• search
महाराष्ट्र न्यूज़ के लिए
नोटिफिकेशन ऑन करें  

Param Bir Singh's Issue: फडणवीस का पलटवार, कहा-'सच्चाई से दूर भाग रहे पवार'

|

मुंबई: महाराष्ट्र के गृह मंत्री अनिल देशमुख पर मुंबई के पूर्व पुलिस कमिश्नर परमबीर सिंह की ओर से लगाए गए गंभीर आरोपों का मामला अब सियासी भूचाल बन गया है। पूर्व पुलिस कमिश्नर ने मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे को चिठ्ठी लिखकर 100 करोड़ रुपए हर महीने मांगने का आरोप लगाया है। इस पूरे मामले में एनसीपी चीफ शरद पवार ने अपनी प्रतिक्रिया देते हुए कहा कि गृह मंत्री के खिलाफ लगाए गए आरोपों की जांच करने का निर्णय लेने का पूरा अधिकार महाराष्ट्र मुख्यमंत्री के पास है। इस बयान के बाद अब महाराष्ट्र के पूर्व सीएम देवेंद्र फडणवीस ने निशाना साधा है।

Devendra Fadnavis

पूर्व सीएम देवेंद्र फडणवीस ने कहा कि शरद पवार ने यह सरकार बनाई इसलिए वह उनका बचाव कर रहे हैं। महाराष्ट्र के मुख्यमंत्री और गृहमंत्री के आदेश पर ही सचिन वाजे को वापस सेवा में लाया गया था। पवार साहब सच्चाई से दूर भाग रहे हैं। साथ ही उन्होंने कहा कि गृह विभाग के कारोबार पर सवाल उठाने वाले परमबीर सिंह पहले व्यक्ति नहीं है इससे पहले महाराष्ट्र के डीजी सुबोध जायसवाल ने गृह विभाग में होने वाली रिश्वतखोरी, तबादला के बारे में महाराष्ट्र के मुख्यमंत्री को एक रिपोर्ट सौंपी थी। लेकिन सीएम ने इस पर कार्रवाई नहीं की। इसलिए डीजी जायसवाल को अपने पद से इस्तीफा देना पड़ा।

मुंबई के पूर्व पुलिस आयुक्त द्वारा महाराष्ट्र के गृह मंत्री पर लगाए गए आरोप गंभीर- एनसीपी नेता शरद पवारमुंबई के पूर्व पुलिस आयुक्त द्वारा महाराष्ट्र के गृह मंत्री पर लगाए गए आरोप गंभीर- एनसीपी नेता शरद पवार

    Uddhav Thackeray को Parambir Singh ने खत लिख Anil Deshmukh पर लगाए गंभीर आरोप | वनइंडिया हिंदी

    फडणवीस ने अपनी मांग को दोहराते हुए कहा कि इस मामले की जांच तब तक नहीं हो सकती जब तक महाराष्ट्र के गृह मंत्री अपने पद पर बने रहें। इसलिए अनिल देशमुख को इस्तीफा देना चाहिए। वहीं भाजपा के राष्ट्रीय महासचिव सीटी रवि ने कहा कि हम सीबीआई जांच और गृहमंत्री को मंत्रिमंडल से हटाने की मांग करते हैं।

    English summary
    parambir singh letter case devendra fadnavis statement on NCP leader Sharad Pawar
    देश-दुनिया की ताज़ा ख़बरों से अपडेट रहने के लिए Oneindia Hindi के फेसबुक पेज को लाइक करें
    For Daily Alerts
    तुरंत पाएं न्यूज अपडेट
    Enable
    x
    Notification Settings X
    Time Settings
    Done
    Clear Notification X
    Do you want to clear all the notifications from your inbox?
    Settings X
    X