• search
क्विक अलर्ट के लिए
अभी सब्सक्राइव करें  
क्विक अलर्ट के लिए
नोटिफिकेशन ऑन करें  
For Daily Alerts

पाकिस्‍तान: पीएम इमरान खान ने इजरायल को पहचान देने से किया इनकार, कश्‍मीर का दिया वास्‍ता

|

इस्‍लामाबाद। पिछले दिनों अमेरिका की मदद से यूनाइटेड अरब अमीरात (यूएई) और इजरायल के बीच एक एतिहासिक समझौता हुआ। दोनों देश अपनी पुरानी दुश्‍मनी को भुलाते हुए एक साथ आ गए। यूएई खाड़ी देशों में पहला देश बना जिसने इजरायल को मान्‍यता दी है। अब पाकिस्‍तान ने इस समझौते पर अपना प्रतिक्रिया दी है। पाकिस्‍तान के प्रधानमंत्री इमरान खान ने स्‍पष्‍ट तौर पर कह दिया है कि उनका देश कभी भी इजरायल को मान्‍यता नहीं देगा। इमरान ने यह बात एक प्राइवेट चैनल को दिए इंटरव्‍यू में कही है।

imran-khan

यह भी पढ़ें-सऊदी से रिश्‍तों पर पाकिस्‍तानी पीएम इमरान ने दी सफाईयह भी पढ़ें-सऊदी से रिश्‍तों पर पाकिस्‍तानी पीएम इमरान ने दी सफाई

फिलीस्‍तीन के लोगों को इंसाफ दिलाएंगे इमरान

पीएम इमरान ने कहा है कि जब तक फिलीस्‍तीन के लोगों को स्‍वीकार नहीं किया जाएगा तब तक उनका देश इजरायल के अस्तित्‍व को मानने से इनकार करता रहेगा। दुनिया न्‍यूज को मंगलवार को इमरान ने इंटरव्‍यू दिया और पहली बार अपने देश का रुख इस समझौते पर स्‍पष्‍ट किया है। इमरान ने कहा, 'कोई देश कुछ भी करता रहे, लेकिन हमारी स्थिति पूरी तरह से साफ है। और हमारी इस स्थिति के बारे में कैद-ए-आजम मोहम्‍मद अली जिन्‍ना की तरफ से सन् 1948 में भी बताया जा चुका है कि हम तब तक इजरायल को स्‍वीकार नहीं कर सकते हैं जब तक कि फिलीस्‍तीन के लोगों को उनके अधिकार नहीं मिल जाते हैं और जब तक वहां कोई समझौता नहीं होता है।' 13 अगस्‍त को यूएई, पहला खाड़ी देश बन गया है जिसने इजरायल को मान्‍यता दी है। वहीं मीडिल ईस्‍ट के दो देश इजिप्‍ट और जॉर्डन पहले ही इजरायल को स्‍वीकार कर चुके हैं। यूएई इजरायल के साथ अपने रिश्‍तों को सामान्‍य करना चाहता है।

अल्‍लाह को क्‍या जवाब देंगे

इमरान ने कहा अगर पाकिस्‍तान इजरायल को स्‍वीकार कर लेता है और फिलीस्‍तीनियों पर अत्‍याचार को नजरअंदाज करता है तो फिर उसे कश्‍मीर भी छोड़ना पड़ेगा। इमरान के मुताबिक पाक ऐसा कभी नहीं चाहता है। इमरान ने कहा, 'अगर आप इजरायल और फिलीस्‍तीन की बात करते हैं तो फिर हमें सोचने की जरूरत है कि क्‍या हम अल्‍लाह को जवाब देने के लायक होंगे अगर हमनें उन लोगों को अकेला छोड़ दिया जिनके साथ नाइंसाफी हो रही है और जिनके अधिकारों को छीना जा रहा है? मेरा जमीर मुझे कभी ऐसा करने की मंजूरी नहीं देगा और न मैं इसे स्‍वीकार कर सकता हूं।' इस्‍लामाबाद में स्थित फिलीस्‍तीन के दूतावास की तरफ से इमरान के इस बयान पर उनका शुक्रिया अदा किया गया है।

English summary
Pakistan will not recognise Israel says PM Imran Khan.
देश-दुनिया की ताज़ा ख़बरों से अपडेट रहने के लिए Oneindia Hindi के फेसबुक पेज को लाइक करें
For Daily Alerts
तुरंत पाएं न्यूज अपडेट
Enable
x
Notification Settings X
Time Settings
Done
Clear Notification X
Do you want to clear all the notifications from your inbox?
Settings X
X