• search
लखनऊ न्यूज़ के लिए
नोटिफिकेशन ऑन करें  

यूपी में हो रही आपराधिक घटनाओं पर भड़कीं मायावती, कहा- ऐसी कानून-व्यवस्था किस काम की?

|

लखनऊ। उत्तर प्रदेश में हत्या, बलात्कार और लूट जैसी घटनाओं में जबरदस्त बढ़ोतरी हुई है। विपक्ष इस मुद्दे पर लगातार सरकार को घेरने में जुटा है। इस बीच बसपा सुप्रीमो मायावती ने कानून-व्यवस्था को लेकर योगी सरकार पर हमला बोला है। मायावती ने कहना है कि तमाम निर्देशों के बावजूद भी ऐसी घटनाएं नहीं रुक रहीं तो सरकार की नीयत पर सवाल उठना स्वाभाविक है। मायावती ने यहां तक कह दिया कि ऐसी कानून-व्यवस्था किस काम की जब छात्राओं का घर से बाहर ही निकलना मुश्किल हो गया हो।

mayawati targets up govt over law and order situation in uttar pradesh

मायावती ने कहा- सरकार की नीयत पर सवाल उठना स्वाभाविक है

मायावती ने शुक्रवार को ट्वीट किया, ''यूपी सरकार की अनंत घोषणाओं व निर्देशों आदि के बावजूद दलितों व महिलाओं पर अन्याय-अत्याचार, बलात्कार व हत्या आदि की घटनायें नहीं रुक रही हैं, तो इससे सरकार की नीयत पर सवाल उठना स्वाभाविक है। खासकर छात्राओं का घर से बाहर निकलना मुश्किल हो गया है तो ऐसी कानून-व्यवस्था किस काम की?''

बरेली में पिछले 24 घंटों में तीन हत्याएं

बता दें, यूपी में लूट, हत्या और बलात्कार जैसी घटनाएं रुकने का नाम नहीं ले रही हैं। बेखौफ बदमाश खुलेआम वारदात को अंजाम देकर पुलिस को चुनौती दे रहे हैं। बीते दिनों सीएम सिटी गोरखपुर में बदमाशों ने सरेआम एक प्रिंसिपल की गोली मारकर हत्या कर दी थी। इस हमले में प्रिंसिपल की बेटी को भी गोलियां लगी हैं, जिसका अस्पताल में उपचार चल रहा है। वहीं, बरेली जिले में बीते 24 घंटे में हत्या की तीन वारदातें सामने आ चुकी हैं। गुरुवार देर रात शहर के पॉश इलाके डीडी पुरम में एक अज्ञात युवक का शव बरामद हुआ। शुक्रवार सुबह होते ही फरीदपुर में भी अज्ञात युवक की हत्या कर लाश को जला दिया गया। वहीं, बहेड़ी थाना इलाके में 5 साल के बच्‍चे की अपहरण के बाद गला काटकर हत्‍या कर दी गई।

प्रियंका गांधी का केंद्र सरकार पर हमला, कहा- ईस्ट इंडिया कंपनी राज की याद दिलाता है भाजपा का कृषि बिल

देश-दुनिया की ताज़ा ख़बरों से अपडेट रहने के लिए Oneindia Hindi के फेसबुक पेज को लाइक करें
English summary
mayawati targets up govt over law and order situation in uttar pradesh
For Daily Alerts
तुरंत पाएं न्यूज अपडेट
Enable
x
Notification Settings X
Time Settings
Done
Clear Notification X
Do you want to clear all the notifications from your inbox?
Settings X
X