• search
कानपुर न्यूज़ के लिए
नोटिफिकेशन ऑन करें  

विकास दुबे: उज्जैन पुलिस की रिपोर्ट में उसका नाम जिसे यूपी सरकार देगी 5 लाख का इनाम, कानपुर पुलिस ने कहा- इस शासनादेश की जानकारी नहीं

|

कानपुर। उत्तर प्रदेश के कानपुर के बिकरू गांव में आठ पुलिसकर्मियों की हत्या के बाद वारदात को अंजाम देने वाला विकास दुबे फरार हो गया था। उसकी तलाश में यूपी पुलिस और एसटीएफ की टीम लगी थी। विकास दुबे के बारे में सूचना देने वाले को पांच लाख का इनाम देने की घोषणा यूपी सरकार ने की थी। उज्जैन के महाकाल मंदिर में गए विकास दुबे को वहां की पुलिस ने गिरफ्तार कर यूपी पुलिस को सौंप दिया था। विकास दुबे कानपुर लाते समय रास्ते में एनकाउंटर में मारा गया था। उसकी गिरफ्तारी पर घोषित पांच लाख का इनाम किसको दिया जाय, इस बारे में अभी तक फैसला नहीं हो पाया है। उज्जैन पुलिस ने कहा कि इस पर रिपोर्ट लगभग तैयार है जो जल्दी ही कानपुर पुलिस को सौंपी जाएगी। उधर कानपुर पुलिस ने कहा, उसके संज्ञान में नहीं है कि विकास दुबे पर पांच लाख का इनाम घोषित किया गया था।

Ujjain Police will submit report to Kanpur Police about who will get bounty in Vikas Dubey case

उज्जैन पुलिस के मुताबिक, विकास दुबे को यहां की पुलिस ने गिरफ्तार किया था इसलिए पांच लाख का इनाम यूपी सरकार ने उसे ही देने का प्रस्ताव दिया था। यह इनाम किसको दिया जाय, उसकी तलाश के लिए उज्जैन पुलिस ने भी एक कमेटी बना दी थी जिसमें तीन एडिश्नल एसपी रखे गए। इस कमेटी की जिम्मदारी उस शख्स को खोजने की थी जिसने सबसे पहले विकास दुबे के बारे में सूचना दी थी। विकास दुबे की गिरफ्तारी में महाकाल मंदिर के कर्मचारियों की भी भूमिका सामने आई थी। कमेटी को यह तय करना था कि विकास दुबे के बारे में पहली सूचना पुलिस ने दी थी या खुफिया तंत्र ने या फिर महाकाल मंदिर के किसी कर्मचारी ने उसके बारे में बताया था?

इस कमेटी की रिपोर्ट पर उज्जैन पुलिस ने 15 दिन पहले कहा था कि अभी जांच जारी है जिसे जल्दी ही पूरा कर लिया जाएगा, इनाम का हकदार खोजा जा चुका है। सभी पहलुओं पर जांच के बाद रिपोर्ट जल्दी ही उज्जैन पुलिस कानपुर पुलिस को सौंप देगी। इस बारे में उज्जैन के डीआईजी मनीष कपूरिया ने बताया है कि रिपोर्ट करीब-करीब तैयार हो चुकी है लेकिन समीक्षा में कुछ पहलुओं पर और आगे जांच की जा रही है। लाइव हिंदुस्तान की खबर के मुताबिक, पांच लाख के इनाम के शासनादेश या प्रस्ताव के बारे में कानपुर के उच्चाधिकारियों ने अनभिज्ञता जाहिर की है। एडीजी कानपुर जय नारायण सिंह और आईजी रेंज कानपुर मोहित अग्रवाल ने कहा कि इस तरह का कोई प्रस्ताव संज्ञान में ही नहीं है। जबकि उज्जैन पुलिस का कहना है कि कानपुर पुलिस की तरफ से ही उनके पास ऐसा प्रस्ताव आया था।

गैंगस्टर विकास दुबे के भाई और पत्नी समेत 9 लोगों पर FIR दर्ज, फर्जी दस्तावेजों से सिम और शस्त्र लेने का आरोपगैंगस्टर विकास दुबे के भाई और पत्नी समेत 9 लोगों पर FIR दर्ज, फर्जी दस्तावेजों से सिम और शस्त्र लेने का आरोप

English summary
Ujjain Police will submit report to Kanpur Police about who will get bounty in Vikas Dubey case
देश-दुनिया की ताज़ा ख़बरों से अपडेट रहने के लिए Oneindia Hindi के फेसबुक पेज को लाइक करें
For Daily Alerts
तुरंत पाएं न्यूज अपडेट
Enable
x
Notification Settings X
Time Settings
Done
Clear Notification X
Do you want to clear all the notifications from your inbox?
Settings X
X