• search
मथुरा न्यूज़ के लिए
नोटिफिकेशन ऑन करें  

यूट्यूब पर क्राइम पेट्रोल के एपिसोड देख बेटे ने की पिता की हत्या, मां ने दिया था साथ

|

मथुरा। 3 मई को वृंदावन मार्ग स्थित वैष्णो देवी मंदिर के पीछे एक अज्ञात शख्स की अधजली लाश मिली थी। जिसका पुलिस ने करीब ने चौंकाने वाला खुलासा करते हुए मृतक शख्स के नाबालिग बेटे और पत्नी को गिरफ्तार कर लिया है। पुलिस की मानें तो हत्यारोपी बेटा 11वीं का छात्र है। उसने अपने पिता की पिटाई से तंग आकर घटना को अंजाम दिया था। इतना ही नहीं, यूट्यूब पर क्राइम पेट्रोल के 100 से ज्यादा एपिसोड देख अपराध से जुड़े सभी साक्ष्य भी मिटा दिए। यही नहीं, इस काम में आरोपी की मां ने भी उसका पूरा सहयोग किया था।

A minor boy allegedly killed his father in Mathura disposed off his body after watching a crime serial

क्या है पूरा मामला

एसपी सिटी उदय शंकर मिश्रा ने प्रेस कॉन्फ्रेंस कर बताया कि 3 मई 2020 की शाम को वृंदावन में वैष्णो देवी मंदिर के पीछे एक खाली प्लाट में एक शख्स की अधजली लाश मिली थी। पुलिस ने मामले में छानबीन की तो मृतक की शिनाख्त मनोज मिश्रा उर्फ आनंदेश्वर चैतन्य दास निवासीगण विनोद बिहारी कुंज कालिंदी बिहार कालौनी नियर पुराना कालीदह वृंदावन थाना वृंदावन के रूप में हुई। एसपी सिटी बताया कि मृतक मनोज मिश्रा का गुस्सैल स्वभाव ही उनकी मौत की वजह बन गया। उन्होंने बताया कि मनोज जरा-जरा सी बात पर गुस्सा होकर अपने बेटे और बेटी की बुरी तरह पिटाई कर दिया करते थे।

मां ने दिया था बेटे का साथ

एसपी सिटी ने बताया कि घटना से पूर्व भी घर में जब मनोज सो रहे थे तो उनका बेटा बर्तन लेकर घर में मंदिर की तरफ जा रहा था, इसी दौरान बर्तनों की कुछ आवाज हुई और मनोज की नींद खुल गई। नींद से उठे मनोज ने उठकर गुस्से में अपने 17 वर्षीय बेटे की पिटाई शुरू कर दी, जिस पर बेटे ने पास ही में पड़ी लोहे की रॉड से अपने पिता के सिर पर हमला कर दिया। इस दौरान मनोज जमीन पर गिर पड़े और बाद में बेटे ने उनका गला भी दबा दिया। उसकी मां ने शव को छत पर रखवाने और दूसरे दिन स्कूटी पर शव लदवा कर साक्ष्य मिटाने पमें सहयोग किया था। दोनों को गिरफ्तार कर लिया गया है।

'यूट्यूब पर 100 बार देखा क्राइम सीरियल, फिर...'

एसपी सिटी ने बताया कि पुलिस जांच में यह भी पता चला है कि आरोपी अपने मोबाइल पर यूट्यूब पर क्राइम पेट्रोल सीरियल देखता था और उसी को देख उसने बड़ी सफाई से पूरे घटनाक्रम को अंजाम दिया। उन्होंने बताया कि पिता की हत्या से पहले बेटे ने मोबाइल पर 100 बार क्राइम पेट्रोल का एपिसोड देखा था। इसी प्रोग्राम से उसने अपराध करने और उसको छुपाने की तरकीब सीखी। जिसके बाद आरोपी ने मृत पिता की बॉडी को एक बोरे में भरकर मां की मदद से स्कूटी पर लादा और वैष्णो देवी मंदिर के पीछे एक खाली प्लॉट में एसिड व पेट्रोल डालकर जला दिया।

हत्या को आत्महत्या दर्शाना चाहता था वो

पुलिस की मानें तो हत्यारोपी बेटा पिता की हत्या को आत्महत्या दर्शाना चहाता था। इसलिए मृतक का चश्मा, चप्पल, उसकी माला को जलते हुए शव के साथ डाल दिया। लोहे की रॉड को छटीकरा रुक्मणी बिहार मार्ग पर खाली प्लॉट में फेंक दिया। वहीं पर एसिड की खाली बोतल, शव को ले जाने में प्रयुक्त बोरा व गला दबाने में इस्तेमाल धोती को जला दिया। यह सब सामान घर का था इसलिए सामान को शव जलाने के स्थान से अलग स्थान पर जलाया। रॉड को इसलिए फेंक दिया ताकि फिंगर प्रिंट ना आ सकें।

पुलिस ने मां-बेटे को किया गिरफ्तार

एसपी सिटी ने कहा कि घटना के बाद पहले तो मृतक का बेटा और उसकी मां एक ही कहानी बता रहे थे लेकिन शक होने पर जब दोनों से अलग-अलग सख्ती से पूछताछ की गई तो सच्चाई बाहर आ गई। उन्होंने बताया कि आरोपी बेटे और घटना में उसका सहयोग करने वाली उसकी मां संगीता मिश्रा को अरेस्ट कर लिया गया है। इनके कब्जे से हत्या में प्रयुक्त लोहे की रॉड, स्कूटी, दो मोबाइल फोन, दो एसिड की बोतलें बरामद की गई हैं।

ये भी पढ़ें:- बहन ने प्रेमी के भेजे सिंदूर से सजाई मांग तो भाई ने काट दिया गला, थाने फोन कर पुलिस को खुद दी सूचना

देश-दुनिया की ताज़ा ख़बरों से अपडेट रहने के लिए Oneindia Hindi के फेसबुक पेज को लाइक करें
English summary
A minor boy allegedly killed his father in Mathura disposed off his body after watching a crime serial
For Daily Alerts
तुरंत पाएं न्यूज अपडेट
Enable
x
Notification Settings X
Time Settings
Done
Clear Notification X
Do you want to clear all the notifications from your inbox?
Settings X
X