India
  • search
क्विक अलर्ट के लिए
नोटिफिकेशन ऑन करें  
For Daily Alerts
Oneindia App Download

बहुत बुरे संकट में फंसा पाकिस्तान, टेक्सटाइल इंडस्ट्री को किया गया बंद, पेट्रोल की कीमत में भारी इजाफा

|
Google Oneindia News

इस्लामाबाद, जुलाई 01: पाकिस्तान में गैस की आपूर्ति कमी के चलते टेक्सटाइल इंडस्ट्री को बंद कर दिया गया है और पाकिस्तान के लिए ये एक बहुत बड़ा झटका है, क्योंकि टेक्सटाइल इंडस्ट्री पाकिस्तान के लिए 'जीवनदायिनी' मानी जाती है और करीब 2 करोड़ लोग टेक्सटाइल इंडस्ट्री से प्रत्यक्ष या परोक्ष तौर पर जुड़े हुए हैं। लिहाजा, टेक्सटाइल इंडस्ट्री पर ताला लगने के चलते लाखों लोग सीधे तौर पर प्रभावित होंगे।

टेक्सटाइल इंडस्ट्री पर लगा ताला

टेक्सटाइल इंडस्ट्री पर लगा ताला

पाकिस्तान की स्थानीय मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक, पाकिस्तान में गैस की आपूर्ति में कमी के बीच कपड़ा उद्योग ने 1 से 8 जुलाई तक बंद रहने का फैसला किया है। गैस की आपूर्ति ठप होने से पंजाब के उद्योग बुरी तरह से प्रभावित होंगे क्योंकि 70 प्रतिशत कपड़ा मिलें मुख्य रूप से उसी क्षेत्र में स्थित हैं। पाकिस्तानी मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक, गैस आपूर्ति की कमी ने पहले ही कपड़ा उत्पादन को 30 प्रतिशत तक कम कर दिया है और नवीनतम निलंबन से उत्पादन में 50 प्रतिशत तक की कमी आएगी, जिसका असर देश की अर्थव्यवस्था पर पड़ेगा।

गैस किल्लत से उद्योग प्रभावित

गैस किल्लत से उद्योग प्रभावित

रिपोर्ट के मुताबिक, पाकिस्तान के पास अब उद्योगों को सप्लाई करने के लिए गैस नहीं हैं और उद्योगों को बाधित गैस आपूर्ति निर्यात को प्रभावित कर रही है जिससे बेरोजगारी बढ़ने के अलावा अगले वित्तीय वर्ष के लिए 26 बिलियन अमरीकी डालर के लक्ष्य पर भारी असर पड़ेगा। एआरवाई न्यूज ने सूत्रों के हवाले से बताया कि, सुई नॉर्दर्न गैस पाइपलाइन लिमिटेड ने कैप्टिव पावर प्लांट से गैस आपूर्ति के निलंबन के बारे में कपड़ा मिलों को बता दिया है। सूत्रों ने कहा कि बिजली और उर्वरक क्षेत्रों को निर्बाध आपूर्ति जारी रखने के लिए गैस आपूर्ति को निलंबित करने का फैसला लिया गया है।

बड़े आर्थिक नुकसान की चेतावनी

बड़े आर्थिक नुकसान की चेतावनी

ऑल पाकिस्तान टेक्सटाइल मिल्स एसोसिएशन (APTMA) ने गैस निलंबन के कारण देश को बड़े आर्थिक नुकसान की चेतावनी दी और अधिकारियों से आपूर्ति फिर से शुरू करने की मांग की है। इस बीच, पाकिस्तान सरकार ने एक बार फिर पेट्रोल की कीमतों में 14.84 (पाकिस्तानी रुपया)प्रति लीटर की बढ़ोतरी कर दी है, जिससे स्थिति और भी ज्यादा खराब होने की आशंका है। पाकिस्तान के वित्त मंत्रालय ने घोषणा की कि हालिया बढ़ोतरी के बाद, पेट्रोल की नई कीमत 248.74 पीकेआर प्रति लीटर तय की गई है। एआरवाई न्यूज ने बताया कि हाई-स्पीड डीजल की कीमत में भी पीकेआर 13.23 प्रति लीटर की वृद्धि की गई है और नई कीमत पीकेआर 276.54 प्रति लीटर तय की गई है। अधिसूचना में कहा गया है कि मिट्टी के तेल की कीमत में पीकेआर 18.83 और हल्की गति वाले डीजल की कीमत में 18.68 रुपये प्रति लीटर की बढ़ोतरी की गई है। नई कीमत 1 जुलाई को सुबह 12 बजे से लागू हो हो गई है।

पिछली इमरान सरकार की आलोचना

पिछली इमरान सरकार की आलोचना

इस्माइल ने पिछली एमरान सरकार की नीतियों की आलोचना करते हुए कहा कि, उनकी सरकार ने "देश की अर्थव्यवस्था को खराब कर दिया है"। वहीं, स्थानीय मीडिया रिपोर्ट में कहा गया है कि जब से पाकिस्तान में शहबाज शरीफ सरकार सत्ता में आई है, दैनिक आवश्यक चीजें महंगी होती जा रही हैं और पेट्रोल की कीमतों और बिजली की दरों में हालिया बढ़ोतरी के कारण आम आदमी की पहुंच से बाहर हो गई हैं। वहीं, मिफ्ताह ने कहा कि, ईंधन वृद्धि से मुद्रास्फीति और लोगों को परेशानी होने के बावजूद, अंतरराष्ट्रीय बाजार में ईंधन की कीमतों में वृद्धि और एक्सचेंज रेट के बीच यह एक कठिन फैसला है। डॉन की रिपोर्ट के अनुसार, सब्सिडी वाले ईंधन की कीमतें लगातार राजकोषीय घाटे को बढ़ा रही हैं, जिससे देश के विदेशी मुद्रा भंडार पर दबाव बढ़ रहा है। वहीं, वित्तमंत्री ने कहा कि, 'हम केवल ईंधन की कीमतों को तभी नियंत्रित कर पाएंगे, जब हमारी कठिन परिस्थिति खत्म हो जाएगी और अंतर्राष्ट्रीय संकट खत्म होगा'।

पाकिस्तान ने किया अफगानिस्तान से कोयला खरीदने का ऐलान, तालिबान ने फौरन बढ़ा दिए दामपाकिस्तान ने किया अफगानिस्तान से कोयला खरीदने का ऐलान, तालिबान ने फौरन बढ़ा दिए दाम

Comments
English summary
The textile industry has been shut down in Pakistan due to the lack of gas supply.
देश-दुनिया की ताज़ा ख़बरों से अपडेट रहने के लिए Oneindia Hindi के फेसबुक पेज को लाइक करें
For Daily Alerts
तुरंत पाएं न्यूज अपडेट
Enable
x
Notification Settings X
Time Settings
Done
Clear Notification X
Do you want to clear all the notifications from your inbox?
Settings X
X