• search
लखनऊ न्यूज़ के लिए
नोटिफिकेशन ऑन करें  

हंगामेदार होगा उत्तर प्रदेश का पहला बजट सत्र, जनता से जुड़े मुद्दों पर सरकार को घेरेगा विपक्ष

|
Google Oneindia News

लखनऊ, 23 मई: उत्तर प्रदेश में विधानमंडल का बजट सत्र आज से शुरू हो जाएगा। यूपी में हाल ही में संपन्न हुए विधानसभा चुनाव में मिली शानदार जीत के बाद सीएम योगी नए तेवर में दिखाई देंगे वहीं दूसरी ओर अखिलेश यादव के नेतृत्व में विपक्ष सरकार को जनता से जुड़े मुद्दों पर घेरने की पूरी कोशिश करेगा। हालांकि सबकी निगाहें सपा के वरिष्ठ नेता और हाल हो में जेल से बाहर निकले आजम खान पर भी होंगी की वो सदन में नजर आते हैं या नहीं। आजम हालाकि रविवार को समाजवादी पार्टी के विधायक दल की बैठक में शरीक नहीं हुए लेकिन इस बात की अटकलें लगाई का रहीं हैं कि वो अपने बेटे आजम खान के साथ सदन में नजर आ सकते हैं।

uttar pradesh yogi govt second term government first budget session

विधानसभा चुनाव के बाद पहला बजट सत्र

उत्तर प्रदेश में हाल ही में संपन्न हुए चुनाव में बीजेपी को प्रचंड जीत हासिल हुई थी। बीजेपी को 255 सीटें मिली थीं लेकिन यदि सहयोगियों को मिला दें तो ये संख्या 275 तक पहुंच जाएगी। योगी लगातार दूसरी बार सीएम बनने के बाद नए तेवर में विपक्ष के सामने होंगे। हालाकि सर्वदलीय बैठक के दौरान योगी ने विपक्ष को नसीहत देते हुए कहा कि सदन चलाने की जिम्मेदारी सबकी है। लेकिन ऐसा माना जा रहा है की विधानमंडल का पहला सत्र ही हंगामेदार होने की संभावना है।

UP Budget Session: विधानसभा में सपा के हंगामे पर क्या बोले Keshav Prasad Maurya ? | वनइंडिया हिंदी

नेता प्रतिपक्ष के रूप में पहली बार योगी के सामने होंगे अखिलेश

उत्तर प्रदेश का विधानमंडल सत्र कई मायनों में इस बार अहम होने जा रहा है। अखिलेश यादव के अनुभव की भी अग्निपरीक्षा होगी। खासतौर से वैसे समय में जब समाजवादी पार्टी के कई बड़े नेता सदन में नहीं रहेंगे। इस नए सत्र में इस बार आर पार्टी के वरिष्ठ नेता रामगोविन्द चौधरी, अंबिका चौधरी, नारद राय जैसे कई बड़े नेता सदन में नहीं दिखाई देंगे। वहीं आजम खान और शिवपाल यादव की बेरुखी से भी अखिलेश को दो चार होना पड़ेगा।

विधानसभा और विधान परिषद के संयुक्त सत्र को संबोधित करेंगी राज्यपाल आनंदीबेन पटेल

विधानमंडल का पहला सत्र उस समय शुरू होगा जब राज्यपाल आनंदीबेन पटेल राज्य के दोनों सदनों के संयुक्त सत्र को संबोधित करेंगी। प्रदेश की 18वीं विधानसभा के प्रस्तावित कार्यक्रम के अनुसार योगी आदित्यनाथ सरकार के दूसरे कार्यकाल का पहला बजट 26 मई को सदन में पेश किया जाएगा। राज्य विधानसभा सचिवालय ने कहा कि नई विधानसभा का पहला सत्र 31 मई तक चलेगा। मुख्यमंत्री की अध्यक्षता में राज्य मंत्रिमंडल ने 23 मई से सत्र आयोजित करने के लिए अपनी सहमति दी थी।

Fact Check: क्या यूपी सरकार ने राशन कार्ड सरेंडर करने का जारी किया है कोई आदेश, जानिए सच है या झूठFact Check: क्या यूपी सरकार ने राशन कार्ड सरेंडर करने का जारी किया है कोई आदेश, जानिए सच है या झूठ

मिशन 2024 को लेकर बीजेपी करेगी फोकस

इससे पहले योगी सरकार ने वित्त वर्ष 2022 23 के पहले चार महीनों के खर्च के लिए लेखानुदान पारित किया था, लेकिन अब सरकार पूरा बजट पेश करेगी। दरअसल, योगी आदित्यनाथ सरकार का पूरा फोकस मिशन-2024 पर है और इसके लिए सरकार पहले ही साफ कर चुकी है कि अगले पांच साल में जो काम पूरे होने हैं, उन्हें अगले दो साल में पूरा कर लिया जाएगा। इसके साथ ही इस बजट में योगी सरकार संकल्प पत्र में किए गए वादों को पूरा करने के लिए बड़े फैसले लेगी। मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ के निर्देश पर सभी विभागों ने 100 दिन, छह महीने और एक साल की कार्ययोजना पेश की है।

Comments
English summary
uttar pradesh yogi govt second term government first budget session
देश-दुनिया की ताज़ा ख़बरों से अपडेट रहने के लिए Oneindia Hindi के फेसबुक पेज को लाइक करें
For Daily Alerts
तुरंत पाएं न्यूज अपडेट
Enable
x
Notification Settings X
Time Settings
Done
Clear Notification X
Do you want to clear all the notifications from your inbox?
Settings X
X