• search
महाराष्ट्र न्यूज़ के लिए
नोटिफिकेशन ऑन करें  

पुणे में रेमडेसिविर की किल्लत, कलेक्टर ऑफिस पर धरने पर बैठे कोरोना मरीजों के परिजन

|

पुणे, 15 अप्रैल: कोरोना के तेजी से बढ़ते मामलों के साथ ही रेमडेसिविर इंजेक्शन की किल्लत बढ़ती जा रही है। महाराष्ट्र के पुणे में गुरुवार को रेमडेसिविर ना मिलने पर कोरोना मरीजों के परिजन कलेक्टर दफ्तर पर धरने पर बैठ गए हैं। पुणे कलेक्टर ऑफिस पर पहुंचे कोरोना मरीजों के परिजनों का कहना है कि डॉक्टर लगातार रेमडेसिविर लिख रहे हैं लेकिन पूरे शहर में कहीं भी ये इंजेक्शन नहीं मिल रहा है। ऐसे में दवा उपलब्ध कराए जाने की मांग को लेकर यहां आए हैं।

    Coronavirus: Remdesivir का क्यों है इतनी Demand, जानिए इसकी खासियत | वनइंडिया हिंद

    Maharashtra COVID19 patients Relatives sit on protest outside Collector office in pune demanding Remdesivir


    पुणे कलेक्टर ऑफिस पर धरना दे रही एक महिला ने कहा कि उनके पिता छह दिन से अस्पताल में हैं और आईसीयू में भर्ती हैं। वो ना सिर्फ पुणे बल्कि आसपास के शहरों में भी रेमडेसिविर तलाश चुकी हैं लेकिन दवाएं नहीं मिल रही हैं। ऐसे में हम यहां आए हैं। एडिशनल कलेक्टर विजय सिंह देशमुख ने बताया है कि रेमिडेसिविर की मांग को देखते हुए कंपनियों से बात की गई है। अगले 4-5 दिन में हालात सुधर जाएंगे।

    महाराष्ट्र के नासिक में ऑक्सीजन की भी कमी का सामना करना पड़ रहा है। उमा हॉस्पिटल के डॉ योगेश मोरे का कहना है कि हमें हर रोज 50 सिलेंडरों की जरूरत है लेकिन 30 सिलेंडर मिल रहे हैं। ऐसे में काफी दिक्कत हमें हो रही है। बता दें कि महाराष्ट्र देश का सबसे ज्यादा कोरोना प्रभावित राज्य है।

    रेमडेसिविर की कालाबाजारी के मामले आ रहे सामने

    कोरोना के मामले बढ़ने के बाद केंद्र सरकार ने रेमडेसिविर के निर्यात पर रविवार को रोक लगा दी है। वहीं पुणे की बात की जाए तो यहां रेमडेसिविर इंजेक्शन की सुगम आपूर्ति के लिए कंट्रोल रूम बनाया गया है। जिन लोगों को इस इंजेक्शन की जरूरत हो वे 020-26123371 पर या टोल फ्री नंबर 1077 पर कॉल कर सकते है। इस सबके बावजूद इस दवा की भारी किल्लत है। बता दें कि कोरोना संक्रमण होने पर रेमेडिसविर दवा को कुछ हद तक इसका असर कम करने में प्रभावी माना जाता है।

    देश में बहुत तेजी से फैल रहा कोरोना

    देश में कोरोना वायरस इन दिनों काफी तेजी से फैल रहा है। केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्रालय ने गुरुवार को आंकड़े जारी करते हुए बताया कि पिछले 24 घंटों के दौरान देश में कोरोना वायरस के 2,00,739 नए केस सामने आए हैं और 1,038 लोगों की जान कोरोना वायरस की वजह से गई है।

    स्वास्थ्य मंत्रालय के नाम पर व्हाट्सऐप पर वायरल हो रहा है फेक मैसेज, कोरोना के नए वेरिएंट को लेकर दावेस्वास्थ्य मंत्रालय के नाम पर व्हाट्सऐप पर वायरल हो रहा है फेक मैसेज, कोरोना के नए वेरिएंट को लेकर दावे

    English summary
    Maharashtra COVID19 patients Relatives sit on protest outside Collector office in pune demanding Remdesivir
    देश-दुनिया की ताज़ा ख़बरों से अपडेट रहने के लिए Oneindia Hindi के फेसबुक पेज को लाइक करें
    For Daily Alerts
    तुरंत पाएं न्यूज अपडेट
    Enable
    x
    Notification Settings X
    Time Settings
    Done
    Clear Notification X
    Do you want to clear all the notifications from your inbox?
    Settings X
    X