• search
कानपुर न्यूज़ के लिए
नोटिफिकेशन ऑन करें  

जयमाला लिए स्टेज पर खड़ी थीं दोनों बहनें, दूल्हों को देखते ही पिता ने किया शादी से इनकार

|

Kanpur News, कानपुर। उत्तर प्रदेश के कानपुर में दो सगी बहनों के पिता ने दूल्हों को टल्ली देखकर शादी से इनकार कर दिया। जिसके बाद बारात वापस बिना दुल्हन के लौट गई। बिना दुल्हन के लौटी बारात इलाके में चर्चा का विषय बनी हुई है। दरअसल दूल्हों के नशे में होने का पता चलते ही दुल्हन के पिता ने कन्यादान करने से इनकार कर दिया। रात भर चली पंचायत के बाद आज सुबह दोनों की बरात बिना दुल्हन के ही वापस लौट गई।

Father refused to marry daughters to see groom drunk

जानकारी के अनुसार, मामला कानपुर देहात के मंगलपुर थाना क्षेत्र के मनेपुर गांव का है। यहां रामखिलावन ने अपनी पुत्री गीता (20) का विवाह ब्रजेन्द्र पुत्र रामस्वरूप निवासी कांधी की मढैया व छोटी पुत्री माया (18) का विवाह ब्रजेंद्र के चचेरे भाई अजय पुत्र राज कुमार के साथ तय किया था। सोमवार रात ब्रजेंद्र व अजय बरात लेकर मनेपुर गांव पहुंचे। जैसे ही घराती बरातियों को नाश्ता कराने गए तो वहां बैंड-बाजा न देख वधू पक्ष के लोगों में बहस होने लगी। जिसके बाद लोगों ने मामला संभला लिया।

दुल्हन पक्ष ने दूल्हों का स्वागत सत्कार किया और मण्डप तक ले गए। लेकिन दूल्हे के लड़खड़ाते दिखे। दूल्हों के नशे में होने की जानकारी दुल्हनों के पिता को मिली तो दोनों पक्षों में विवाद शुरू हो गया। इसके बाद पिता ने विवाह करने से इंकार कर दिया। पिता रामखिलावन ने बताया कि दूल्हों ने शराब पी रखी थी। इसीलिए पुत्रियों का विवाह नहीं किया है। उसके इनकार करते ही हड़कंप मच गया। लोगों ने समझाने का प्रयास किया। पूरी रात दोनों पक्ष के लोगों में पंचायत चली। इसके बाद भी पिता ने दोनों बेटियों की विदाई करने से इनकार कर दिया।

ये भी पढ़ें:- कानपुर साहिब सीट पर क्या हैं जीत-हार के पुराने सियासी आंकड़े

जीवनसंगी की तलाश है? भारत मैट्रिमोनी पर रजिस्टर करें - निःशुल्क रजिस्ट्रेशन!

कानपुर की जंग, आंकड़ों की जुबानी
वर्ष
प्रत्याशी का नाम पार्टी स्‍थान वोट वोट दर मार्जिन
2019
सत्यदेव पचौरी भाजपा विजेता 4,68,937 56% 1,55,934
श्रीप्रकाश जायसवाल कांग्रेस उपविजेता 3,13,003 37% 1,55,934
2014
डॉ मुरली मनोहर जोशी भाजपा विजेता 4,74,712 57% 2,22,946
श्रीप्रकाश जयस्वाल कांग्रेस उपविजेता 2,51,766 30% 0
2009
श्री प्रकाश जयस्वाल कांग्रेस विजेता 2,14,988 42% 18,906
सतीश महाना भाजपा उपविजेता 1,96,082 38% 0
2004
श्रीप्रकाश जयस्वाल कांग्रेस विजेता 2,11,109 34% 5,638
सत्य देव पचौरी भाजपा उपविजेता 2,05,471 33% 0
1999
श्रीप्रकाश जयस्वाल कांग्रेस विजेता 2,93,610 46% 34,459
जगत वीर सिंह ड्रोन भाजपा उपविजेता 2,59,151 41% 0
1998
जगत वीर सिंह द्रोण भाजपा विजेता 3,35,996 49% 1,36,009
सुरेंद्र मोहन अग्रवाल समाजवादी उपविजेता 1,99,987 29% 0
1996
जगत्वीर सिंह द्रोण भाजपा विजेता 2,97,550 52% 1,51,090
सुभाषिनी अली सीपीएम उपविजेता 1,46,460 26% 0
1991
जगत्वीर सिंह ब्रोन भाजपा विजेता 1,93,275 48% 1,13,621
आर.एन. पाठक कांग्रेस उपविजेता 79,654 20% 0
1989
सुभाषिनी अली सीपीएम विजेता 1,74,438 41% 56,587
जगत वीर सिंह भाजपा उपविजेता 1,17,851 28% 0
1984
नरेश चंद्र चतुर्वेदी कांग्रेस विजेता 2,14,160 57% 1,37,369
सईद शाहबुद्दीन जेएनपी उपविजेता 76,791 20% 0
1980
आरिफ मोहम्मद खान कांग्रेस(आई) विजेता 1,63,230 45% 75,181
मकबूल हुसैन कुरेशी जेएनपी उपविजेता 88,049 25% 0
1977
मनोहर लाल बीएलडी विजेता 2,69,629 71% 1,74,289
नरेश चंद्र चतुर्वेदी कांग्रेस उपविजेता 95,340 25% 0
1971
एस. एम. बनर्जी आईएनडी विजेता 1,48,845 61% 89,199
बाबू राम शुक्ला BJS उपविजेता 59,646 24% 0
1967
एस. एम. बनर्जी आईएनडी विजेता 77,882 32% 6,517
जी. दत्त कांग्रेस उपविजेता 71,365 30% 0
1962
एस. एम. बनर्जी आईएनडी विजेता 1,39,039 53% 58,105
बेजॉय कुमार सिन्हा कांग्रेस उपविजेता 80,934 31% 0
1957
एस. एम. बनर्जी आईएनडी विजेता 87,612 49% 16,624
सूर्य प्रसाद अवस्थी कांग्रेस उपविजेता 70,988 40% 0

देश-दुनिया की ताज़ा ख़बरों से अपडेट रहने के लिए Oneindia Hindi के फेसबुक पेज को लाइक करें
English summary
Father refused to marry daughters to see groom drunk
For Daily Alerts

Oneindia की ब्रेकिंग न्यूज़ पाने के लिए
पाएं न्यूज़ अपडेट्स पूरे दिन.

Notification Settings X
Time Settings
Done
Clear Notification X
Do you want to clear all the notifications from your inbox?
Settings X
X
We use cookies to ensure that we give you the best experience on our website. This includes cookies from third party social media websites and ad networks. Such third party cookies may track your use on Oneindia sites for better rendering. Our partners use cookies to ensure we show you advertising that is relevant to you. If you continue without changing your settings, we'll assume that you are happy to receive all cookies on Oneindia website. However, you can change your cookie settings at any time. Learn more