India
  • search
कानपुर न्यूज़ के लिए
नोटिफिकेशन ऑन करें  
Oneindia App Download

कानपुर हिंसा का मुख्य आरोपी जफर हयात हाशमी पुलिस हिरासत में, FB के जरिए उकसाया था लोगों को

|
Google Oneindia News

कानपुर, 04 जून: जुमे की नमाज के बाद शुक्रवार (03 जून) को उत्तर प्रदेश के कानपुर जिले में हिंसा भड़क गई थी। इस हिंसा को भड़काने के आरोप में पुलिस ने जफर हयात हाशमी को हिरासत में लिया है। हाशमी पर कानपुर में हिंसा भड़काने और लोगों को उकसाने का आरोप है। फिलहाल पुलिस जफर हयात हाशमी से पूछताछ में जुटी हुई है। रिपोर्ट्स के मुताबिक, हाशमी ने सोशल मीडिया साइट फेसबुक पोस्ट के जरिए लोगों को कानपुर में बाजार बंद करने और जेल भरो आंदोलन की अपील की थी।

kanpur clash: Main accused Zafar Hayat Hashmi in police custody

बता दें कि कानपुर हिंसा मामले में पुलिस ने तीन एफआईआर दर्ज की गई है। इनमें दो एफआईआर पुलिस की तरफ से है, जबकि तीसरी एफआईआर मारपीट व तोड़फोड के शिकार हुए शख्स की ओर से दर्ज कराई गई है। पुलिस की मानें तो इस हिंसा मामले में अभी तक 18 लोगों की गिरफ्तारी हो चुकी है। कानपुर के पुलिस आयुक्त विजय सिंह मीणा की मानें तो हिंसा मामले में अभी तक 36 लोगों की पहचान की जा चुकी है। बताया कि बरामद फोटोज से अन्य लोगों की पहचान की जा रही है और उन्हें गिरफ्तार करने की कोशिश की जा रही है।

पुलिस आयुक्त ने बताया कि जल्द ही सभी साजिशकर्ता और मौके पर मौजूद लोगों को गिरफ्तार कर उनके खिलाफ गैंगस्टर एक्ट के तहत कार्रवाई की जाएगी। इतना ही नहीं, उनकी प्रॉपर्टी जब्त की जाएगी और एनएसए (NSA) के तहत कार्रवाई होगी। इसी कड़ी में पुलिस ने मुख्य साजिशकर्ता जफर हयात हाशमी को हिरासत में ले लिया है। दर्ज कराई गई प्राथमिकी में जफर हयात हाशमी का नाम सबसे पहले रखा गया है। फिलहाल हाशमी से पूछताछ चल रही है। हाशमी की गिरफ्तारी के बाद परिवार के लोगों ने दावा किया है कि जफर हयात को फंसाया जा रहा है।

जफर हयात हाशमी की गिरफ्तारी के मामले को लेकर उसकी पत्नी का दावा है कि राष्ट्रपति और पीएम मोदी के कार्यक्रम को देखते हुए बंद को वापस लिया गया था। जुमे की नमाज के जफर हयात घर वापस आ गए थे। उस दौरान कोई हिंसा की वारदात नहीं हो रही थी। लेकिन तीन बजे अचानक हिंसा की खबर सामने आई। हयात की पत्नी ने दावा किया कि 14 से 16 साल के बच्चे हाथों में पत्थर लेकर चला रहे थे। ऐसा गुस्सा हमने पहले कभी नहीं देखा था। वह अपने पति की इस हिंसा की वारदात में शामिल नहीं होने का दावा कर रही हैं।

ये भी पढ़ें:- जुमे की नमाज के बाद Kanpur में बवाल, पुलिस ने दर्ज की 3 एफआईआर और 18 उपद्रवियों को किया अरेस्टये भी पढ़ें:- जुमे की नमाज के बाद Kanpur में बवाल, पुलिस ने दर्ज की 3 एफआईआर और 18 उपद्रवियों को किया अरेस्ट

वहीं, कानपुर हिंसा मामले में यूपी पुलिस के तीन सीनियर अधिकारियों को कानपुर भेजा गया है। एडीजी विधि व्यवस्था प्रशांत कुमार ने कहा कि कल की जो घटना हुई उसमें कार्रवाई करते हुए स्थिति को नियंत्रण में लाया गया है। वहां जितने भी उपद्रवी है और इसके पीछे कौन हैं इसकी पहचान कराई जा रही है। इन पर कार्रवाई की जाएगी, इनकी संपत्ति भी जब्त होगी। इसके अतिरिक्त जिन लोगों ने इन्हें भड़काया है उन पर भी कार्रवाई की जाएगी। वर्तमान में वहां शांति है। शांति व्यवस्था बनाए रखने वाले लोग भी लोगों को शांति के लिए जागरुक कर रहे हैं।

Comments
English summary
kanpur clash: Main accused Zafar Hayat Hashmi in police custody
देश-दुनिया की ताज़ा ख़बरों से अपडेट रहने के लिए Oneindia Hindi के फेसबुक पेज को लाइक करें
For Daily Alerts
तुरंत पाएं न्यूज अपडेट
Enable
x
Notification Settings X
Time Settings
Done
Clear Notification X
Do you want to clear all the notifications from your inbox?
Settings X
X