• search
पंजाब न्यूज़ के लिए
नोटिफिकेशन ऑन करें  

पंजाब: कृषि मंत्री रणदीप सिंह नाभा ने केजरीवाल पर साधा निशाना, दी ये नसीहत

|
Google Oneindia News

चंडीगढ़, 16 जनवरी 2022। विधानसभा चुनावों की तारीखों का एलान होते ही पंजाब में कांग्रेस नेता रोज़ाना वर्चुअल तौर पर पत्रकारों से रूबरू हो रहे हैं। इसी कड़ी में पंजाब के कृषि मंत्री रणदीप सिंह नाभा ने डिजिटल प्रेसवार्ता की। किसानों के ऊपर पराली जलाकर दिल्ली में प्रदूषण फैलाने को लेकर दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल पर उन्हों निशाना साधा। नाभा ने पत्रकारों से रूबरू होते हुए कहा कि पूरे देश में पंजाब को पराली प्रबंधन में पहला नंबर हासिल हुआ। ये उन लोगों के लिए करारा जवाब है। जो पंजाब को पराली प्रदूषण का हर साल से आरोप लगाते रहे है। उन्होंने कहा कि केजरीवाल ने पराली जलाने को लेकर कई बार किसानों को बदनाम करने का काम करते है।

रणदीप सिंह नाभा ने साधा निशाना

रणदीप सिंह नाभा ने साधा निशाना

कृषि मंत्री रणदीप सिंह नाभा ने कहा कि केजरीवाल सैटेलाइट इमेजेस के जरिए बार-बार यह साबित करने की कोशिश की हैं। इसके अलावा भी केंद्र सरकार की कई रिपोर्टों को भी सार्वजनिक कर चुके कि पंजाब में जलाई जाने वाली पराली से दिल्ली में प्रदूषण बढ़ रहा है। जबकि पंजाब सरकार के प्रयासों की बदौलत आज आसमान साफ है।खुशहाली, तरक्की की बयार बह रही है, लोग अमन चैन की सांस ले रहे है। उन्होंने कहा कि कांग्रेस सरकार ने पराली प्रदूषण का खात्मा करने में कामयाब रही। सरकार के प्रयासों का असर जमीनी स्तर पर हो रहा है। यही कारण है कि पंजाब सरकार को पूरे देश में फसल अवशेष प्रबंधन में पहला स्थान मिला है।पंजाब सरकार ने पराली के प्रबंधन के लिए सहकारी (पीएसीएस), ग्राम पंचायतों, एफपीओ, रजिस्टर्ड किसान समूहों और व्यक्तिगत किसानों को 86000 से अधिक मशीनें प्रदान की हैं।

कृषि विभाग की उपलब्धियों का किया ज़िक्र

कृषि विभाग की उपलब्धियों का किया ज़िक्र

कांग्रेस सरकार की 111 दिन में कृषि विभाग की उपलब्धियों ज़िक्र करते हुए कहा कि उन्होंने क्रिकेट के टी-20 मैच के आखिरी ओवर में जिस तरह से चौके और छक्के लगाए जाते है उसी तरह उन्होने अपने कृषि मंत्रालय में काम किया। किसान आंदोलन में शहीद हुए परिवारों को 5-5 लाख का मुआवजे के साथ 407 परिवारों के लोगो को नौकरियां दी। उन्होंने कहा कि कृषि के तीन काले कानूनो को ख़त्म कराने में पंजाब सरकार का भी अहम रोल है। कांग्रेस सरकार ने इस खेती विरोधी कानून को विधानसभा में रद्द किया था। साथी आंदोलन में किसानों का पूरा समर्थन किया। जिसके चलते मोदी सरकार को झुकना पड़ा और काले कानून वापिस हुए। नाभा ने कहा कि पूर्व प्रधानमंत्री डॉ मनमोहन सिंह की यूपीए सरकार ने किसानों के 75000 करोड़ के कर्जे को माफ किया था। जो ये दर्शाता है कि कांग्रेस हमेशा किसानों की प्राथमिकताओं को सबसे ऊपर रखती है।

कांग्रेस दोबारा सत्ता में आ रही है- नाभा

कांग्रेस दोबारा सत्ता में आ रही है- नाभा

अपने कार्यकाल के ज़िक्र करते हुए उन्होंने कहा कि पहली बार पंजाब की कांग्रेस सरकार ने कृषि को मद्देनजर रखते हुए एक विज़न डॉक्यूमेंट बनाया जिसके तहत पंजाब को छह जोन में बांटकर खेती को और मजबूत करने का काम किया गया। रणदीप नाभा ने कहा कि जो वादे पंजाब की कांग्रेस सरकार ने किया उनको बखूबी निभाया। बिजली की सस्ती दरों पर अपना वक्तव्य रखते हुए उन्होंने कहा कि आज पंजाब का किसान और आम जनमानस इससे खुश है,क्योंकि 2 किलोवाट बिजली माफी से तकरीबन 20 लाख परिवारों को इससे फायदा हुआ है। तथा 7 किलोवाट बिजली खपत के दर में 3 रुपये की कटौती मध्यम वर्ग परिवार को राहत का काम कर रही है। उन्होंने कहा कि जो सोलर बिजली किसी वक्त महंगी थी वो आज 2 रुपये 34 पैसे प्रति यूनिट है। रणदीप सिंह नाभा ने कहा कि आज पूरे पंजाब में कांग्रेस सरकार का काम बोल रहा है और पार्टी दोबारा सत्ता में आने जा रही है।


ये भी पढ़ें: पंजाब: चुनावी सर्वे के बाद भारतीय जनता पार्टी ने बदली अपनी रणनीति, अब ये है चुनावी प्लान

Comments
English summary
Agriculture Minister Randeep Singh Nabha hit a mark on Kejriwal
देश-दुनिया की ताज़ा ख़बरों से अपडेट रहने के लिए Oneindia Hindi के फेसबुक पेज को लाइक करें
For Daily Alerts
तुरंत पाएं न्यूज अपडेट
Enable
x
Notification Settings X
Time Settings
Done
Clear Notification X
Do you want to clear all the notifications from your inbox?
Settings X
X