• search
कानपुर न्यूज़ के लिए
नोटिफिकेशन ऑन करें  

पिता ने बेटे और बहू की गला रेतकर ली जान, बोला- 'बहू पर भूत का साया था वो देर रात उठकर...'

|
Google Oneindia News

कानपुर, 21 मई: बेटे और बहू की गला रेतकर हत्या करने वाले हत्यारोपी पिता दीप तिवारी को कानपुर पुलिस ने शुक्रवार 20 मई को गिरफ्तार कर जेल भेज दिया है। कानपुर जेल प्रशासन ने अपने ही बेटे और बहू की हत्या करने वाले दीप तिवारी को आईसोलेशन बैरक में रखा गया है। पुलिस की मानें तो उसकी मानसिक स्थिति ठीक नहीं है। तो वहीं, जेल में दीप तिवारी अन्य कैदियों को भूत प्रेत की कहानियां सुनाता रहा।

कैदियों को सुनाई भूत-प्रेत की कहानियां

कैदियों को सुनाई भूत-प्रेत की कहानियां

अमर उजाला की खबर के मुताबिक, दीप तिवारी ने अन्य कैदियों को बताया कि उसकी बहू पर भूत का साया था। वह देर रात में उठकर चिल्लाने लगती थी। आसपास रहने वाले लोग इकट्ठा हो जाते थे। वह अजीब तरह से अपनी गर्दन और हाथ पैर हिलाने लगती थी और फिर कहती थी सब तबाह कर दूंगी। उसे ऐसे देखकर डर भी लगता था। लेकिन अब मैंने डर खत्म कर दिया है। आपको बता दें कि दीप को अपनी करतूत पर कोई पछतावा नहीं है। उसने बंदियों से कहा कि मेरे जैसे जीवन जिया होता तो तुम लोग भी ऐसा ही करते।

बेटे और बहू की हत्या का नहीं है कोई पछतावा

बेटे और बहू की हत्या का नहीं है कोई पछतावा

मुझे अपने किए पर कोई पछतावा नहीं है। वह आराम से रह रहा है और जेल में जो खाना बन रहा है वह उसे ठीक से खा पी भी रहा है। आपको बता दें कि वारदात को अंजाम देने के बाद दीप बेफिक्र होकर घर पर ही रहा। जब पूछताछ हुई, तो उसने कहा कि जब से बहू के कदम उसके घर पर पड़े थे, तब से एक भी दिन सुकून से नहीं गुजरा। बीमारी में परिवार बर्बाद हो गया। हर दिन कलह और दिक्कतें बढ़ती गईं। इसलिए त्रस्त होकर हमने उनको मुक्त कर दिया।

बहू पर था आत्यमाओं का साया

बहू पर था आत्यमाओं का साया

इतना ही नहीं, पूछताछ में दीप ने कहा कि बहू जूली कहती थी उस पर आत्माओं का साया आता है। इसको लेकर तांत्रिकों से झाड़फूंक कराते थे, जिसमें काफी पैसा लग रहा था। शिवम जो कमाता था, वह अपनी पत्नी पर खर्च कर देता था। इससे आर्थिक दिक्कतें परिवार को घेरे हुईं थीं। खबर के मुताबिक, दीप तिवारी शिवम और जूली की लव मैरिज के खिलाफ था। वह नहीं चाहता था कि दोनों शादी करें। इसलिए वह बेटे बहू से नाराज रहता था। वहीं, कुछ दिन पहले बहू ने गर्भपात करवा था।

छोटे बेटे ने भाई-भाभी को दी मुखाग्नि

छोटे बेटे ने भाई-भाभी को दी मुखाग्नि

शिवम और जूली का अंतिम संस्कार भैरव घाट पर हुआ। इस दौरान शिवम के मानसिक रूप से कमजोर भाई मोनू ने दोनों को मुखाग्नि दी। ऐसा बताया जा रहा है कि अंतिम संस्कार के बाद उसके चाचा उसे अपने साथ कन्नौज ले गए। मोनू की स्थायी व्यवस्था के लिए पुलिस अधिकारियों ने कुछ एनजीओ से संपर्क किया है।

18 मई की रात की है यह घटना

18 मई की रात की है यह घटना

कानपुर के रामबाग में डबल मर्डर की यह घटना 18 मई की देर रात की है। दीप तिवारी ने सोते वक्त अपने बेटे शिवम और बहू जूली का धारदार चाकू से गला रेत दिया था। गुरुवार सुबह उसने बेटे-बहू की हत्या होने का ड्रामा किया। सूचना पर पहुंची पुलिस ने चंद घंटे बाद वारदात का खुलासा कर आरोपी पिता को गिरफ्तार कर लिया था। आरोपी ने पूछताछ में वारदात करना स्वीकार कर लिया था।

ये भी पढ़ें:- बलरामपुर: बोलेरो गाड़ी और ट्रैक्टर ट्राली की भिड़ंत में 6 लोगों की मौत, तीन गंभीर रूप से हुए घायलये भी पढ़ें:- बलरामपुर: बोलेरो गाड़ी और ट्रैक्टर ट्राली की भिड़ंत में 6 लोगों की मौत, तीन गंभीर रूप से हुए घायल

Comments
English summary
kanpur latest news deep tiwari ghost prisoners kanpur police
देश-दुनिया की ताज़ा ख़बरों से अपडेट रहने के लिए Oneindia Hindi के फेसबुक पेज को लाइक करें
For Daily Alerts
तुरंत पाएं न्यूज अपडेट
Enable
x
Notification Settings X
Time Settings
Done
Clear Notification X
Do you want to clear all the notifications from your inbox?
Settings X
X