• search
कोलकाता न्यूज़ के लिए
नोटिफिकेशन ऑन करें  

पश्चिम बंगाल: बैरकपुर कोर्ट ने भाजपा सांसद अर्जुन सिंह के घर की तलाशी लेने की पुलिस की याचिका को किया खारिज

|
Google Oneindia News

कोलकाता, 14 सितंबर। बैरकपुर कोर्ट ने आज भाजपा सांसद अर्जुन सिंह के आवास की तलाशी लेने की पुलिस की याचिका खारिज कर दी। उनके आवास के बाहर बम फेंके जाने की दो घटनाओं के बाद पुलिस ने स्वत: संज्ञान लेते हुए मामला दर्ज किया था और अदालत से उनके घर की तलाशी लेने की अपील की थी। बता दें कि पश्चिम बंगाल के भाजपा सांसद अर्जुन सिंह के घर के बाहर आज फिर बम फेंका गया। इससे पहले 8 सितंबर को भी उनके घर पर बम फेंके गए थे। सोमवार को एनआईए ने उस घटना की जांच की थी, उसके अगले ही दिन यानी आज एक बार फिर से उनके घर पर हमला किया गया।

MP Arjun Singh

टीएमसी के गुंडों ने किया हमला
बीजेपी सांसद अर्जुन सिंह ने इस घटना के पीछे टीएमसी को जिम्मेदार ठहराया है। उन्होंने कहा कि यह हमला टीएमसी के गुंडों ने किया है।

यह भी पढ़ें: 13 हॉरर फिल्में देखने के बदले कंपनी देगी 95 हजार रुपए, है दम तो जल्दी करें अप्लाई

टीएमसी ने किया पलटवार
वहीं, टीएमसी ने अर्जुन सिंह के आरोपों पर पलटवार करते हुए कहा कि सांसद ने खुद ही अपने घर पर हमला करवाया है ताकि राजनीतिक तौर पर सुर्खियां बटोरी जा सकें।

एनआईए को चुनौती देने की कोशिश
इस घटना को लेकर अर्जुन सिंह ने कहा कि मेरे घर पर आज दूसरी बार बम फेंका गया। पश्चिम बंगाल सरकार एनआईए को चुनौती दे रही है। डर का महौल बनाने की कोशिश की जा रही है। एनआईए को जांच करनी चाहिए कि ऐसे विस्फोटक कहां से लाए जा रहे हैं। मैंने FIR दर्ज करवाई है।

मेरी हत्या करना चाहती है टीएमसी
अर्जुन सिंह ने कहा कि तृणमूल कांग्रेस उनकी और उनके परिवार वालों की हत्या करना चाहती है। उन्होंने कहा कि यह पूरी तरह सोच समझकर किया गया हमला है। इसके पीछे टीएमसी है। वो लोग मुझे और मेरे लोगों को मारने की कोशिश कर रहे हैं। बंगाल में गुंडाराज है।

English summary
Barrackpore Court today dismissed the plea of Police to search BJP MP Arjun Singh's residence
देश-दुनिया की ताज़ा ख़बरों से अपडेट रहने के लिए Oneindia Hindi के फेसबुक पेज को लाइक करें
For Daily Alerts
तुरंत पाएं न्यूज अपडेट
Enable
x
Notification Settings X
Time Settings
Done
Clear Notification X
Do you want to clear all the notifications from your inbox?
Settings X
X