• search
पंजाब न्यूज़ के लिए
नोटिफिकेशन ऑन करें  

Video: पढ़ाई छोड़कर 10 साल का वंश सड़कों पर बेचने लगा मोजे, CM ने फोन पर की बात और कहा...

|

लुधियाना, मई 08: कहते हैं ना गरीबी और जिम्मेदारियों का बोझ समय से पहले पैरों को मजबूत कर देती है। जिन हाथों में किताब होनी चाहिए वो अपने परिवार की बागडोर संभाल लेते हैं। ऐसा ही कुछ हुआ है पंजाब के लुधियाना में सड़कों पर मोजे बेचते वाले 10 साल के बच्चे के साथ, जिसका एक वीडियो शुक्रवार को सोशल मीडिया पर वायरल हो गया। जिसके बाद अब खुद मुख्यमंत्री कैप्टन अमरिंदर सिंह बच्चे की मदद के लिए आगे आए हैं। उन्होंने वीडियो कॉल कर बच्चे की पढ़ाई और परिवार के लिए आर्थिक सहायता की घोषणा की है।

नन्हें हाथों ने संभाली परिवार की बागडोर

नन्हें हाथों ने संभाली परिवार की बागडोर

पंजाब के हैबोवाल इलाके के रहने वाले 10 साल के वंश और उसके परिवार को गरीबी ने इस तरह से जकड़ लिया कि दो वक्त की रोटी के लिए वो सड़कों पर घूम-घूम कर मोजे बेचने को मजबूर हो गया। अपने परिवार की मदद करने के लिए लुधियाना की सड़कों पर वो अपने पिता के साथ जुराब बेचने लग गया, जिसका वीडियो एक वीडियो इंटरनेट पर देखते ही देखते वायरल हो गया। अब खुद मुख्यमंत्री अमरिंदर सिंह ने वंश सिंह की पढ़ाई का जिम्मा लिया है।

बच्चे की मदद के लिए कैप्टन आएं आगे

बच्चे की मदद के लिए कैप्टन आएं आगे

10 साल के वंश ने वीडियो में बताया कि उसने स्कूल की पढ़ाई बंद कर दी और अपने परिवार को पालन के लिए यह काम शुरू कर दिया। उसने अपने वीडियो को शूट करने वाले ग्राहक से 50 रुपये एक्स्ट्रा लेने से भी साफ इनकार कर दिया। अब मुख्यमंत्री ने बच्चे के भविष्य को देखते हुए जिला प्रशासन की ओर से वंश सिंह (10) को फिर से अपने स्कूल में एडिमिशन देने की बात कही हैं। वहीं इसके अलावा वंश और उसके परिवार की आर्थिक स्थिति को देखते हुए राज्य सरकार ने 2 लाख रुपये की तुंरत सहायता देने का भी ऐलान किया है।

बच्चे के स्वाभिमान से प्रभावित हुए सीएम

बच्चे के स्वाभिमान से प्रभावित हुए सीएम

मुख्यमंत्री कैप्टन अमरिंदर सिंह ने लुधियाना डिप्टी कमिश्नर को यह सुनिश्चित करने का निर्देश दिया कि वंश अपने स्कूल में फिर से शामिल होगा। वहीं उसकी पढ़ाई के लिए सारा खर्च राज्य सरकार की ओर से वहन किया जाएगा। खुद सीएम ने उससे बात करते हुए फिर से स्कूल जाने के लिए कहा है। साथ ही 50 रुपए ज्यादा लेेन से इनकार करने वाली बात परअमरिंदर सिंह ने कहा कि बच्चे के स्वाभिमान ने उन्हें काफी प्रभावित किया है।

बच्चे की खुद्दारी की हर तरफ रही तारीफ

बच्चे की खुद्दारी की हर तरफ रही तारीफ

जानकारी के मुताबिकवंश के पिता परमजीत भी मौजे बेचते हैं और माता रानी गृहिणी हैं। वंश की तीन बहनें और एक बड़ा भाई है और परिवार हैबोवाल इलाके में किराए के मकान में रहता है।वंश का वीडियो भी सोशल मीडिया पर तेजी से वायरल हो रहा है, जिसको लाखों लोग ने अब तक देखा हैं। लोग उसकी ईमानदारी और खुद्दारी की तारीफ करते नहीं थक रहे हैं।

कोरोना संकट में 'भाईजान' ने फिर बढ़ाया मदद का हाथ, 25 हजार लोगों के बैंक अकाउंट में डालेंगे पैसेकोरोना संकट में 'भाईजान' ने फिर बढ़ाया मदद का हाथ, 25 हजार लोगों के बैंक अकाउंट में डालेंगे पैसे

देखें मुख्यमंत्री अमरिंदर सिंह की ओर से शेयर किया गया 10 साल के वंश का वीडियो

English summary
Punjab CM Amarinder Singh help ludhiana 10 year old boy Vansh Singh rejoin school
देश-दुनिया की ताज़ा ख़बरों से अपडेट रहने के लिए Oneindia Hindi के फेसबुक पेज को लाइक करें
For Daily Alerts
तुरंत पाएं न्यूज अपडेट
Enable
x
Notification Settings X
Time Settings
Done
Clear Notification X
Do you want to clear all the notifications from your inbox?
Settings X
X