• search
लखनऊ न्यूज़ के लिए
नोटिफिकेशन ऑन करें  

बीजेपी MLC ने खुशी दुबे की रिहाई के लिए सीएम योगी को लिखा पत्र, कहा- 10 माह बाद भी तय नहीं हुआ कोई आरोप

|
Google Oneindia News

लखनऊ, जून 03: कानपुर के बिकरू शूटआउट कांड से चर्चाओं में आईं विकास दुबे के शॉर्प शूटर अमर दुबे की पत्नी खुशी दुबे एक बार फिर चर्चाओं में है। दरअसल, खुशी दुबे के इस बार चर्चा का कारण भारतीय जनता पार्टी (बीजेपी) के एमएलसी उमेश द्विवेदी का सीएम योगी आदित्यनाथ को लिखा पत्र है। बीजेपी एमएलसी उमेश द्विवेदी ने सीएम योगी आदित्यनाथ पत्र लिखकर खुशी दुबे की रिहाई का मामला उठाया है। आपको बता दें कि इससे पहले आम आदमी पार्टी के राज्यसभा सांसद एवं यूपी प्रभारी संजय सिंह ने खुशी की रिहाई की मांग उठाई थी।

BJP MLC Umesh Dwivedi writes letter to CM Yogi for the release of Khushi Dubey

खुशी दुबे को किया जाए रिहा: बीजेपी एमएलसी
बीजेपी एमएलसी उमेश द्विवेदी ने अपने पत्र में लिखा, '10 माह पूर्व बिकरू कांड में एक महिला खुशी दुबे की शादी 9 दिनों पहले ही हुई थी और उसे गिरफ्तार किया गया। आज 10 महीने बाद भी उसके ऊपर कोई आरोप तय नहीं हुआ है। इसके बावजूद भी उसे जेल की सलाखों के पीछे रहना पड़ रहा है। पत्र में आगे जिक्र करते हुए उमेश द्विवेदी ने लिखा कि खुशी दुबे का स्वास्थ्य ठीक नहीं है। खुशी गंभीर अवस्था में राजधानी लखनऊ के मेदांता अस्पताल में जीवन और मौत के बीच संघर्ष कर रही है। ऐसी स्थिति में उसका बेहतर इलाज किया जाए और यदि अब तक उसके ऊपर कोई आरोप सिद्ध नहीं हुआ है तो उसे रिहा कर दिया जाए।

संप्रक्षण गृह में बंद है खुशी दुबे
खुशी को शूटआउट के बाद गिरफ्तार किया था। हालांकि वह नाबालिग थी। इसलिए कोर्ट के आदेश पर खुशी को 14 सितंबर, 2020 को बाराबंकी संप्रेक्षण गृह भेज दिया गया था। खुशी की अमर दुबे से 29 जून, 2020 को शादी हुई थी। इसके बाद 2 जुलाई, 2020 को बिकरू में पुलिस टीम पर हमला करने में आरोपी पाए गए अमर दुबे को पुलिस मुठभेड़ में आठ जुलाई को मार दिया गया था। इसके बाद 10 जुलाई को एसटीएफ की टीम ने विकास दुबे का एनकाउंटर कर दिया था।

ये भी पढ़ें:- बिकरू कांड: अमर दुबे की पत्नी खुशी की बिगड़ी तबीयत, सीने में दर्द की शिकायत के बाद अस्पताल में कराया गया भर्तीये भी पढ़ें:- बिकरू कांड: अमर दुबे की पत्नी खुशी की बिगड़ी तबीयत, सीने में दर्द की शिकायत के बाद अस्पताल में कराया गया भर्ती

क्या है कानपुर शूटआउट?
कानपुर के चौबेपुर थाना के बिकरु गांव में 2 जुलाई की रात गैंगस्टर विकास दुबे और उसकी गैंग ने 8 पुलिसवालों की हत्या कर दी थी। अगली सुबह से ही यूपी पुलिस विकास गैंग के सफाए में जुट गई। 9 जुलाई को उज्जैन के महाकाल मंदिर से सरेंडर के अंदाज में विकास की गिरफ्तारी हुई थी। 10 जुलाई की सुबह कानपुर से 17 किमी पहले पुलिस ने विकास को एनकाउंटर में मार गिराया था। इस मामले में अब तक मुख्य आरोपी विकास दुबे समेत छह एनकाउंटर में मारे गए थे।

English summary
BJP MLC Umesh Dwivedi writes letter to CM Yogi for the release of Khushi Dubey
देश-दुनिया की ताज़ा ख़बरों से अपडेट रहने के लिए Oneindia Hindi के फेसबुक पेज को लाइक करें
For Daily Alerts
तुरंत पाएं न्यूज अपडेट
Enable
x
Notification Settings X
Time Settings
Done
Clear Notification X
Do you want to clear all the notifications from your inbox?
Settings X
X