India
  • search
महाराष्ट्र न्यूज़ के लिए
नोटिफिकेशन ऑन करें  
Oneindia App Download

कौन हैं Rahul Narvekar ? भारी मतों से महाराष्ट्र विधानसभा के स्पीकर चुने गए बीजेपी MLA

|
Google Oneindia News

मुंबई, 3 जुलाई: महाराष्ट्र विधानसभा के अंदर मुख्यमंत्री एकनाथ शिंदे गुट की शिवसेना और भारतीय जनता पार्टी ने पहली लड़ाई जीत ली है। सत्ताधारी गठबंधन की ओर से विधानसभा अध्यक्ष के उम्मीदवार राहुल नार्वेकर भारी मतों से चुनाव जीत गए हैं। वहीं विपक्षी उम्मीदवार को उम्मीद से भी कम वोट मिलते दिखाई पड़े हैं। राहुल नार्वेकर 2019 में पहली बार ही विधानसभा के लिए निर्वाचित हुए थे। इसलिए उनकी उम्मीदवार बहुत ही अप्रत्याशित थी। आइए जानते हैं कि भाजपा विधायक राहुल नार्वेकर कौन हैं?

बीजेपी एमएलए राहुल नार्वेकर स्पीकर चुने गए

बीजेपी एमएलए राहुल नार्वेकर स्पीकर चुने गए

महाराष्ट्र में मुख्यमंत्री एकनाथ शिंदे की सरकार ने प्रदेश की पहली सियासी लड़ाई जीत ली है। शिवसेना का शिंदे गुट और भारतीय जनता पार्टी गठबंधन ने अपने उम्मीदवार राहुल नार्वेकर को भारी मतों से महाराष्ट्र विधानसभा अध्यक्ष चुनने में कामयाबी हासिल की है। शिवसेना के उद्धव ठाकरे गुट के लिए यह पहला सटीक और बहुत ही बड़ा झटका है। अब विश्वास मत के दौरान सदन की कार्यवाही का संचालन पूरी तरह से नवनिर्वाचित स्पीकर नार्वेकर के हाथों में होगा।

    Maharashtra Assembly Speaker Election: कौन हैं Rahul Narwekar जो बने स्पीकर ? | वनइंडिया हिंदी |
    कौन हैं राहुल नार्वेकर ?

    कौन हैं राहुल नार्वेकर ?

    राहुल नार्वेकर इस समय मुंबई की प्रतिष्ठित कोलाबा विधानसभा क्षेत्र से भारतीय जनता पार्टी के विधायक हैं। वह पहली बार 2019 के विधानसभा चुनाव में ही एमएलए बने थे। कोलाबा विधानसभा सीट पर उन्होंने तब कांग्रेस के उम्मीदवार अशोक जगताप को हराया था। महाराष्ट्र विधानसभा की सबसे बड़ी पार्टी भाजपा ने उन्हें शुक्रवार को ही स्पीकर के उम्मीदवार के तौर पर नामांकन दाखिल करवाया था। हालांकि, पहले दिन कांग्रेस ने राजभवन की ओर से स्पीकर का चुनाव करवाने पर सहमति दिए जाने को लेकर आपत्ति जाहिर की थी।

    विपक्षी उम्मीदवार को भारी अंतर से हराया

    विपक्षी उम्मीदवार को भारी अंतर से हराया

    सत्ताधारी शिवसेना गुट और बीजेपी के अलावा बाकी सहयोगियो पार्टियों की ओर से साझा उम्मीदवार राहुल नार्वेकर को रविवार को हुई वोटिंग 288 सदस्यीय (अभी एक सीट खाली है) महाराष्ट्र विधानसभा में कुल 164 वोट मिले हैं । जबकि, विपक्ष के साझा उम्मीदवार के तौर पर उद्धव ठाकरे गुट के शिवसेना से विधायक राजन साल्वी को महज 107 ही वोट मिले हैं। मतलब, महा विकास अघाड़ी गठबंधन स्पीकर चुनाव में बाकी विपक्षी विधायकों को भी एकजुट रखने में नाकाम रहा है।

    विधान परिषद सभापति के दामाद हैं नार्वेकर

    विधान परिषद सभापति के दामाद हैं नार्वेकर

    नए स्पीकर नार्वेकर एनसीपी नेता रामराजे नाइक निम्बल्कर के दामाद हैं। निम्बल्कर इस समय महाराष्ट्र विधान परिषद के सभापति हैं और पहले शरद पवार की पार्टी एनसीपी के साथ-साथ शिवसेना के साथ भी रह चुके हैं। वर्तमान समय में नार्वेकर को उपमुख्यमंत्री और भाजपा के दिग्गज नेता देवेंद्र फडणवीस का बहुत ही ज्यादा करीबी माना जाता है। यह भी माना जा रहा है कि फडणवीस के आशीर्वाद की वजह से ही विधायकी के अनुभव की पर्याप्त कमी के बावजूद उन्हें स्पीकर का उम्मीदवार बनाया गया था। क्योंकि, आमतौर पर इस पद पर सदन के अनुभवी सदस्यों को बिठाने की परंपरा रही है।

    हाईप्रोफाइल कोलाबा इलाके पर नार्वेकर की पकड़

    हाईप्रोफाइल कोलाबा इलाके पर नार्वेकर की पकड़

    नार्वेकर दक्षिण मुंबई के कोलाबा इलाके में ही जन्मे हैं और यहीं पले-बढ़े हैं। गौरतलब है कि यह मुंबई का बहुत ही हाई-प्रोफाइल इलाका माना जाता है। इनके भाई मार्कंड भी कोलाबा क्षेत्र से ही कॉर्पोरेटर हैं। शुरुआती दिनों में नार्वेकर शिवसेना के यूथ विंग के प्रवक्ता हुआ करते थे। 2014 में उन्होंने उद्धव ठाकरे की पार्टी छोड़ दी थी और शरद पवार की एनसीपी में चले गए थे। तब उन्होंने आरोप लगाया था कि उद्धव की अनुपलब्धता की वजह से उन्हें पार्टी से निकलना पड़ा है।

    इसे भी पढ़ें-Shiv Sena office Sealed : आदित्य ठाकरे ने कहा, हमने ताला लगाया, क्या बड़ी बात है ?इसे भी पढ़ें-Shiv Sena office Sealed : आदित्य ठाकरे ने कहा, हमने ताला लगाया, क्या बड़ी बात है ?

    नार्वेकर 2019 में ही भाजपा में हुए थे शामिल

    नार्वेकर 2019 में ही भाजपा में हुए थे शामिल

    2014 में उन्होंने एनसीपी से ही मावल लोकसभा क्षेत्र से चुनाव लड़ा था, लेकिन तब मोदी लहर में शिवसेना के श्रीरंग अप्पा बर्ने से हार गए थे। 2019 महाराष्ट्र विधानसभा चुनाव से पहले ही वे भाजपा में शामिल हुए थे और इसके टिकट पर कोलाबा जैसी सीट से जीतकर विधानसभा पहुंचे थे। यहां उन्होंने कांग्रेस के जगताप को हराया था। अब उनपर मुख्यमंत्री एकनाथ शिंदे के विश्वास मत की कार्यवाही के संचालन की जिम्मेदारी है।

    Comments
    English summary
    The new Speaker of the Maharashtra Legislative Assembly, Rahul Narvekar, is a BJP MLA from Colaba and is close to Devendra Fadnavis. He is the son-in-law of Legislative Council Chairman and NCP leader Ramraje Naik Nimbalkar
    देश-दुनिया की ताज़ा ख़बरों से अपडेट रहने के लिए Oneindia Hindi के फेसबुक पेज को लाइक करें
    For Daily Alerts
    तुरंत पाएं न्यूज अपडेट
    Enable
    x
    Notification Settings X
    Time Settings
    Done
    Clear Notification X
    Do you want to clear all the notifications from your inbox?
    Settings X
    X