• search
मैनपुरी न्यूज़ के लिए
नोटिफिकेशन ऑन करें  

वीरेंद्र यादव: शहीद जवान को नम आंखों दी गई पुष्पांजलि, बड़े बेटे ने दी मुखाग्नि

|
Google Oneindia News

मैनपुरी। असम राइफल्स के जवान वीरेंद्र सिंह यादव का पार्थिव शरीर मंगलवार की देर रात मैनपुरी में उनके पैतृक गांव नानामऊ देर रात पहुंचा, जहां उनके अंतिम दर्शन को बड़ी तादात में लोगों की भीड़ जमा हो गई। बुधवार सुबह सैन्य अधिकारियों और स्थानीय प्रशासन के अधिकारियों ने पूरे सम्मान के साथ शहीद वीरेंद्र सिंह यादव को पुष्पांजलि अर्पित की। इस बीच शहीद वीरेंद्र सिंह यादव के अंतिम दर्शन को आए लोगों ने भारत माता की जय और जब तक सूरज चांद रहेगा तब तक वीरेंद्र सिंह तेरा नाम रहेगा के नारे लगाए। शहीद के बड़े बेटे बबलू ने उन्हें नम आंखों से मुखाग्नि दी। उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने शहीद के परिवार को सांत्वना राशि के रूप में 50 लाख रुपए, एक बेटे को नौकरी एवं उनके गांव की सड़क का नामकरण शहीद के नाम पर करने की घोषणा की है।

mainpuri saheed jawan virendra yadav funeral

अरुणाचल में उग्रवादी हमले के दौरान शहीद हुए वीरेंद्र यादव

मैनपुरी के नायब सूबेदार वीरेंद्र सिंह यादव अरुणाचल प्रदेश में उग्रवादी हमले के दौरान शहीद हो गए थे। शहीद जवान का पार्थिव शरीर मंगलवार रात को उनके पैतृक गांव पहुंचा। अरुणाचल प्रदेश में उग्रवादी हमले के दौरान शहीद हुए मैनपुरी के नायब सूबेदार वीरेंद्र सिंह यादव की शहादत की खबर सुनकर पूरा जनपद शोक में डूब गया। शहीद का पार्थिव शरीर उनके गांव पहुंचा तो शहीद के परिवार को सांत्वना देने के लिए सैकड़ों की संख्या में लोगों का तांता लग गया।

4 सितंबर को आखिरी बार हुई थी पत्नी से फोन पर बात

वीरेंद्र यादव अभी हाल में ही गांव से छुट्टी समाप्त करके ड्यूटी पर गए थे। रविवार की सुबह वीरेंद्र ने अपनी पत्नी मुकेश से बातचीत में कहा था कि उनकी ड्यूटी पानी के टैंकर पर लगी हुई है। उस पर जा रहा हूं और फोन काट दिया। उसके कुछ ही देर बाद यूनिट से फोन आया कि आपके पति उग्रवादी हमले में शहीद हो गए हैं। इतना सुनते ही पत्नी और बेटा चिल्लाने लगे। चीख-पुकार सुनकर ग्रामीण इकट्ठे हो गए। शहीद अपने पीछे पत्नी और तीन बेटे छोड़ गए हैं। शहीद का बड़ा बेटा बबलू एनडीआरएफ में तैनात है। दूसरा बेटा किसानी करता है, जबकि तीसरा बेटा अभी पढ़ाई कर रहा है।

शहीद शैलेंद्र सिंह: 10 दिन बाद 2 माह की छुट्टी पर घर आने वाले थे, अब तिरंगे में लिपटा आएगा पार्थिव शरीरशहीद शैलेंद्र सिंह: 10 दिन बाद 2 माह की छुट्टी पर घर आने वाले थे, अब तिरंगे में लिपटा आएगा पार्थिव शरीर

English summary
mainpuri saheed jawan virendra yadav funeral
देश-दुनिया की ताज़ा ख़बरों से अपडेट रहने के लिए Oneindia Hindi के फेसबुक पेज को लाइक करें
For Daily Alerts
तुरंत पाएं न्यूज अपडेट
Enable
x
Notification Settings X
Time Settings
Done
Clear Notification X
Do you want to clear all the notifications from your inbox?
Settings X
X