• search
पीलीभीत न्यूज़ के लिए
नोटिफिकेशन ऑन करें  

पीलीभीत: सरकारी डाकघर को बेच भूमाफियाओं ने रातोंरात प्लॉट में किया तब्दील, एक साल बाद हुआ खुलासा

|

पीलीभीत। उत्तर प्रदेश के पीलीभीत जिले में धोखाधड़ी और फर्जीवाड़े का बेहद हैरान कर देने वाला मामला सामने आया है। यहां एक नटवरलाल ने सरकारी डाकखाने को ही बेच दिया। यही नहीं रातोंरात डाकखाने की बिल्डिंग गायब कर उसपर हमला कब्जा कर लिया। इस घटना की पुलिस और प्रशासन को भनक तक नहीं लगी। एक साल बाद लेखपाल की रिपोर्ट में खुलासा हुआ तो 17 लोगों के खिलाफ गैंगस्टर एक्ट लगाया गया और दो लोगों को भूमाफिया घोषित किया गया है। डाकघर ने अपनी भूमि पर दोबारा कब्जा कर बाउंड्री करवा ली है।

भूमाफियाओं ने बेच दी डाक घर की इमारत

भूमाफियाओं ने बेच दी डाक घर की इमारत

मामला पीलीभीत के सदर कोतवाली क्षेत्र के मेन बाजार का है। जेपी रोड पर सन् 1860 बने सिटी पोस्ट ऑफिस की हालत जर्जर हो गई थी। बिल्डिंग की हालत देखते हुए डाकघर ने यहां ताला लगा दिया था और शहर में दूसरी जगह डाकखाना खोल लिया। इसके बाद सिटी पोस्ट ऑफिस की सरकारी इमारत खाली पड़ी थी। भूमाफियाओं और जालसाजों ने मिलकर दिसंबर 2018 में इस इमारत को ही बेच दिया।

लेखपाल ने प्रशासन को भेजी रिपोर्ट

लेखपाल ने प्रशासन को भेजी रिपोर्ट

क्षेत्रीय लेखपाल को जब इस मामले की जानकारी हुई तो उसने जिला प्रशासन को रिपोर्ट भेजी। लेखपाल ने बताया कि इस बिल्डिंग को बेचा गया है और सरकारी डाकखाने की बिल्डिंग पर अवैध कब्जा हो सकता है। आरोप लगाया गया कि उस समय किसी अधिकारी ने घ्यान नहीं दिया, क्योंकि उस समय के एक बड़े अधिकारी के लखनऊ में रह रहे भांजे पारसमणि पांडे व पीलीभीत की नगर पंचायत के भाजपा चेयरमैन ममता गुप्ता के बेटे शिवा गुप्ता ने यह बिल्डिंग फर्जी रूप से खरीदी थी। बताया गया कि आरोपियों ने एक साल पहले रात के अंधेरे में जेसीबी से पूरी इमारत गिराई और मलबा हटाकर उसपर कब्जा कर लिया। सुबह तक इमारत एक खाली प्लाट में तब्दील हो गई और एक टेंट में भूमाफिया बैठे मिले।

17 लोगों के खिलाफ गैंगस्टर एक्ट

17 लोगों के खिलाफ गैंगस्टर एक्ट

डाक विभाग ने इस मामले में 13 लोगों के खिलाफ मुकदमा दर्ज कराया है, लेकिन आरोप है कि पुलिस ने जांच में खेल कर हल्की धाराएं लगाकर चार्जशीट दाखिल कर दी। कुछ महीने पहले डीएम और एसपी का ट्रांसफर हो गया, जिसके बाद नए डीएम और एसपी ने दोबारा विवेचना कराई और 17 लोगों के खिलाफ चार्जशीट लगवाई और सभी पर गैंगस्टर लगा दिया।नगर पंचायत जहानाबाद की चेयरमैन ममता गुप्ता के पति दुर्गाचरण अन्ना और पूर्व ब्लाक प्रमुख लोकेश गंगवार को भूमाफिया घोषित कर दिया गया।

सीएम योगी को जान से मारने की धमकी देने वाला नाबालिग हिरासत में, डायल 112 के वाट्सएप पर किया था मैसेजसीएम योगी को जान से मारने की धमकी देने वाला नाबालिग हिरासत में, डायल 112 के वाट्सएप पर किया था मैसेज

English summary
land mafia sold government post office in pilibhit
देश-दुनिया की ताज़ा ख़बरों से अपडेट रहने के लिए Oneindia Hindi के फेसबुक पेज को लाइक करें
For Daily Alerts
तुरंत पाएं न्यूज अपडेट
Enable
x
Notification Settings X
Time Settings
Done
Clear Notification X
Do you want to clear all the notifications from your inbox?
Settings X
X