• search
मेरठ न्यूज़ के लिए
नोटिफिकेशन ऑन करें  

शोपियां में आतंकियों से मुठभेड़ के दौरान शहीद हुआ मेरठ का लाल अनिल तोमर, सीएम योगी ने दी श्रद्धांजलि

|
Google Oneindia News

Meerut Latest News In Hindi, मेरठ। जम्मू-कश्मीर (Jammu and Kashmir) के शोपियां (Shopian) में आतंकियों (Terrorists) से लोहा लेते वक्त मेरठ (Meerut) के लाल अनिल तोमर (Anil Tomar) शहीद हो गए। अनिल तोमर के शहादत की खबर जैसे ही घर वालों को मिली तो घर में मातम छा गया। तो वहीं, शहीद के घर के सामने लोगों का हुजूम उमड़ पड़ा। अनिल तोमर की शहादत पर उत्तर प्रदेश (Uttar Pradesh) के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ (CM Yogi Adityanath) ने उन्हें भावभीनी श्रद्धांजलि दी। साथ ही सीएम ने शहीद के परिजनों को 50 लाख रुपए की आर्थिक सहायता प्रदान करने की घोषणा की है।

    Shopian Encounter: Meerut का जवान Anil Tomar शहीद, आतंकी मुठभेड़ में हुए थे जख्मी | वनइंडिया हिंदी
    Anil Tomar of Meerut became shahid in encounter with terrorists in Shopian

    जवान अनिल कुमार तोमर (40) मेरठ के मुण्डली गांव सिसौली के निवासी है। अनिल तोमर के पिता भोपाल तोमर ने मीडिया को जानकारी देते हुए बताया कि दो दिन पहले शोपियां में आतंकियों से मुठभेड़ में वो घायल हो गए थे। अनिल को पांच गोलियां लगीं थी। इलाज के लिए उन्‍हें श्रीनगर के अस्पताल में भर्ती कराया गया था, जहां 28 दिसंबर को इलाज के दौरान दम तोड़ दिया। आज 29 दिसंबर को उनका पार्थिक शरीर शाम तक गांव में पहुंचने की संभावना है, जहां उनका राजकीय सम्मान के साथ अंतिम संस्कार किया जाएगा। वहीं, जवान की मौत से पूरा गांव शोक में डूबा है।

    अनिल तोमर (38) वर्ष 2000 में आर्मी में भर्ती हुए थे। फिलहाल वह 44वीं राष्ट्रीय राइफल्स में हवलदार के पद पर तैनात थे। अनिल तोमर की मूल यूनिट 23 राजपूत थी और अभी 44 वीं राष्ट्रीय राइफल्स में तैनाती के दौरान अनिल तोमर कमान अधिकारी की क्यूआरटी के कमांडर के तौर पर कार्यरत थे। खबरों के मुताबिक, शनिवार को दक्षिण कश्मीर के शोपियां जिले के कनीगाम गांव में आतंकवादियों के छिपे होने की खबर मिलने पर एक कार्डन ऐण्ड सर्च आपरेशन लगाया गया। इसी बीच आतंकवादियों और सैनिको की मुठभेड़ के दौरान हवलदार अनिल कुमार बुरी तरह से जख्मी हो, और तुरंत उनको तुरंत हेलीकाप्टर से श्रीनगर स्थित 92 बेस अस्पताल भेजा गया, जहां इलाज के दौरान उन्होंने अंतिम सांस ली।

    सोमवार दोपहर करीब डेढ़ बजे बटालियन के अधिकारियों ने सुनील को फोन कर हवलदार अनिल तोमर के शहीद होने की खबर दी। इससे पूरा गांव शोकाकुल हो गया। अनिल के भाई अजय तोमर ने बताया कि सुनील तोमर श्रीनगर पहुंच गए हैं। विशेष विमान से शहीद का पार्थिव शरीर देर रात तक दिल्ली पहुंचने की उम्मीद है। सड़क मार्ग से मंगलवार दोपहर तक पार्थिव शरीर गांव लाया जाएगा। वहीं, उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने शहीद जवान अनिल तोमर के शौर्य और वीरता को नमन करते हुए उन्हें भावभीनी श्रद्धांजलि दी है।

    सीएम ने शहीद के परिजनों को 50 लाख रुपए की आर्थिक सहायता प्रदान करने की घोषणा की है। उन्होंने शहीद के परिवार के एक सदस्य को सरकारी नौकरी देने तथा जनपद की एक सड़क का नामकरण शहीद अनिल तोमर के नाम पर करने की भी घोषणा की है। सीएम योगी ने शहीद अनिल तोमर के परिजनों के प्रति अपनी संवेदना व्यक्त करते हुए कहा कि शोक की इस घड़ी में राज्य सरकार उनके साथ है। प्रदेश सरकार द्वारा शहीद के परिवार को हर सम्भव मदद प्रदान की जाएगी।

    ये भी पढ़ें:- UP में अब से वाहनों पर लिखी जाति तो आपकी जेब होगी खाली, वाहन भी हो सकता है सीजये भी पढ़ें:- UP में अब से वाहनों पर लिखी जाति तो आपकी जेब होगी खाली, वाहन भी हो सकता है सीज

    English summary
    Anil Tomar of Meerut became shahid in encounter with terrorists in Shopian
    देश-दुनिया की ताज़ा ख़बरों से अपडेट रहने के लिए Oneindia Hindi के फेसबुक पेज को लाइक करें
    For Daily Alerts
    तुरंत पाएं न्यूज अपडेट
    Enable
    x
    Notification Settings X
    Time Settings
    Done
    Clear Notification X
    Do you want to clear all the notifications from your inbox?
    Settings X
    X