• search
मुरादाबाद न्यूज़ के लिए
नोटिफिकेशन ऑन करें  

महिला द‍िवस: दोनों हाथ गंवाने के बावजूद नहीं मानी हार, पढ़ें मुरादाबाद की प्रगति के जज्‍बे की कहानी

|

मुरादाबाद। दुनियाभर में हर साल 8 मार्च को बड़े ही धूमधाम से महिला दिवस मनाया जाता है। इसके पीछे का मकसद अलग-अलग क्षेत्रों में सक्रिय महिलाओं के प्रति सम्मान जताना है। इस दिन महिलाओं को समाज के प्रति उनके योगदान के लिए सम्मान दिया जाता है और समाज को आगे बढ़ाने में उनके योगदान की सराहना की जाती है। इस खास मौके पर महिलाओं के संघर्ष से जुड़ी कई प्रेरणास्पद कहानियां भी सामने आ रही हैं। ऐसी ही कहानी है यूपी के मुरादाबाद की प्रगति की, जिसे दोनों हाथ न होने के बावजूद हार नहीं मानी और आगे बढ़ती गई। दोनों हाथ न होने के बावजूद प्रगति 'आत्‍मन‍िर्भर' हैं।

    International Women’s Day: जानिए Moradabad की Pragati के हौसले की कहानी । वनइंडिया हिंदी
    समाज के सामने म‍िसाल पेश रही रहीं मुरादाबाद की प्रगति

    समाज के सामने म‍िसाल पेश रही रहीं मुरादाबाद की प्रगति

    मुरादाबाद ​की प्रगति पूरे समाज के ​सामने एक मिसाल पेश कर रही हैं। प्रगति ने 2010 में हाईटेंशन तारों की चपेट में आने से उन्‍होंने अपने दोनों हाथ गंवा दिए थे। इसके बाद भी वो ना सिर्फ आम लोगों की तरह अपने सारे काम खुद करती हैं बल्कि जरूरतमंद बच्चों को पढ़ाती भी हैं। प्रगति बताती हैं कि 2010 में करंट लगने के कारण उनके हाथ बुरी तरह झुलस गए थे। डॉक्टरों के पास हाथ काटने के अलावा कोई विकल्‍प नहीं था। बता दें, इस घटना के बाद भी प्रगति ने हार नहीं मानी। आज वह न केवल अपने हाथों से लिख पाती है, बल्कि मोबाइल और लैपटॉप भी बड़ी आसानी चला पाती है। प्रगत‍ि ने बताया कि वह बैंक परीक्षाओं की तैयारी कर रही हैं। अपने खर्चों और पढ़ाई के लिए वह जरूरतमंद छात्रों को पढ़ाती हैं।

    टॉपर रही हैं प्रगति, ब‍िना हाथ तेजी से करती हैं कंप्‍यूटर टाइप‍िंग

    टॉपर रही हैं प्रगति, ब‍िना हाथ तेजी से करती हैं कंप्‍यूटर टाइप‍िंग

    प्रगति ने दसवीं और 12वीं में टॉप किया था। इसके बाद ग्रेजुएशन में भी टॉपर रहीं। प्रगति ने गरीब बच्चों को पढ़ाने का बीड़ा उठाया। वह इलाके के गरीब बच्चों को अपने घर पर ही पढ़ाती हैं। साथ ही अपनी पढ़ाई करती हैं। प्रगति कंप्यूटर से लेकर मोबाइल पर भी काम करती हैं। हाथ न होने बावजूद वह कंप्यूटर पर टाइपिंग हो या मोबाइल पर मैसेज टाइप कर लेती हैं। प्रगत‍ि अपना खर्च चलाने के लिए मेहंदी भी लगाती हैं। प्रगत‍ि ने कहावत 'उड़ान परों से नहीं हौसलों से होती है' को सच साबित कर दिखाया है।

    मिशन शक्ति के दूसरे चरण का आगाज करेंगे सीएम योगी

    मिशन शक्ति के दूसरे चरण का आगाज करेंगे सीएम योगी

    बता दें, अंतररष्ट्रीय महिला दिवस के अवसर यूपी में सीएम योगी सोमवार से मिशन शक्ति के दूसरे चरण का आगाज करेंगे। राजधानी लखनऊ में आयोजित कार्यक्रम में सीएम योगी लखनऊ वासियों को सेफ सिटी परियोजना के तहत पिंक बूथ समर्पित करेंगे। सीएम के निर्देश पर जिलों में ब्लॉक व तहसील स्तर पर भी अंतरराष्ट्रीय महिला दिवस के मौके पर कार्यक्रम आयोजित किए जाएंगे। सेफ सिटी परियोजना के तहत पिंक बूथ के अलावा, पिंक टॉयलेट्स, डार्क स्थान चिन्हित कर वहां प्रकाश की व्यवस्था और पेट्रोलिंग करने के लिए पिंक बाइक और कार भी पुलिस को दी जा रही है।

    Women Day: ताजमहल पर महिलाओं की फ्री एंट्री, शाहजहां-मुमताज की असली कब्रों को भी देख सकेंगे पर्यटक

    देश-दुनिया की ताज़ा ख़बरों से अपडेट रहने के लिए Oneindia Hindi के फेसबुक पेज को लाइक करें
    English summary
    Moradabad Pragati inspiration story on international women day
    For Daily Alerts
    तुरंत पाएं न्यूज अपडेट
    Enable
    x
    Notification Settings X
    Time Settings
    Done
    Clear Notification X
    Do you want to clear all the notifications from your inbox?
    Settings X
    X