• search
लखनऊ न्यूज़ के लिए
नोटिफिकेशन ऑन करें  

प्रतापगढ़ में पत्रकार की संदिग्ध मौत, अखिलेश ने की उच्च स्तरीय जांच की मांग

|
Google Oneindia News

लखनऊ, 14 जून: यूपी के प्रतापगढ़ में टीवी पत्रकार सुलभ श्रीवास्तव की संदिग्ध हालत में मौत हो गई। दो दिन पहले ही सुलभ ने अपनी हत्या की आशंका जताते हुए प्रयागराज जोन के एडीजी को पत्र लिखा था। पत्र में कहा था कि शराब माफियाओं से उनकी जान को खतरा है। पुलिस सुलभ की मौत की वजह सड़क हादसा बता रही है। वहीं, परिजन हत्या की आशंका जता रहे हैं। इस मामले में सियायत गरमा गई है। विपक्षी दलों के नेता प्रदेश की योगी सरकार पर हमलावर हो गए हैं। कांग्रेस महासचिव प्रियंका गांधी के बाद आप सांसद संजय सिंह और अब समाजवादी पार्टी के अध्यक्ष अखिलेश यादव ने यूपी सरकार पर निशाना साधा है। साथ ही, मामले की उच्च स्तरीय जांच की मांग की है।

    UP Journalist Death: Pratapgarh में TV Journalist की संदिग्ध मौत | वनइंडिया हिंदी
    अखिलेश यादव ने किया ट्वीट

    अखिलेश यादव ने किया ट्वीट

    सपा अध्यक्ष अखिलेश यादव ने ट्वीट किया, ''प्रतापगढ़ में एक कथित हादसे में एक टीवी पत्रकार की संदिग्ध मौत बेहद दुखद है। भावभीनी श्रद्धांजलि! भाजपा सरकार इस मामले में एक उच्च स्तरीय जाँच बैठाकर परिजन और जनता को ये बताए कि पत्रकार द्वारा शराब माफिया के हाथों हत्या की आशंका जताने के बाद भी उन्हें सुरक्षा क्यों नहीं दी गयी।''

    सड़क हादसा बताया जा रहा मौत की वजह

    सड़क हादसा बताया जा रहा मौत की वजह

    पत्रकार सुलभ श्रीवास्तव की मौत की वजह सड़क हादसा बताया जा रहा है। कहा जा रहा है कि कटरा इलाके में सुलभ की बाइक बारिश की वजह से अनियंत्रित होकर पलट गई। सुलभ के सिर पर गंभीर चोटें आई हैं। हादसा उस वक्त हुआ जब सुलभ क्राइम ब्रांच द्वारा अपराधियों को पकड़े जाने की खबर की कवरेज कर घर लौट रहे थे। इस मामले में सियायत गरमा गई है। विपक्ष दलों के नेता प्रदेश की योगी सरकार पर हमला कर रहे हैं। आम आदमी पार्टी के सांसद संजय सिंह ने इसे हत्या करार दिया है। उन्होंने ट्वीट कर कहा, "शराब माफियाओं के खिलाफ खबर चलाने के कारण यूपी में एक पत्रकार की हत्त्या हो जाती है जबकि एक दिन पहले सुलभ जी ने एडीजी को पत्र लिखकर हत्त्या की आशंका जताई थी लेकिन सब सोते रहे।"

    'शराब माफिया अलीगढ़ से प्रतापगढ़ तक'

    'शराब माफिया अलीगढ़ से प्रतापगढ़ तक'

    कांग्रेस महासचिव प्रियंका गांधी वाड्रा ने सोमवार को ट्वीट किया, ''शराब माफिया अलीगढ़ से प्रतापगढ़ तक: पूरे प्रदेश में मौत का तांडव करें। उप्र सरकार चुप।पत्रकार सच्चाई उजागर करे, प्रशासन को खतरे के प्रति आगाह करे। सरकार सोई है। क्या जंगलराज को पालने-पोषने वाली उप्र सरकार के पास पत्रकार सुलभ श्रीवास्तव जी के परिजनों के आंसुओं का कोई जवाब है?''

    प्रतापगढ़ में पत्रकार की संदिग्ध मौत, जताई थी हत्या की आशंका, प्रियंका ने कहा- सरकार सोई हैप्रतापगढ़ में पत्रकार की संदिग्ध मौत, जताई थी हत्या की आशंका, प्रियंका ने कहा- सरकार सोई है

    English summary
    pratapgarh tv journalist death case akhilesh yadav demands high level inquiry
    देश-दुनिया की ताज़ा ख़बरों से अपडेट रहने के लिए Oneindia Hindi के फेसबुक पेज को लाइक करें
    For Daily Alerts
    तुरंत पाएं न्यूज अपडेट
    Enable
    x
    Notification Settings X
    Time Settings
    Done
    Clear Notification X
    Do you want to clear all the notifications from your inbox?
    Settings X
    X