• search
क्विक अलर्ट के लिए
अभी सब्सक्राइव करें  
क्विक अलर्ट के लिए
नोटिफिकेशन ऑन करें  
For Daily Alerts

पाकिस्‍तान: PM इमरान ने नवाज को दिया ऑफर, जेल से जाना है तो यह करके दिखाओ

|
Google Oneindia News

इस्‍लामाबाद। पाकिस्‍तान के प्रधानमंत्री इमरान खान ने साफ कर दिया है कि उनकी सरकार किसी भी तरह से पूर्व राष्‍ट्रपति आसिफ अली जरदारी और पूर्व पीएम नवाज शरीफ पर कृपा नहीं दिखाएगी। इमरान ने कहा है कि भ्रष्‍टाचार के आरोपी दोनों नेता अगर जनता के लूटे हुए पैसे को वापस कर देते हैं तो फिर वह देश छोड़कर जा सकते हैं। आपको बता दें कि सोमवार को जरदारी को भ्रष्‍टाचार के केस में गिरफ्तार कर जेल में डाल दिया गया है।

यह भी पढ़ें-'गरीब' पाक को एयरस्‍पेस बंद होने की वजह से अरबों का नुकसान यह भी पढ़ें-'गरीब' पाक को एयरस्‍पेस बंद होने की वजह से अरबों का नुकसान

नवाज के बेटों ने मांगी मदद

नवाज के बेटों ने मांगी मदद

इमरान ने यह दावा भी किया है कि शरीफ के बेटों ने अपने पिता की रिहाई के लिए दो 'मित्र देशों' से मदद मांगी थी। इमरान ने इन दोनों देशों के नाम तो नहीं बताए हैं लेकिन उन्‍होंने कहा कि इन देशों की तरफ से शरीफ को रिहा करने से जुड़ा संदेश दिया गया था। इसके बाद भी उन्‍होंने शरीफ की रिहाई पर बहुत जोर नहीं दिया। इमरान ने बताया कि दोनों देशों ने उन्‍हें साफ कर दिया था कि वे इस मामले में हस्‍तक्षेप नहीं करेंगे।69 वर्षीय शरीफ लाहौर की कोट लखपत जेल में 24 दिसंबर 2018 से बंद हैं। उन्‍हें भ्रष्‍टाचार के केस में सात वर्ष की कैद की सजा सुनाई गई है।

पनामा पेपर्स में दोषी

पनामा पेपर्स में दोषी

नवाज के खिलाफ 28 जुलाई 2017 को सुप्रीम कोर्ट में पनामा पेपर्स मामले में केस दायर किया गया था। शरीफ और उनके परिवार की ओर से कहा गया है कि पूर्व पीएम ने किसी तरह को कोई गलत काम नहीं किया है। परिवार ने शरीफ पर लगे सभी आरोपों को राजनीति की भावना से प्रेरित बताया है। मई में शरीफ की रिव्‍यू पीटिशन सुप्रीम कोर्ट की तरफ से खारिज कर दी गई थी। शरीफ ने स्‍वास्‍थ्‍य कारणों का हवाला देते हुए याचिका दायर की थी।

देश का पैसा लौटा दें और जाएं

देश का पैसा लौटा दें और जाएं

उन्‍होंने कोर्ट में इलाज के लिए विदेश जाने की मंजूरी मांगी थी। इमरान ने कहा है कि जो भी भ्रष्‍टाचार के केस में दोषी हैं, उन्‍हें देश छोड़ने को नहीं मिलेगा। जब तक वह चोरी की रकम नहीं लौटा देते तब तक‍ आजाद नहीं हो सकते हैं। इमरान के मुताबिक देश का पैसा लौटाने के बाद शरीफ और जरदारी जहां चाहें जा सकते हैं। इमरान ने एआरवाई न्‍यूज को दिए इंटरव्‍यू में कहा, 'अगर नवाज इलाज के लिए विदेश जाना चाहते हैं तो उन्‍हें पहले लूटा हुआ पैसा वापस लौटाना होगा और जरदारी को भी यही करना होगा।'

पूर्व राष्‍ट्रपति पर भी आरोप

पूर्व राष्‍ट्रपति पर भी आरोप

पाकिस्‍तान के पूर्व राष्‍ट्रपति को नेशनल अकांउटबिलटी ब्‍यूरो (नैब) की हिरासत में हैं। जरदारी को मिलियन डॉलर के मनी लॉन्ड्रिंग केस में गिरफ्तार किया गया है। जरदारी के साथ उनकी बहन फरयाल तालपुर भी मामले में आरोपी हैं। नैब का कहना है कि जरदारी और उनकी बहन ने कई करोड़ों का हेरफेर झूठे बैंक अकाउंट्स के दम पर किया। इमरान ने अपने इंटरव्‍यू में देश की आर्थिक हालत पर भी बात की। उन्‍होंने कहा कि अर्थव्‍यवस्‍था बेहतर होगी लेकिन इसमें समय लगेगा।

English summary
Prime Minister Imran Khan's message to Nawaz Sharif and Zaradri, pay back looted money and leave Pakistan.
देश-दुनिया की ताज़ा ख़बरों से अपडेट रहने के लिए Oneindia Hindi के फेसबुक पेज को लाइक करें
For Daily Alerts
तुरंत पाएं न्यूज अपडेट
Enable
x
Notification Settings X
Time Settings
Done
Clear Notification X
Do you want to clear all the notifications from your inbox?
Settings X
X