• search
क्विक अलर्ट के लिए
नोटिफिकेशन ऑन करें  
For Daily Alerts

बाबा रामदेव की हरकत से खतरे में मोदी का ‘मिशन प्रधानमंत्री’

|

baba ramdev
नयी दिल्ली। योग गुरु बाबा रामदेव यूं तो भारतीय ज नता पार्टी को समर्थन देने की बात करते है। भाजपा के पीएम कैंडिडेट नरेन्द्र मोदी को देश का प्रधानमंत्री बनाने की बात करते है, लेकिन अपनी हरकतों की वजह से बाबा ने मोदी के मिशन पीएम प्लान में खलल डाल दी है।

पीएम मोदी ने कब-कब जवानों के बीच पहुंचकर सबको चौंकाया ?

हाल ही में बाबा ने विवादित बयान दिए और से मोदी को पीएम बनाने की अपनी ही मुहिम को पलीता लगाते दिख रहे हैं। रामदेव के बयानों से बीजेपी असहज महसूस कर रही है और उससे रामदेव के बयानों पर जवाब देते नहीं बन पा रहा है।ना केवल आलोचनाएं हो रही है बल्कि दलित समाज खासकर महिलाएं बाबा के इस बयान से नाराज है। बाबा का बयान ऐसे मौके पर आया जब भाजपा उत्तर प्रदेश में दलितों को अपनी तरफ लुभाने की कोशिश कर रही है। रामदेव के बयान ने इस मुहिम को झटका दिया है। रामदेव के खिलाफ दलितों के गुस्से ने बीजेपी नेताओं को परेशान कर दिया है।

दरअसल यूपी में अ पनी सीटें बढ़ाने के लिए भाजपा बुंदेलखंड में गैरजाटव दलितों में पैठ बनाने की थी। मोदी के पीएम मिशन को अमलीजामा पहनाने के लिए यूपी के प्रभारी बनाए गए अमित शाह वाल्मीकि, खटीक जैसी जातियों को अपने तरफ करने के लिए जी-तोड़ मेहनत कर रहे थे।

लेकिन बाबा के बयान ने किए कराए पर पानी फेर दिया है। राजनीतिक जानकार मान रहे हैं कि रामदेव के बयान से नाराज दलित एक बार फिर मायावती की तरफ एकजुट हो रहे हैं। गौरतलब है कि लखनऊ में आयोजित एक कार्यक्रम में बाबा रामदेव ने राहुल गांधी पर निशाना साधते हुए कहा था राहुल गांधी हनीमून और पिकनिक मनाने दलितों के घर जाते हैं।

देश-दुनिया की ताज़ा ख़बरों से अपडेट रहने के लिए Oneindia Hindi के फेसबुक पेज को लाइक करें
English summary
Yoga guru Baba Ramdev's attack on Congress vice-president Rahul Gandhi by saying that he goes to Dalit homes to enjoy honeymoon and picnic is in extremely bad taste. His Statement not only insulted the entire Dalit women community but also hurts BJP’s plan to woo dalit.
For Daily Alerts
तुरंत पाएं न्यूज अपडेट
Enable
x
Notification Settings X
Time Settings
Done
Clear Notification X
Do you want to clear all the notifications from your inbox?
Settings X
X
We use cookies to ensure that we give you the best experience on our website. This includes cookies from third party social media websites and ad networks. Such third party cookies may track your use on Oneindia sites for better rendering. Our partners use cookies to ensure we show you advertising that is relevant to you. If you continue without changing your settings, we'll assume that you are happy to receive all cookies on Oneindia website. However, you can change your cookie settings at any time. Learn more