• search
क्विक अलर्ट के लिए
अभी सब्सक्राइव करें  
क्विक अलर्ट के लिए
नोटिफिकेशन ऑन करें  
For Daily Alerts

अयोध्या मामले में सुप्रीम कोर्ट के ऐतिहासिक फैसले पर क्या बोला पाकिस्तान, जानिए

|

इस्लामाबाद। अयोध्या मामले पर सुप्रीम कोर्ट के ऐतिहासिक फैसले के बाद लगातार प्रतिक्रियाएं सामने आ रही हैं। कोर्ट ने अपने फैसले में अयोध्या की विवादित जमीन रामजन्मभूमि न्यास को देने का फैसला किया है, वहीं मुस्लिम पक्ष को अयोध्या में ही अलग जगह पर जमीन देने के लिए कहा है। इस मामले में सर्वोच्च अदालत के फैसले पर देशभर की निगाहें टिकी हुई थीं। वहीं पड़ोसी मुल्क पाकिस्तान की भी नजरें अयोध्या फैसले पर थी। फिलहाल सुप्रीम कोर्ट का फैसला आने के बाद पाकिस्तान के विदेश मंत्री शाह महमूद कुरैशी की प्रतिक्रिया आई है। उन्होंने अयोध्या मामले में फैसले की टाइमिंग पर सवाल खड़े किए हैं। यही नहीं उन्होंने कहा कि इस फैसले से मुस्लिम समुदाय पर और दबाव बढ़ेगा।

'क्या अयोध्या मामले पर फैसले का कुछ दिन इंतजार नहीं हो सकता था?'

'क्या अयोध्या मामले पर फैसले का कुछ दिन इंतजार नहीं हो सकता था?'

पाकिस्‍तान के विदेश मंत्री शाह महमूद कुरैशी ने शनिवार को अयोध्‍या मामले पर फैसले की टाइमिंग पर सवाल उठाए हैं। उन्होंने कहा कि जिस दिन करतारपुर कॉरिडोर का उद्घाटन हो रहा है, उसी समय अयोध्या मामले पर फैसला सुनाए जाने से लोगों का ध्यान बंट गया। डॉन न्यूज टीवी से बातचीत में उन्होंने कहा, 'करतारपुर कॉरिडोर के उद्घाटन जैसे खुशी के मौके पर इस तरह का फैसला असंवेदनशीलता को दिखाता है और हम इससे बहुत दुखी हैं। क्या अयोध्या मामले पर फैसले के लिए कुछ दिनों का इंतजार नहीं किया जा सकता था?'

पाकिस्तान के विदेश मंत्री ने टाइमिंग पर उठाए सवाल

पाकिस्तान के विदेश मंत्री ने टाइमिंग पर उठाए सवाल

जियो न्यूज से बात करते हुए पाकिस्तान के विदेश मंत्री ने कहा, 'मुस्लिम समाज पहले से ही भारत में भारी दबाव में है और अब भारत की सुप्रीम कोर्ट का फैसला उन पर दबाव बढ़ाने वाला होगा।' हालांकि, उन्होंने ये भी कहा कि पाकिस्‍तान की सरकार अभी अयोध्या मामले पर आए फैसले को विस्‍तृत रूप से पढ़ने के बाद ही अपनी प्रतिक्रिया देगा। लेकिन शाह महमूद कुरैशी ये जरूर कहा, 'करतारपुर कॉरिडोर खुलने के खुशी के मौके पर उन्हें भागीदार बनना चाहिए था, दुनिया का ध्‍यान यहां से हटाने की कोशिश नहीं करनी चाहिए थी। अयोध्‍या विवाद एक संवेदनशील मुद्दा है और करतारपुर गलियारा खुलने के इस खुशी के दिन में इसे हिस्‍सा नहीं बनने देना चाहिए था।

'मुस्लिम समुदाय पर बढ़ेगा और दबाव'

'मुस्लिम समुदाय पर बढ़ेगा और दबाव'

बता दें कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने शनिवार को पंजाब के गुरदासपुर में करतारपुर कॉरिडोर का उद्घाटन किया। उन्होंने डेरा बाबा नानक स्थित कॉरिडोर के चेकपोस्‍ट से 550 श्रद्धालुओं का पहला जत्था करतारपुर रवाना किया। इस दौरान पीएम मोदी ने पंजाब के मुख्यमंत्री अमरिंदर सिंह और दूसरे नेताओं के साथ लंगर में भोजन किया। पीएम मोदी ने ट्वीट में कहा कि गुरु नानक देव जी के 550वें प्रकाश-उत्सव से पहले, इंटीग्रेटेड चेकपोस्ट, करतारपुर साहिब कॉरिडोर का खुलना, हम सभी के लिए दोहरी खुशी लेकर आया है। इस कॉरिडोर के बनने के बाद, अब गुरुद्वारा दरबार साहिब के दर्शन आसान हो जाएंगे।

अयोध्या फैसले पर कांग्रेस की पहली प्रतिक्रिया, कहा- हम राम मंदिर निर्माण के पक्ष में हैं

देश-दुनिया की ताज़ा ख़बरों से अपडेट रहने के लिए Oneindia Hindi के फेसबुक पेज को लाइक करें
English summary
Ayodhya Verdict: Pakistan Shah Mehmood Qureshi questioned timing verdict, will put pressure on Muslims
For Daily Alerts
तुरंत पाएं न्यूज अपडेट
Enable
x
Notification Settings X
Time Settings
Done
Clear Notification X
Do you want to clear all the notifications from your inbox?
Settings X
X