India
  • search
मध्य प्रदेश न्यूज़ के लिए
नोटिफिकेशन ऑन करें  
Oneindia App Download

MP: पन्‍ना टाइगर र‍िजर्व और अभयारण्‍यों के दरवाजे पर्यटकों के ल‍िए बंद, जान‍िए ऐसा क्‍यों

|
Google Oneindia News

सागर, 2 जुलाई। पन्‍ना के टाइगर र‍िजर्व से लेकर बुंदेलखंड के सभी वन्‍य प्राणी अभयारण्‍य सैलान‍ियों और पर्यटकों के ल‍िए बंद हो गए हैं। वाइल्‍ड लाइफ सफारी और प्राकृत‍िक सौंदर्य को नजदीक से न‍िहारने के ल‍िए अब लोगों को तीन महीने का इंतजार करना होगा।

नौरादेही में वनराज

दरअसल बार‍िश का सीजन शुरू होते ही मप्र के सभी टाइगर र‍िजर्व और वन्‍य प्राणी अभयारण्‍य को आम लोगों के लि‍ए बंद कर द‍िया जाता है। घने जंगल और दुर्गम पहाडी इलाकों, नदी-नालों और तालाबों में बार‍िश के उफान के चलते जंगल में प्रवेश संभव नहीं हो पाता है। इस दौरान टाइगर सह‍ित वन्‍य प्राणी भी पानी से बचने सुरक्ष‍ित ठिकानों पर चले जाते हैं। खतरा भी बहुत होता है, इस कारण बार‍िश के सीजन भर इन्‍हें पूर्ण रुप से बंद कर द‍िया जाता है।

01 अक्‍टूबर2022 से फ‍िर से खुलेगा पर्यटन
सागर के नौरादेही अभयारण्‍य और पन्‍ना टाइगर र‍िजर्व प्रबंधन से म‍िली जानकारी अनुसार 1 जुलाई से बंद होकर पीटीआर और तमाम वन्‍य प्राणी अभयारण्‍य अगले तीन महीने अर्थात बार‍िश के सीजन भर बंद रहेंगे। बार‍िश समाप्‍त होने के बाद 1 अक्‍टूबर से यहां आवाजाही फ‍िर से शुरू हो जाएगी। अध‍िकृत रुप से इसका पूरा कलेंडर जारी होता है। प्रत्‍येक साल क्‍लोज और ओपन का पूरा सैड्यूल केंद्र और राज्‍य सरकार की तरफ से तय किया जाता है।

Comments
English summary
As soon as the rainy season starts, all the tiger reserves and wildlife sanctuaries of MP are closed for the general public. Due to the dense forest and the inaccessible mountainous areas, the flood of rain in rivers and ponds, it is not possible to enter the forest. During this, wild animals including tigers also go to safe places to avoid water. The danger is also very high, due to which they are completely closed during the rainy season.
देश-दुनिया की ताज़ा ख़बरों से अपडेट रहने के लिए Oneindia Hindi के फेसबुक पेज को लाइक करें
For Daily Alerts
तुरंत पाएं न्यूज अपडेट
Enable
x
Notification Settings X
Time Settings
Done
Clear Notification X
Do you want to clear all the notifications from your inbox?
Settings X
X