• search
पंजाब न्यूज़ के लिए
नोटिफिकेशन ऑन करें  

पंजाब: ‘मोड़ बम धमाका’ मामले पर गरमाई सियासत, डिप्टी CM रंधावा पर AAP नेता ने लगाए ये गंभीर आरोप

|
Google Oneindia News

चंडीगढ़, अक्टूबर 23, 2021। पंजाब में विधानसभा चुनाव के मद्देनज़र सभी सियासी पार्टियां अलग-अलग मामलो को चुनावी मुद्दा बनाने में जुटी हुई हैं। वहीं अब पंजाब मोड़ बम धमाका सियासी मुद्दा बना हुआ है। पंजाब के डिप्टी सीएम सुखजिंदर रंधावा बठिंडा मोड़ मंडी ब्लास्ट मामले पर कैप्टन अमरिंदर सिंह पर निशाना साधते हुए कहा कि उन्होंने धमाका मामले की जांच ठीक से नहीं करवाई इसलिए जांच रिपोर्ट सामने नहीं लाई गई। डिप्टी सीएम रंधावा को इस बयान पर आम आदमी पार्टी वरिष्ठ नेता हरपाल सिंह चीमा ने उपमुखमंत्री पर ही सवाल दाग दिया। उन्होंने कहा कि बयानबाज़ी करने बजाए वह इस मामले में क्या कार्रवाई कर रहे हैं वह बताएं। वह पंजाब के उपमुख्यमंत्री के साथ-साथ गृह मंत्री भी हैं। वह आज इस मुद्दे को उठा रहे हैं आम आदमी पार्टी शुरू से ही इस मुद्दे के चांज की बात कर रही है।

डिप्टी CM रंधावा पर गंभीर आरोप

डिप्टी CM रंधावा पर गंभीर आरोप

आम आदमी पार्टी के नेता हरपाल सिंह चीमा ने आरोप लगाते हुए कहा कि 2017 में आम आदमी पार्टी को सत्ता मंव आने से रोकने के लिए मतदान से ठीक चार दिन पहले बम धमाका करवाया गया। कांग्रेस, शिरोमणि अकाली दल औऱ भारतीय जनता पार्टी ने मोड़ बम धमाके की साजिश रची थी जिसमें तीन बच्चों समेत सात लोगों की मौत हो गयी और करीब चौबीस लोग घायल हुए थे। नेता प्रतिपक्ष हरपाल सिंह चीमा ने आरोप लगाया कि आम आदमी पार्टी को बदनाम करने और मतदाताओं को डराने के लिए विधानसभा चुनाव 2017 के दौरान मोड़ में अकाली दल बादल, भारतीय जनता पार्टी और कैप्टन अमरिंदर सिंह के मिलकर बम धमाका करवाया। उन्होंने कहा कि सुखजिंदर सिंह रंधावा आज गृह मंत्री होते हुए कांग्रेस के पूर्व मुख्यमंत्री कैप्टन अमरिंदर सिंह पर मामले पर कार्रवाई नहीं करने का आरोप लगा रहे हैं।

कैप्टन के क़रीबी भी रहे हैं रंधावा

कैप्टन के क़रीबी भी रहे हैं रंधावा

ख़ुद भी कैप्टन अमरिंदर सिंह की कैबिनेट में शामिल थे और उनके क़रीबी भी रह चुके हैं। बम धमाके के मुद्दे पर उस सुखजिंदर सिंह रंधावा ने बात क्यों नहीं की। उन्होंने कहा कि सभी जानते हैं कि कैप्टन अमरिंदर सिंह इस बम धमाके की जांच नहीं करवाना चाहते थे। चीमा ने डिप्टी सीएम रंधावा से सवाल करते हुए कहा कि बतौर गृह मंत्री रंधावा बताएं कि वह कितने दिनों में मामले की निष्पक्ष जांच करवाएंगे। सभी दोषियों को सजा और पीड़ितों को इंसाफ दिलवाएंगे। उन्होंने कहा कि मोड़ बम धमाके की जांच नहीं करवाने के लिए पूरी कांग्रेस पार्टी और कांग्रेस सरकार के मंत्री भी जिम्मेदार हैं। पंजाब में हुए बम धमाकों और हथियार पकड़े जाने के मुद्दों पर कांग्रेस ने कभी कोई कार्रवाई नहीं की है।

'सत्ता पाने के लिए मुद्दे पैदा करती है कांग्रेस'

'सत्ता पाने के लिए मुद्दे पैदा करती है कांग्रेस'

आम आदमी पार्टी के नेता हरपाल सिंह चीमा ने कहा कि सत्ता पर काबिज होने के लिए कांग्रेस मुद्दे पैदा करना कांग्रेस का इतिहास रहा है। इन्हीं मुद्दों के नाम पर लोगों को डरा धमका कर या लालच देकर वोट हासिल करती है। उन्होंने कहा कि कांग्रेस, भाजपा और शिरोमणि अकाली दल सत्ता पाने के लिए कोई भी हत्थकंडा अपना सकते हैं यह मोड़ बम धमाके से साफ ज़ाहिर होता है। मुद्दा उठाकर सत्ता पर क़ाबिज़ हो जाते हैं लेकिन सत्ता पाते ही मुद्दों पर चुप्पी साध लेते हैं। चीमा ने कहा कि मोड में धमाका एक विशेष वर्ग में आतंकवाद का डर पैदा करने के लिए करवाया गया। कांग्रेस ने इसी वजह से सरकार में होने के बावजूद इन मुद्दों की वक़्त पर जांच नहीं करवाई। वहीं उन्होंन कहा कि शिरोमणि अकाली दल, भारतीय जनता पार्टी, कैप्टन अमरिंदर सिंह और कांग्रेस चुनाव से पहले दोबारा पंजाब में माहौल ख़राब करने की कोशिश कर रहे हैं।


ये भी पढ़ें: पंजाब में बदले सियासी समीकरण, सत्ता पक्ष के साथ सुर में सुर मिला सकते हैं विपक्षी दल

English summary
'Mor bomb blast' case, AAP leader made serious allegations against Deputy CM Randhawa
देश-दुनिया की ताज़ा ख़बरों से अपडेट रहने के लिए Oneindia Hindi के फेसबुक पेज को लाइक करें
For Daily Alerts
तुरंत पाएं न्यूज अपडेट
Enable
x
Notification Settings X
Time Settings
Done
Clear Notification X
Do you want to clear all the notifications from your inbox?
Settings X
X