• search
कोलकाता न्यूज़ के लिए
नोटिफिकेशन ऑन करें  

बीजेपी MP सुनील कुमार मंडल ने CRPF को लिखा पत्र, कहा- मेरी सुरक्षा वापस ले लो, मैं इसका खर्च नहीं उठा सकता

|
Google Oneindia News

कोलकाता, 2 अगस्त। भाजपा सांसद सुनील कुमार मंडल ने केंद्रीय रिजर्व पुलिस फोर्स को उन्हें प्रदान की गई सुरक्षा वापस लेने के लिए पत्र लिखा है। उन्होंने अपने पत्र में लिखा कि, 'गृह मंत्रालय की ओर से मुझे जो सुरक्षा प्रदान की गई थी उसे वापस ले लिया जाए, क्योंकि मैं सिक्योरिटी का खर्च उठाने की स्थिति में नहीं हूं।'

Sunil Kumar Mandal

बता दें कि गृह मंत्रालय ने 2 जनवरी को सुनील कुमार मंडल के लिए वाई प्लस श्रेणी की सुरक्षा मंजूर की थी। मालूम हो कि 19 दिसंबर, 2020 को मंडल पश्चिम बंगाल विधानसभा में विपक्ष के नेता सुवेंदु अधिकारी सहित 10 विधायकों के साथ गृह मंत्री अमित शाह की उपस्थिति में भाजपा में शामिल हो गए थे। वह पूर्वी बर्दवान से सांसद हैं।

यह भी पढ़ें: Indian Railways: झांसी-कोलकाता के बीच चलेंगी सुपरफास्ट स्पेशल ट्रेनें, बुकिंग शुरू, चेक करें पूरी लिस्ट

हाल ही में मंडल टीएमसी नेता मुकुल रॉय से मिले थे, जिसके बाद मंडल के दोबारा टीएमसी में शामिल होने के कयास लगाए जा रहे थे। हालांकि मंडल ने टीएमसी में दोबारा वापस जाने वाली खबरों का खंडन किया था।

बता दें की टीएमसी से निकलकर बीजेपी में शामिल होने के बाद सुनील मंडल ने संसद सदस्य से इस्तीफा नहीं दिया था। टीएमसी ने दलबदल विरोधी नियमो के तहत मंडल को अयोग्य घोषित किए जाने को लेकर लोकसभा अध्यक्ष को पत्र लिखा था, जिसके बाद पिछले महीने लोकसभा सचिवालय ने उन्हें नोटिस जारी किया था।

सोमवार को एक टीवी चैनल से बातचीत में मंडल ने कहा कि वह टीएमसी से सांसद है और उसी में बने रहेंगे। उन्होंने कहा कि उन्होंने पार्टी से इस्तीफा नहीं दिया है। उन्होंने कहा कि, 'मैं टीएमसी में था और टीएमसी में ही बना रहूंगा। मैं संसद में टीएमसी के अन्य सांसदों के साथ मिलकर काम करूंगा।'

English summary
BJP MP Sunil Kumar Mandal wrote a letter to CRPF, said – take back my security
देश-दुनिया की ताज़ा ख़बरों से अपडेट रहने के लिए Oneindia Hindi के फेसबुक पेज को लाइक करें
For Daily Alerts
तुरंत पाएं न्यूज अपडेट
Enable
x
Notification Settings X
Time Settings
Done
Clear Notification X
Do you want to clear all the notifications from your inbox?
Settings X
X