• search
मेरठ न्यूज़ के लिए
नोटिफिकेशन ऑन करें  

गजब! FIR दर्ज कराने थाने पहुंचे पीड़ित को थानाध्यक्ष की सलाह, गायत्री मंत्र का करो जाप, बजाओ शंख

|

मेरठ। नौचंदी थाना एक बार फिर मीडिया की सुर्खियों में बना हुआ है। इस बार वजह नौचंदी थाने में गंगाजल और चंदन से स्वागत नहीं, बल्कि एफआईआर दर्ज करने की जगह पीड़ित को दी गई थानाध्यक्ष की सलाह है। दरअसल, नौचंदी थाना प्रभारी प्रेमचंद शर्मा पर एक पीड़ित व्यक्ति ने आरोप लगाया है कि उसकी एफआईआर दर्ज करने के बयाए उसे गायत्री मंत्र का जाप करने की सलाह दी गई। इतना ही नहीं, इसके बाद भी समस्या का निस्तारण न हो तो शांतिकुंज हरिद्वार में तीन दिन के प्रवास का भी उपाय सुझा दिया। तो वहीं, अब पीड़ित ने मेरठ आईजी से नौचंदी थाना प्रभारी की शिकायत की है।

Meerut News: nauchandi police station sho advised the victim to chant Gayatri Mantra instead of filing a report

मेरठ जिले के शास्त्रीनगर निवासी हेमंत गोयल (58) ने आईजी को दिए अपने शिकायती पत्र में बताया कि उनका अपनी पत्नी से विवाद चल रहा है। बताया कि उनकी मुलाकात पड़ोस की रहने वाली एक महिला से हुई थी। महिला ने गाजियाबाद में रहने वाली अपनी सहेली कविता कौशिक से फरवरी-2020 में उसकी मुलाकात मोदीनगर में कराई। महिला का 17 साल का बेटा भी है। महिला ने बताया कि 21 साल पहले उसकी शादी हुई थी। 2011 में पति से विवाद के चलते मामला न्यायालय में है।

हेमंत गोयल ने कविता कौशिक से यह सोच कर अक्टूबर 2020 में सात फेरे लिए थे कि आखिरी दिनों में कोई सहारा रहेगा। लेकिन शादी के बाद पति-पत्नी का विवाद होने लगा और उनकी पत्नी और सौतेला बेटा मिलकर उनसे मारपीट करने लगे और बार-बार पैसे देने का दबाव बनाने लगे। कुछ महीने बीते तो हेमंत गोयल की 22 लाख की रकम कविता कौशिक ने हड़प ली और हेमंत को घर से बाहर निकाल दिया। जिसके बाद पीड़िता हेमंत गोयल अपनी फरियाद लेकर नौचंदी थाने पहुंचे। लेकिन नौचंदी थाने के थानेदार ने इंसाफ के बजाय जिंदगी की समस्याओं को हल करने के लिए धर्म और अध्यात्म का रास्ता सुझाया।

हेमंत के अधिवक्ता रामकुमार ने बताया कि इंस्पेक्टर ने उन्हें गायत्री मंत्र का जाप करने की सलाह देकर टाल दिया। इसके बाद महिला और उसके बेटे ने हेमंत की दोबारा पिटाई की। जिसके बाद हेमंत ने इंस्पेक्टर से शिकायत की तो इस बार इंस्पेक्टर ने समस्या समाधान के उपाय की पर्ची दे दी। परेशान होकर पीड़ित ने आईजी प्रवीण कुमार से शिकायत की। उन्होंने एसएसपी को तत्काल मुकदमा दर्ज कर सीओ को जांच सौंपने के आदेश दिए। इंस्पेक्टर की प्रारंभिक जांच भी शुरू हो गई है।

थानाध्यक्ष ने पीड़ित को दी ये सलाह
नौचंदी थाना अध्यक्ष प्रेमचंद शर्मा ने पीड़ित हेमंत गोयल को एक पर्ची दी, जिसपर लिखा हुआ है कि 101 मनकों की माला का गायत्री मंत्र के साथ जाप करने से समस्या दूर हो जाएगी। पीड़ित को इस जाप के अलावा शांतिकुंज हरिद्वार में 3 दिन का प्रवास भी करना पड़ेगा। इतना ही नहीं, शंख बजाने और गंगाजल का छिडकाव करने की भी सलाह दे दी। थानाध्यक्ष ने कहा कि भगवान का ध्यान करें, सब समस्याएं ठीक हो जाएंगी।

ये भी पढ़ें:- मेरठ: थाना प्रभारी ने गंगाजल, मंत्र और चंदन को बनाया हथियार, इनसे कोरोना और क्राइम कंट्रोल का किया दावाये भी पढ़ें:- मेरठ: थाना प्रभारी ने गंगाजल, मंत्र और चंदन को बनाया हथियार, इनसे कोरोना और क्राइम कंट्रोल का किया दावा

English summary
Meerut News: nauchandi police station sho advised the victim to chant Gayatri Mantra instead of filing a report
देश-दुनिया की ताज़ा ख़बरों से अपडेट रहने के लिए Oneindia Hindi के फेसबुक पेज को लाइक करें
For Daily Alerts
तुरंत पाएं न्यूज अपडेट
Enable
x
Notification Settings X
Time Settings
Done
Clear Notification X
Do you want to clear all the notifications from your inbox?
Settings X
X