• search
रायपुर न्यूज़ के लिए
नोटिफिकेशन ऑन करें  

छत्तीसगढ़: MLA अरुण वोरा ने 70 हजार खर्चे वाली कार रखने से किया मना, बोले- पुरानी ही ठीक है

|

दुर्ग। छत्तीसगढ़ में दुर्ग के विधायक अरुण वोरा ने कुछ ऐसा किया है, जिससे सुर्खियों में आ गए हैं। हाल ही विधायक ने एक लग्जरी कार को किराए इस्तेमाल करना चाहा, जिसका महंगा किराया बताया गया तो विधायक ने वो कार ली ही नहीं। प्रति माह 70 हजार रुपए के खर्चे की बात सुनकर वोरा कार से नीचे उतर गए। कहने लगे कि, पुरानी ही ठीक है।

    छत्तीसगढ़: MLA अरुण वोरा ने 70 हजार खर्चे वाली कार रखने से किया मना, बोले- पुरानी ही ठीक है
    वोरा बोले- बेवजह पैसों की बर्बादी न की जाए

    वोरा बोले- बेवजह पैसों की बर्बादी न की जाए

    यहां विधायक वोरा द्वारा महंगे किराए की कार इस्तेमाल करने से मना कर देना वाकई चर्चा का विषय है। क्योंकि, ऐसा होता रहा है कि, राजनीति में लोग सरकारी खजाने का दुरुपयोग ही करते हैं। लेकिन वोरा ने महंगी किराये की कार में बैठने से मना कर दिया और कहा कि वे पुरानी कार में ही चलेंगे। इतना ही नहीं, उन्होंने अफसरों को भी नसीहत दी कि बेवजह पैसों की बर्बादी न की जाए।

    छत्तीसगढ़ वेयर हाउसिंग कॉर्पोरेशन का अध्यक्ष बने

    छत्तीसगढ़ वेयर हाउसिंग कॉर्पोरेशन का अध्यक्ष बने

    बता दें कि, विधायक अरुण वोरा को छत्तीसगढ़ वेयर हाउसिंग कॉर्पोरेशन का अध्यक्ष नियुक्त किया गया है। पिछले दिनों अरुण वोरा रायपुर स्थित छत्तीसगढ़ वेयर हाउसिंग कॉर्पोरेशन कार्यालय में अपनी जिम्मेदारी ग्रहण करने पहुंचे।

    हार्दिक पटेल का राजनीतिक सफर: कैसे पाटीदार नेता बनकर सत्ताधारी दल की नींद उड़ाई, कांग्रेस ने क्यों बनाया गुजरात का कार्यकारी अध्यक्ष

    कार्यभार करने के दौरान हुई यह घटना

    कार्यभार करने के दौरान हुई यह घटना

    जहां कार्यभार संभालने के बाद जब वह बाहर निकले तो पोर्च में कार खड़ी हुई थी। अधिकारियों ने अध्यक्ष बोरा से कहा कि यह गाड़ी आपके लिए होगी। तब कार में बैठते ही वोरा बोले कि, भाई इसकी ऊंचाई थोड़ी अधिक लग रही है। इतना सुनते ही मौके पर मौजूद अफसरों ने अरुण वोरा से कहा कि साहब, आप नीचे उतरिये और पांच मिनट वेट कीजिए।

    ऐसे किया महंगी कार लेने से इनकार

    ऐसे किया महंगी कार लेने से इनकार

    पांच मिनट बाद पोर्च में और एक कार आ गई। वो एक लक्जरी कार थी। जिसके बारे में बताते हुए अधिकारियों ने वोरा से कहा कि यह कार आपके लिए मंगाई गई है। कार में बैठते हुए वोरा ने पूछा कि यह गाड़ी किसकी है। तो अधिकारी बोले कि, यह किराये की गाड़ी है, जिसके ड्राइवर का वेतन, डीजल सहित हर महीने लगभग 70 हजार रुपये किराया होगा।

    यह सुनते ही वोरा कार से उतर गए और कहने लगे कि, इससे अच्छी तो पुरानी कार है। इसके बाद वोरा ने किराये पर मंगाई कार को तत्काल लौटाने को कहा और विभाग की ढाई साल पुरानी कार में जाकर वापस बैठ गए।

    पूर्व मुख्यमंत्री के बेटे हैं वोरा

    पूर्व मुख्यमंत्री के बेटे हैं वोरा

    बता दें कि, अरुण वोरा अविभाजित मध्यप्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री मोतीलाल वोरा के बेटे हैं। बतौर छत्तीसगढ़ वेयर हाउसिंग कॉर्पोरेशन रायपुर के अध्यक्ष अरुण वोरा का कहना है कि, हम फिजूल खर्च में कटौती करेंगे। उन्होंने कहा कि, हमारे विभाग में जो भी फिजूल खर्च किया जा रहा है, वो कम कर दिया जाएगा। फिर पैसे का उपयोग विभाग के कर्मचारियों की सुविधाएं बढ़ाने पर किया जाएगा।

    देश-दुनिया की ताज़ा ख़बरों से अपडेट रहने के लिए Oneindia Hindi के फेसबुक पेज को लाइक करें
    English summary
    Durg MLA Arun Vora refuse Expansive Rental Car
    For Daily Alerts
    तुरंत पाएं न्यूज अपडेट
    Enable
    x
    Notification Settings X
    Time Settings
    Done
    Clear Notification X
    Do you want to clear all the notifications from your inbox?
    Settings X
    X