• search
लखनऊ न्यूज़ के लिए
नोटिफिकेशन ऑन करें  

पारस हॉस्पिल में 22 मरीजों की मौत पर बोले अखिलेश यादव, UP की भाजपा सरकार खुद पर दर्ज करे FIR

|
Google Oneindia News

लखनऊ, जून 09: आगरा जिले के पारस हॉस्पिटल में मॉक ड्रिल के दौरान हुई 22 लोगों की मौत के बाद हड़कंप मच गया है, तो वहीं दूसरी तरफ इस मामले पर अब सियासत भी गरमा गई है। हॉस्पिटल में हुए हादसे के बाद समाजवादी पार्टी के अध्यक्ष व यूपी के पूर्व मुख्यमंत्री अखिलेश यादव ने प्रदेश की योगी आदित्यनाथ सरकार को घेरा है। साथ ही, इस घटना को दुखद बताते हुए यूपी की बीजेपी सरकार को नसीहत दी है कि सरकार अपने खिलाफ खुद एफआईआर करे।

    Agra Mock Drill: Paras Hospital के Seal होने पर क्या बोले मालिक Dr.Arinjay Jain? | वनइंडिया हिंदी

    akhilesh yadav criticizes up government for no more of patients due to lack of oxygen

    पूर्व सीएम अखिलेश यादव ने ट्वीट करते हुए कहा, 'आगरा के एक अस्पताल में ऑक्सीजन मॉकड्रिल में 22 लोगों की मौत की ख़बर बेहद दुःखद है। दिवंगतों को श्रद्धांजलि! ये घटना उत्तर प्रदेश की 'चिकित्सा व्यवस्था' पर एक बड़ा धब्बा है। शासन-प्रशासन द्वारा इस मामले को दबाना घोर आपराधिक कृत्य है। उप्र की भाजपा सरकार अब अपने खिलाफ FIR करे।' इससे पहले कांग्रेस ने भी योगी सरकार को हादसे पर घेरा है।

    दरअसल, आगरा जिले के 'श्रीपारस अस्पताल' में ऑक्सीजन की कमी के मॉक ड्रिल के दौरान 22 लोगों की मौत का दावा किया जा रहा है। इसका वीडियो सोशल मीडिया पर वायरल हो रहा है। हादसे के सामने आने के बाद अस्पताल को सीज कर दिया गया है, वहीं संचालक के खिलाफ केस दर्ज हो चुका है। सरकार की ओर से आदेश दिया गया है कि इस पूरे मामले की जांच कराई जाए। अस्पताल को सीज करने के बाद मरीजों को दूसरी जगह ट्रांसफर किया जा रहा है।

    ये भी पढ़ें:- आगरा में 22 मरीजों की मौत को लेकर गरमाई सियासत, प्रियंका गांधी ने वीडियो ट्वीट कर पूछा 'जिम्मेदार कौन'ये भी पढ़ें:- आगरा में 22 मरीजों की मौत को लेकर गरमाई सियासत, प्रियंका गांधी ने वीडियो ट्वीट कर पूछा 'जिम्मेदार कौन'

    कैसे सामने आया मामला
    दरअसल, अस्पताल के मालिक डॉ. अरिन्जय जैन का एक वीडियो सामने आया है। जिसमें वो कुछ लोगों से यह कहते हुए सुनाई दे रहे हैं कि मॉक ड्रिल के दौरान 5 मिनट के लिए ऑक्सीजन की सप्लाई बाधित हुई थी। हो सकता है कि कि उसी की वजह से 22 लोगों की जान गई हो। हालांकि, वीडियो वायरल होने के बाद मचे हंगामे पर डॉ. अरिन्जय ने सफाई दी है। उन्होंने कहा, 'वीडियो को तोड़मरोड़ कर पेश किया गया है।'

    English summary
    akhilesh yadav criticizes up government for no more of patients due to lack of oxygen
    देश-दुनिया की ताज़ा ख़बरों से अपडेट रहने के लिए Oneindia Hindi के फेसबुक पेज को लाइक करें
    For Daily Alerts
    तुरंत पाएं न्यूज अपडेट
    Enable
    x
    Notification Settings X
    Time Settings
    Done
    Clear Notification X
    Do you want to clear all the notifications from your inbox?
    Settings X
    X