुलिस थाने में 200 अज्ञात किसानों के खिलाफ प्याज की पौध लूट ले जाने की रिपोर्ट दी है। पूरी घटना सोशल मीडिया पर गलत मैसेज वायरल होने की वजह से हुई।

डूंगरपुर केवीके वाले उन्नत प्याज की खासियत

डूंगरपुर केवीके वाले उन्नत प्याज की खासियत

प्याज की यह पौध एएफएलआर वैरायटी की उन्नत किस्म की है। कोविड-19 के चलते उनको प्याज का बीज नहीं मिल रहा था। मुख्यालय के वरिष्ठ अधिकारियों की एप्राेच से काेटा से यह बीज मिला। इस प्याज की खासियत है कि इसमें डंठल नहीं आता है तथा पैदावार भी अच्छी होती है। स्वाद तो लजीज है ही, साथ ही बाजार में अच्छा भाव मिलता है।

पार्थीभाई चौधरी: वो पुलिसवाला जिनके लिए आलू बने 'सोना', सालाना कमाई 3.3 करोड़, तोड़ा विश्व रिकॉर्ड

देश-दुनिया की ताज़ा ख़बरों से अपडेट रहने के लिए Oneindia Hindi के फेसबुक पेज को लाइक करें
English summary
200 farmers robbed onion seedlings from the Krishi Vigyan Kendra Dungarpur
For Daily Alerts
तुरंत पाएं न्यूज अपडेट
Enable
x
Notification Settings X
Time Settings
Done
Clear Notification X
Do you want to clear all the notifications from your inbox?
Settings X
X