• search
क्विक अलर्ट के लिए
अभी सब्सक्राइव करें  
क्विक अलर्ट के लिए
नोटिफिकेशन ऑन करें  
For Daily Alerts

पेरिस में FATF की मी‍टिंग, पाकिस्‍तान पर लिया जा सकता है बड़ा फैसला

|

पेरिस। फ्रांस की राजधानी पेरिस में फाइनेंशियल एक्‍शन टास्‍क फोर्स (एफएटीएफ) की एक अहम मीटिंग शुरू हुई है। इस मीटिंग में पाकिस्‍तान पर अहम फैसला लिया जा सकता है। सूत्रों की मानें तो आतंकवाद पर लगाम लगाने में फेल रहे पाकिस्‍तान को ग्रे लिस्‍ट में ही रहने पर संस्‍था फैसला ले सकती है। रविवार से एफएटीएफ की मीटिंग शुरू हुई है।

fatf-pakistan-paris

एक्‍शन लेने में फेल रहा पाकिस्‍तान

इस समय एफएटीएफ के मुखिया जियानमिंग ल्‍यू हैं। संस्‍था की तरफ से बताया गया है कि पाकिस्‍तान ने टेरर फाइनेंसिंग की दिशा में क्‍या प्रगति की है, मीटिंग का यह टॉप एजेंडा होने वाला है। पश्चिमी देशों के राजनयिकों का मानना है कि पाकिस्‍तान को ग्रे लिस्‍ट में ही रखे रहने पर फैसला लिया जा सकता है। पाक ने 27 में से सिर्फ 24 बिंदुओं को पूरी या आशिंक तौर पर लागू किया है। पाक को जून 2018 में ग्रे लिस्‍ट में डाला गया था। पाकिस्‍तान की एक कोर्ट ने हालांकि पिछले दिनों आतंकी संगठन लश्‍कर-ए-तैयबा के फाउंडर और मोस्‍ट वॉन्‍टेड आतंकी हाफिज सईद को टेरर फाइनेंसिंग के दो केसेज में करीब 11 साल की सुनाई है। एफएटीएफ की मीटिंग से पहले इस फैसले के बाद भी विशेषज्ञों का मानना है कि पाक, यूएन की तरफ से घोषित लश्‍कर आतंकी जकी-उर-रहमान लखवी और जैश-ए-मोहम्‍मद के मुखिया मसूद अजहर पर कार्रवाई करने में असफल रहा है। एफएटीएफ की तरफ से जारी बयान में कहा गया है ईरान, पाकिस्‍तान और दूसरे देशों ने जिस तरह से प्रगति की है, उसके बार वित्‍तीय तंत्र को एक प्रकार का खतरा पैदा हो गया है। एफएटीएफ की मीटिंग 16 फरवरी से शुरू हुई है और 19 से 21 फरवरी तक संस्‍था की प्‍लीनरी मीटिंग होगी।

देश-दुनिया की ताज़ा ख़बरों से अपडेट रहने के लिए Oneindia Hindi के फेसबुक पेज को लाइक करें
English summary
Pakistan may stay in FATF grey list as it has failed to take actions against terror funding.
For Daily Alerts
तुरंत पाएं न्यूज अपडेट
Enable
x
Notification Settings X
Time Settings
Done
Clear Notification X
Do you want to clear all the notifications from your inbox?
Settings X
X