• search
महाराष्ट्र न्यूज़ के लिए
नोटिफिकेशन ऑन करें  

महाराष्ट्र में नहीं लगेगा लॉकडाउन, कोरोना से निपटने के लिए सीएम उद्धव ठाकरे ने मांगी सैन्य मदद

|

मुंबई, अप्रैल 13। महाराष्ट्र कोरोना वायरस महामारी के सबसे भयानक रूप का सामना कर रहा है। यहां रोजाना संक्रमण के 50 हजार से अधिक मामले सामने आ रहे हैं जबकि मृतकों की संख्या ने पुराने सभी रिकॉर्ड तोड़ दिए हैं। आशंका जताई जा रही थी कि कोरोना वायरस के प्रसार पर काबू पाने के लिए मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे के नेतृत्व वाली महाविकास अघाड़ी सरकार 15 दिनों का पूर्ण लॉकडाउन लगा सकती है, लेकिन अब सीएम उद्धव ने साफ कर दिया है कि प्रदेश में लॉकडाउन नहीं लगाया जाएगा। आज (मंगलवार) रात 8.30 बजे सीएम उद्धव ठाकरे वीडियो कांफ्रेंसिंग के जरिए महाराष्ट्र की जनता को संबोधत किया। सीएम ठाकरे ने कहा कि हम अपने हेल्थकेयर इन्फ्रास्ट्रक्चर को लगातार अपग्रेड कर रहे हैं लेकिन मेडिकल ऑक्सीजन और बेड की कमी के चलते स्वास्थ्य सेवाएं दबाव में हैं।

    Uddhav Thackeray Announcement: Maharashtra में 15 दिनों तक Curfew, जानें Guidelines | वनइंडिया हिंदी

    Coronavirus epidemic CM Uddhav Thackeray address Maharashtra people

    सीएम उद्धव ठाकरे ने महाराष्ट्र की जनता को संबोधित करते हुए कोरोना वायरस के खिलाफ पूर्ण लॉकडाउन जैसा सख्त कदम उठाने से इनकार किया है। हालांकि उन्होंने कहा कि कल यानी बुधवार से 15 दिनों तक प्रदेश में बड़ी सभाओं पर प्रतिबंध होगा। इस दौरान केवल आवश्यक सेवाओं के लिए लोकल ट्रेन और बस सेवाएं, पेट्रोल पंप, सेबी से जुड़े वित्तीय संस्थान और निर्माण कार्य जारी रहेंगे। होटल और रेस्त्रां बंद रहेंगे सिर्फ टेक-ऑफ और होम डिलीवरी की अनुमति होगी।

    महाराष्ट्र के मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे ने मंगलवार को अपने संबोधिन में कहा कि राज्य में कोरोना वायरस मामले खतरनाक तरीके से विस्फोट कर रहे हैं। आज राज्य में कुल 60,212 मामले दर्ज किए गए हैं। महामारी से लड़ाई में प्रदेश को नए प्रतिबंधों का सामना करना पड़ सकता है क्योंकि वर्तमान में हम कोरोना संक्रमण और मौतों के रिकॉर्ड उछाल का सामना कर रहे हैं। बता दें कि सीएम उद्धव ठाकरे का यह संबोधन रविवार को कोरोना टास्क फोर्स की बैठक के बाद हुआ है, मीटिंग की अध्यक्षता सीएम ठाकरे ने ही की थी।

    सीएम उद्धव ठाकरे ने आगे कहा, नवंबर-दिसंबर तक कोविड पर हमारा अच्छा नियंत्रण था। लेकिन अब कोरोना वायरस के खिलाफ युद्ध फिर से शुरू हो गया है। संक्रमण खतरनाक तरीके से बढ़ा रहा है, आज महाराष्ट्र में 60 हजार से अधिक केस सामने आए हैं। हम कई फैसलों पर चर्चा कर रहे है, राज्य में प्रतिदिन 1,200 मीट्रिक टन ऑक्सीजन का उत्पादन होता है। कोरोन वायरस रोगियों पर 900-1000 मीट्रिक टन ऑक्सीजन का प्रयोग किया जा रहा है।

    सीएम उद्धव ने आगे कहा, रेमेडिसविर इंजेक्शन की मांग में तेजी आई है लेकिन इसके विनिर्माण में समय लगता है। हम यह सुनिश्चित करेंगे कि राज्य को किसी भी स्वास्थ्य उपयोगी सेवाओं की कमी का सामना ना करना पड़े। हमने कोविड-19 सेंटर्स, अस्पतालों में बिस्तर और वेंटिलेटर बढ़ाए हैं, लेकिन अब उन पर भी बोझ पड़ने लगा है। मैं पीएम मोदी से अनुरोध करता हूं कि जरूरत पड़ने पर वायु सेना को हमारे पास ऑक्सीजन पहुंचाने के लिए कहें क्योंकि सड़क से इसके आयात पर समय लगेगा। कृपया सैन्य बलों की मदद का इस्तेमाल करें क्योंकि यह एक असाधारण स्थिति है।

    सोमवार को कोरोना के 51,751 मामले आए
    आपको बता दें कि गत सोमवार को सामने आए आंकड़ों के मुताबिक महाराष्ट्र में 51 हजार से अधिक मामले सामने आए हैं। हालांकि रविवार के मुकाबले आज राज्य में कोरोना के मामलों में कमी देखने को मिली है। वहीं मुंबई में पिछले 24 घंटों में कोरोना के 6905 नए मामले सामने आए हैं। साथ ही जहां 9037 लोग ठीक हुए हैं, वहीं 43 लोगों की मौत भी हुई है। इसी बीच महाराष्ट्र सरकार ने 10वीं और 12वीं की परीक्षाएं स्थगित कर दी हैं। शिक्षा मंत्री वर्षा गायकवाड़ ने कहा कि 12वीं के एग्जाम मई अंत तक और 10वीं की परीक्षाएं जून में होंगी।

    यह भी पढ़ें: महाराष्ट्र: अस्पताल में 7 कोरोना संक्रमित मरीजों की मौत से गुस्साए परिजन, ऑक्सीजन की कमी का लगाया आरोप

    English summary
    Coronavirus epidemic CM Uddhav Thackeray address Maharashtra people
    देश-दुनिया की ताज़ा ख़बरों से अपडेट रहने के लिए Oneindia Hindi के फेसबुक पेज को लाइक करें
    For Daily Alerts
    तुरंत पाएं न्यूज अपडेट
    Enable
    x
    Notification Settings X
    Time Settings
    Done
    Clear Notification X
    Do you want to clear all the notifications from your inbox?
    Settings X
    X