• search
महाराष्ट्र न्यूज़ के लिए
नोटिफिकेशन ऑन करें  

पुणे: मिड डे मील योजना के लिए सरकारी स्‍कूल में सप्‍लाई किया पशुओं का चारा

|

पुणे: भारत में मिड डे मील हमेशा विवादों में रहा है। वहीं अब पुणे के एक म्युनिसिपल स्कूल से एक घटना सामने आई है जहाँ छात्रों के लिए मध्यान्ह भोजन के लिए मवेशियों को दिया जाने वाला चारा सप्‍लाई कर दिया गया है। इस लापरवाही को संज्ञान में लेते हुए पुणे ने जांच रिपोर्ट मांगी है। ये मामला महाराष्ट्र के पुणे के स्कूल नंबर 58 का है इस स्‍पेशल स्कूल पुणे नगर निगम (पीएमसी) द्वारा चलाया जाता है। जहां बच्‍चों को मिड डे मील में परोसने के लिए पशुओं के चारे की बोरी सप्‍लाई कर दी गई।

    Maharashtra Mid Day Meal: बच्चों के खाने के लिए पहुंचा दिया पशु आहार, मचा बवाल | वनइंडिया हिंदी

    mid

    बता दें भारत के सबसे अमीर नागरिक निकायों में से एक, PMC ने इस साल 15 जनवरी तक राजस्व में 3,285 करोड़ रुपये का संग्रह किया। राष्ट्रव्यापी तालाबंदी के कारण सभी शैक्षणिक संस्थानों को बंद करने के कारण, महाराष्ट्र में राज्य द्वारा संचालित स्कूलों को छात्रों के बीच मध्याह्न भोजन वितरित करने का निर्देश दिया गया था। स्थानीय अधिकारियों को यह निर्देश दिया कि कोरोना महामारी में जब स्‍कूल बंद है तो राज्य के स्कूलों में नामांकित छात्रों के घरों में मिड डे मील बच्चों के घरों में सप्लाई किया जाए।

    पीएमसी ने सप्‍लाई किया पशुओं को चारा

    इस हफ्ते की शुरुआत में, पीएमसी द्वारा संचालित स्कूल नंबर 58 में मिड-डे मील के रूप में वितरित की जाने वाली खाद्य सामग्री की खेप मिली। जैसे ही स्‍कूल के अधिकारी इस खेप को ट्रक से उतरवा रहे थे तो उन्‍हें पता चला कि मिड-डे मील के नाम पर पशुओं का चारा दिया गया है। स्थानीय कार्यकर्ताओं ने इस मुद्दे पर प्रकाश डाला, जिसके परिणामस्वरूप भारतीय खाद्य सुरक्षा और मानक प्राधिकरण (एफएसएसएआई) के अधिकारियों ने इस मामले पर ध्यान दिया। एफएसएसएआई ने अब पुणे स्कूल में भेजे गए मवेशियों के भोजन को छात्रों को मध्याह्न भोजन के रूप में परोसा है।

    पुणे के मेयर ने दिया जांच का आदेश

    पुणे के मेयर मुरलीधर मोहोल ने कहा कि महाराष्ट्र सरकार द्वारा संचालित मिड-डे मील योजना का हिस्सा है। मेयर ने कहा कि पुणे नगर निगम केवल छात्रों के बीच मध्याह्न भोजन के वितरण के लिए जिम्मेदार है। उन्‍होंने कहा "यह बहुत दुर्भाग्यपूर्ण है कि जानवरों के भोजन को छात्रों के लिए मिड-डे मील के रूप में भेजा गया है। हम मांग करते हैं कि इस मामले में पूरी जांच होनी चाहिए और इसके लिए जिम्मेदार लोगों को दंडित किया जाना चाहिए।"

    'सामना' में शिवसेना ने पूर्व पुलिस कमिश्नर परमबीर सिंह का किया समर्थन,लिखा- दिल्ली की खास लॉबी ने की थी शिकायत

    https://www.filmibeat.com/photos/pranati-rai-71503.html?src=hi-oiप्रणति राय की बेहद ही ग्लैमरस तस्वीरें, आपकी नजरें थम जाएंगी
    देश-दुनिया की ताज़ा ख़बरों से अपडेट रहने के लिए Oneindia Hindi के फेसबुक पेज को लाइक करें
    English summary
    Maharashtra: Cattle feed sent for mid-day meal in Pune's Municipal School
    For Daily Alerts
    तुरंत पाएं न्यूज अपडेट
    Enable
    x
    Notification Settings X
    Time Settings
    Done
    Clear Notification X
    Do you want to clear all the notifications from your inbox?
    Settings X
    X