• search
महाराष्ट्र न्यूज़ के लिए
नोटिफिकेशन ऑन करें  

नवाब मलिक का दाऊद इब्राहिम की डी कंपनी से था संबंध, ईडी की जांच में हुआ खुलासा

|
Google Oneindia News

मुंबई, 24 मई। महाराष्ट्र सरकार में मंत्री और नेशनलिस्ट कांग्रेस पार्टी के नेता नवाब मलिक की मुश्किल बढ़ गई है। ईडी नवाब मलिक और दाऊद इब्राहिम के बीच के लिंक की जांच कर रही है। मनी लॉन्ड्रिंग मामले ईडी नवाब मलिक के खिलाफ उनकी दाउद इब्राहिम के साथ लिंक की जांच कर रही है। ईडी ने मुंबई स्थित स्पेशल पीएमएलए कोर्ट में इस मामले में नवाब मलिक के खिलाफ शिकायत में अपनी चार्जशीट दायर कर दी है। ईडी की जांच में यह बात सामने आई है कि नवाब मलिक का दाऊद इब्राहिम के साथ संबंध था। ईडी ने अपनी चार्जशीट में विस्तार से इसका जिक्र किया है। चार्जशीट में ईडी ने कहा है कि नवाब मलिक का डी कंपनी से संबंध था और उन्होंने जानबूझकर 1996 में कुर्ला वेस्ट स्थित गोवावाला बिल्डिंग कंपाउंड मामले में लेकर षड़यंत्र किया था।

nawab malik

इसे भी पढ़ें- कुतुब मीनार: ASI ने किया मंदिर बनाने का विरोध, कहा- नहीं किया जा सकता इसकी संरचना में बदलावइसे भी पढ़ें- कुतुब मीनार: ASI ने किया मंदिर बनाने का विरोध, कहा- नहीं किया जा सकता इसकी संरचना में बदलाव

दाउद इब्राहिम के भांजे अली शाह पार्कर से ईडी ने पूछताछ की थी। सोमवार को ईडी ने अली शाह से पूछताछ की थी। ईडी ने उससे मुंबई में सक्रिय गैंग और देश में सक्रिय गैंग के बारे में पूछताछ की थी। बता दें कि अली शाह दाऊद की बहन हसीना पार्कर का बेटा है, हसीना पार्कर का दिल का दौरा पड़ने से 2014 में निधन हो गया था। बता दें कि दाऊद इब्राहिम के भांजे अली शाह ने ईडी को पीएमएलए एक्ट की धारा 50 के तहत नवाब मलिक के खिलाफ केस में अपना बयान दिया था। अपने बयान में अली शाह ने कहा कि मेरी मां निधन के पहले तक दाऊद इब्राहिम के वित्तीय लेनदेन में लंबे समय तक शामिल थीं। अली शाह ने हसीना पार्कर के सहयोगी सलीम पटेल का भी जिक्र किया। सलीम पटेल प्याज का व्यापारी था।

अली शाह ने कहा कि हसीना पार्कर और सलीम पटेल ने गोवावाला बिल्डिंग का विवाद खत्म कर लिया था, यहां ऑफिस खोलने के बाद उन्होंने इसपर अपना नियंत्रण भी हासिल कर लिया था। अलीशाह ने कहा कि बाद में मेरी मां बिल्डिंग के एक हिस्से को नवाब मलिक के लिए संभालती थीं। लेकिन अली शाह को यह पता नहीं था नवाब मलिक हसीना पार्कर और पटेल को पैसा देते थे। स्पेशल कोर्ट ने शुक्रवार को ईडी की चार्जशीट का संज्ञान लिया और कहा कि इस बात के शुरुआती सबूत हैं कि नवाब मलिक सीधे तौर पर और जानबूझकर मनी लॉन्ड्रिंग में शामिल थे, वह क्रिमिनल कॉन्स्पिरेसी में भी शामिल थे। कोर्ट ने नवाब मलिक के खिलाफ आगे की कार्रवाई का निर्देश दिया है। चार्जशीट में 1993 के बम धमाकों के आरोपी सरदार शाहवाली खान का भी नाम सामने आया है उशके खिलाफ भी कोर्ट ने आगे की कार्रवाई के निर्देश दिए हैं।

Comments
English summary
ED probe reveals Nawab Malik had link with D company Dawood Ibrahim
देश-दुनिया की ताज़ा ख़बरों से अपडेट रहने के लिए Oneindia Hindi के फेसबुक पेज को लाइक करें
For Daily Alerts
तुरंत पाएं न्यूज अपडेट
Enable
x
Notification Settings X
Time Settings
Done
Clear Notification X
Do you want to clear all the notifications from your inbox?
Settings X
X