• search
कोलकाता न्यूज़ के लिए
नोटिफिकेशन ऑन करें  

kolkata fire: कोलकाता इमारत में आग लगने से 9 की मौत, घटनास्थल पर रात में पहुंची CM ममता

|

कोलकाता: कोलकाता के स्ट्रैंड रोड पर स्थित एक बहुमंजिला इमारत की 13वीं फ्लोर पर भीषण आग लग गई है। इस हादसे में 4 दमकलकर्मियों सहित 9 की मौत हो गई है। जिस बिल्डिंग में आग लगी है वो रेलवे से संबंधित है। केंद्रीय रेल मंत्री पीयूष गोयल ने कहा कि 4 फायर फाइटर, 2 रेलवे कर्मियों और एक पुलिस एएसआई सहित 9 लोगों की घटना में मौत हो गई है। मृतकों के परिवारों के प्रति मेरी गंभीर संवेदनाएं हैं। ममता बनर्जी की सरकार ने मृतकों के परिवारों को 10-10 लाख रुपये की आर्थिक मदद की घोषणा की है। वहीं पीएमओ ने कहा, पीएम नरेंद्र मोदी ने कोलकाता में दुखद आग के कारण अपनी जान गंवाने वालों के परिजनों के लिए प्रधानमंत्री राष्ट्रीय राहत कोष से 2-2 लाख रुपये की अनुग्रह राशि की मंजूरी दी है। गंभीर रूप से घायल लोगों को 50,000 रुपये दिए जाएंगे।

kolkata fire
    Kolkata Fire: भीषण आग में 9 लोगों की मौत, मौके पर पहुंची Mamata Banerjee | वनइंडिया हिंदी

    राष्ट्रपति और पीएम ने जताया दुख

    राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद ने कोलकाता में आग लगने की घटना पर दुख जताते हुए जान गंवाने वाले लोगों के परिजनों के प्रति अपनी संवेदनाएं व्यक्त की और घायलों के जल्द ठीक होने की कामना की।

    पीएम नरेंद्र मोदी ने घटना पर दुख प्रकट किया है। पीएम मोदी ने मंगलवार (9 मार्च) की सुबह ट्वीट किया, कोलकाता में आग की त्रासदी के कारण लोगों की जान चली गई। दुख की इस घड़ी में मेरे विचार शोक संतप्त परिवारों के साथ हैं। घायलों को जल्द से जल्द ठीक किया जाए।

    आधी रात को सीएम ममता बनर्जी घटनास्थल पर पहुंची

    घटना की जानकारी मिलते ही आधी रात को सीएम ममता बनर्जी घटनास्थल पर पहुंच गई। सीएम ममता के अलावा मौके पर मंत्री सुजीत बोस और फिरहाद हाकिम भी मौजूद थे। घटनास्थल का दौरा करते वक्त सीएम ममता ने कहा, "यह बहुत दुखद है। प्रत्येक मृतक के परिजनों को 10-10 लाख रुपये की अनुग्रह राशि दी जाएगी और परिवार के एक सदस्य को सरकारी नौकरी दी जाएगी।"

    ममता बनर्जी ने कहा, हमारे 7 लोग मारे गए हैं (अब 9 हो गए हैं) , जिनमें से 4 फायर फाइटर थे। जो लिफ्ट के माध्यम से जल्दी से घटनास्थल पर यानी 13वें फ्लोर पर पहुंचना चाहते थे। लेकिन लिफ्ट में करंट आ गया। जिससे ये घटना हो गई।

    रेलवे पर लापरवाही के सीएम ममता ने लगाए आरोप

    ममता बनर्जी ने कहा, ये बिल्डिंग रेलवे की है। यह उनकी जिम्मेदारी है लेकिन वे भवन का नक्शा प्रदान करने में असमर्थ थे। हमारे फायर डिपार्टमेंट ने बिल्डिंग में जाने के लिए रेलवे वाले लोगों से बिल्डिंग का मैप मांगा, लेकिन कोई हेल्प नहीं की गई। मैं इस त्रासदी पर राजनीति नहीं करना चाहती हूं।

    बता दें कि जिस इमारत में आग लगी है, उसमें पूर्व रेलवे और दक्षिण पूर्व रेलवे का जोनल कार्यालय है और ग्राउंड फ्लोर पर एक कंप्यूटराइज टिकट बुकिंग केंद्र है। पूर्वी रेलवे के महाप्रबंधक मनोज जोशी ने कहा है, आग के कारणों की जांच के लिए रेलवे द्वारा एक उच्च स्तरीय टीम का गठन किया गया है। हम किसी भी जांच में राज्य के साथ सहयोग करेंगे।

    मनोज जोशी ने कहा, आग लगने से यात्री आरक्षण प्रणाली की एक महत्वपूर्ण स्थान प्रभावित हुई है। सेवा निलंबित कर दी गई है। CRIS के माध्यम से आपदा वसूली प्रणाली के माध्यम से इसे फिर से रिकवर किया जाएगा। जिसमें बैकअप डेटा है।

    उन्होंने कहा कि रेलवे के अधिकारी वहां मौजूद थे, जो भी आवश्यक था उसके लिए प्रयास किए जा रहे थे। शायद किसी भी नक्शे को तुरंत उपलब्ध नहीं कराया जा सका होगा, रेलवे के कर्मचारी सदस्य इमारत के बारे में मार्गदर्शन करने के लिए मौजूद थे।

    ये भी पढ़ें- ममता बनर्जी बोलीं- एक दिन देश का नाम ही मोदी पर हो जाएगाये भी पढ़ें- ममता बनर्जी बोलीं- एक दिन देश का नाम ही मोदी पर हो जाएगा

    English summary
    kolkata fire 7 dead including four firefighters CM announces Rs 10 lakh ex gratia
    देश-दुनिया की ताज़ा ख़बरों से अपडेट रहने के लिए Oneindia Hindi के फेसबुक पेज को लाइक करें
    For Daily Alerts
    तुरंत पाएं न्यूज अपडेट
    Enable
    x
    Notification Settings X
    Time Settings
    Done
    Clear Notification X
    Do you want to clear all the notifications from your inbox?
    Settings X
    X