• search
लखनऊ न्यूज़ के लिए
नोटिफिकेशन ऑन करें  

UP में 5500 करोड़ का निवेश करेगी स्‍वीडिश कंपनी IKEA,नोएडा में खुलेगा सेंटर

|

लखनऊ। उत्‍तर प्रदेश की योगी सरकार ने शुक्रवार को फर्नीचर व होम अप्‍लायेंस बनाने वाली दुनिया की सबसे बड़ी कंपनियों में से एक आइकिया के साथ एमओयू साइन किया है। आईकिया नोएडा में भारत का अपना सबसे बड़ा आउटलेट शुरू करने जा रही है। स्‍वीडेन की कंपनी यूपी में साढ़े पांच हजार करोड़ रुपए का निवेश करेगी। कंपनी के साथ वर्चुअल एमओयू हस्‍ताक्षर कार्यक्रम में प्रदेश के मुख्‍यमंत्री योगी आदित्‍यनाथ खुद मौजूद रहे। नोएडा में खुल रहे स्टोर से जहां हजारों युवाओं के लिए रोजगार के दरवाजे खुलने जा रहे हैं, वहीं कंपनी की नजर अगले चरण में पूर्वांचल और मध्‍य यूपी के करीब दर्जन भर शहरों पर है। कंपनी की योजना आने वाले दिनों में यूपी के अन्‍य शहरों में विस्‍तार की है।

IKEA to invest Rs 5500 crore in up signs mou with yogi govt

आईकिया नोएडा में अपना पहला स्‍टोर शुरू करने जा रही है। इसके लिए आइकिया प्रबंधन ने नोएडा में यूपी सरकार से 850 करोड़ की जमीन खरीदी है। नोएडा में जमीन की बिक्री की स्टांप ड्यूटी से ही यूपी को 60 करोड़ रुपए का राजस्व मिला है। आइकिया के साथ एमओयू हस्‍ताक्षर को यूपी में रोजगार के लिहाज से योगी सरकार की बड़ी सफलता माना जा रहा है। दुनिया के 52 देशों में अपने आउटलेट खोल कर बड़ी संख्‍या में रोजगार और स्‍वरोजगार उपलब्‍ध कराने वाली स्‍वीडन की कंपनी नोएडा के रास्‍ते यूपी में साढ़े पांच हजार करोड़ का निवेश कर प्रत्‍यक्ष और अप्रत्‍यक्ष तौर से करीब 50 हजार लोगों को रोजगार उपलब्‍ध कराने जा रही है। योगी सरकार ने आइकिया को आउटलेट बनाने के लिए नोएडा में 47833 वर्ग मीटर जमीन उपलब्‍ध कराई है।

बता दें, कोरोना काल के दौरान देश विदेश की कंपनियों की तरफ से यूपी में 57 हजार करोड़ के निवेश के प्रस्‍ताव मिले थे। आईकिया, अमेरिका, यूरोप, उत्‍तरी अफ्रीका, मध्‍य पूर्व और पूर्वी एशिया समेत 52 देशों में 433 से ज्‍यादा सेंटर संचालित करने वाली कंपनी है। अब यह कंपनी यूपी में बड़ा निवेश करने की तैयारी में है। कंपनी के सीएफओ पीटर बेटजेल ने शुक्रवार को इसके संकेत भी दे दिए हैं। बेटजेल ने यूपी में संभावनाओं की चर्चा करते हुए कहा क‍ि यह हमारे लिए बहुत महत्‍वपूर्ण है। हम यहां बेहतर और बड़ा काम करना चाहेंगे।

कंपनी 2025 तक योगी सरकार के साथ तय योजना के मुताबिक अपने सभी आउटलेट शुरू कर देगी। फर्नीचर के साथ होम अप्‍लाएंस और फूड के क्षेत्र में भी उतर चुकी आइकिया के जरिए योगी सरकार यूपी के लोगों को नौकरी के साथ ही बड़ी तादाद में खुद के व्‍यापार का रास्‍ता भी तैयार करने जा रही है। जानकारों के मुताबिक, कंपनी अपने उत्‍पादों को ऑनलाइन बेचने के साथ ही अलग अलग शहरों में फ्रेंचाइजी और शोरूम भी खोलेगी, जिनके जरिए बड़ी संख्‍या में लोगों को व्‍यापार और रोजगार का मौका मिल सकेगा। इसके साथ ही स्‍थानीय स्‍तर पर हुनरमंद और कारीगरों को भी कंपनी के जरिए काम मिल सकेगा।

कंपनी ने दिसंबर 2018 में उत्तर प्रदेश सरकार के साथ नोएडा और राज्य के अन्य शहरों में 5500 करोड़ रुपए के निवेश का प्रस्‍ताव दिया था। उद्योग मंत्री सतीश महाना के मुताबिक, आइकिया को नोएडा में 47,833 वर्ग मीटर जमीन की रजिस्‍ट्री कर दी गई है। आइकिया ने 2016 में हैदराबाद में अपना पहला सेंटर 700 करोड़ रुपए की लागत से शुरू किया था। आइकिया की योजना भारत में 10500 करोड़ रुपए का निवेश कर 2025 तक कुल 25 सेंटर खोलने की है। कंपनी भारत में कुल निवेश का आधे से अधिक हिस्‍सा यूपी में करने जा रही है। बता दें कि पिछले 4 साल में नोएडा में यह पांचवां बड़ा विश्‍वस्‍तरीय निवेश है। इससे पहले माइक्रोसाफ्ट, सैमसंग, हीरानंदानी समूह का डाटा सेंटर और थैलेस कंपनी बड़ा निवेश कर चुकी हैं, जबकि फिल्‍म सिटी और फिन्‍टेक जैसी बड़ी परियोजनाओं पर काम शुरू हो गया है।

पीएम किसान निधि से संबंधित समस्याओं के निपटारे के लिए योगी सरकार का अभियान

देश-दुनिया की ताज़ा ख़बरों से अपडेट रहने के लिए Oneindia Hindi के फेसबुक पेज को लाइक करें
English summary
IKEA to invest Rs 5500 crore in up signs mou with yogi govt
For Daily Alerts
तुरंत पाएं न्यूज अपडेट
Enable
x
Notification Settings X
Time Settings
Done
Clear Notification X
Do you want to clear all the notifications from your inbox?
Settings X
X