• search
महाराष्ट्र न्यूज़ के लिए
नोटिफिकेशन ऑन करें  

सुप्रीम कोर्ट ने रद्द किया मराठा आरक्षण, उद्धव बोले- आरक्षण के लिए कानून लाएं पीएम मोदी

|

मुंबई, मई 5: सुप्रीम कोर्ट ने महाराष्ट्र में नौकरियों और शिक्षण संस्थानों में मराठा समुदाय को आरक्षण के कानून को खारिज कर दिया है, जिसके बाद महाराष्ट्र मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे ने इसे दुर्भाग्यपूर्ण बताते हुए कहा कि हमने सर्वसम्मति से कानून पारित किया था। अब न्यायालय का कहना है कि महाराष्ट्र इस पर कानून नहीं बना सकता है, केवल प्रधानमंत्री और राष्ट्रपति बना सकते हैं। वहीं अब उद्धव ठाकरे ने इस मामले में पीएम मोदी से हस्तक्षेप करने का आग्रह किया है।

Maharashtra CM

महाराष्ट्र के सीएम उद्धव ठाकरे ने कहा कि हम मराठा समुदाय को न्याय दिलाने के लिए अपनी कानूनी लड़ाई जारी रखेंगे, जब तक कि यह हासिल नहीं हो जाता। इसके साथ ही उन्होंने कहा कि हम प्रधानमंत्री से इस मामले में हस्तक्षेप करने और मराठों को आरक्षण देने के लिए एक कानून बनाने का आग्रह करते हैं। वहीं उन्होंने कहा कि बीजेपी सांसद संभाजी राजे मराठा आरक्षण के मामले में पीएम से अपॉइंटमेंट की मांग कर रहे हैं, लेकिन उन्हें अभी तक वक्त नहीं मिला है।

मराठा आरक्षण को सुप्रीम कोर्ट ने किया रद्द, बताया समानता के अधिकार की अवहेलनामराठा आरक्षण को सुप्रीम कोर्ट ने किया रद्द, बताया समानता के अधिकार की अवहेलना

केंद्रीय मंत्री रामदास अठावले का समर्थन

    Maratha Reservation पर Supreme Court ने सुनाया बड़ा फैसला, जानिए क्या कहा? | वनइंडिया हिंदी

    वहीं इस मुद्दे पर केंद्रीय मंत्री रामदास अठावले ने कहा कि हम सुप्रीम कोर्ट का सम्मान करते हैं। महाराष्ट्र सरकार ने मराठा समाज के ऐसे लोग जिनकी आय कम है, उन्हें आरक्षण दिया था। महाराष्ट्र सरकार कोर्ट में सही से अपना पक्ष रखने में विफल रही। इसके साथ ही उन्होंने कहा कि मेरी पार्टी की तरफ से मांग है कि मराठा लोगों को आरक्षण मिलना ही चाहिए। क्षेत्रिय समाज को अलग से आरक्षण मिलना चाहिए। इसके लिए मैं प्रधानमंत्री मोदी को पत्र लिखने वाला हूं।

    English summary
    Maharashtra CM Uddhav Thackeray says Unfortunate SC rejected law of reservation to Maratha community
    देश-दुनिया की ताज़ा ख़बरों से अपडेट रहने के लिए Oneindia Hindi के फेसबुक पेज को लाइक करें
    For Daily Alerts
    तुरंत पाएं न्यूज अपडेट
    Enable
    x
    Notification Settings X
    Time Settings
    Done
    Clear Notification X
    Do you want to clear all the notifications from your inbox?
    Settings X
    X