• search
जोधपुर न्यूज़ के लिए
नोटिफिकेशन ऑन करें  

Prem Singh Bajor : प्रथम जीती जागती प्रतिमा, जानिए क्यों लगाई गई है BJP नेता प्रे​म सिंह बाजौर की मूर्ति ?

|

जोधपुर। गुजरात के अहमदाबाद में बनाए गए दुनिया के सबसे बड़े क्रिकेट स्टेडियम मोटेरा का नाम बदलकर 'नरेंद्र मोदी स्टेडियम' करना सुर्खियों में है। इस बीच खबर है कि राजस्थान के जोधपुर में भाजपा नेता व पूर्व मंत्री प्रेमसिंह बाजौर की प्रतिमा लगाई गई है। दावा किया जा रहा है कि यह प्रथम जीती जागती प्रतिमा है।

प्रे​म सिंह बाजौर की प्रतिमा ढूंगरा शेरगढ़ जोधपुर

प्रे​म सिंह बाजौर की प्रतिमा ढूंगरा शेरगढ़ जोधपुर

भाजपा के दिग्गज नेता प्रे​मसिंह बाजौर की प्रतिमा राजस्थान के जोधपुर जिले की शेरगढ़ तहसील के गांव ढूंगरा में लगाई गई है। खास बात है कि खुद प्रेम सिंह बाजौर भी अपनी प्रतिमा के अनावरण समारोह में शामिल हुए हैं।प्रतिमा निर्माण का खर्च 1.50 लाख रुपए वीर शहीद वेलफेयर संस्था ने उठाया है।

 प्रेमसिंह बाजौर ने लगवाई शहीद की प्रतिमा

प्रेमसिंह बाजौर ने लगवाई शहीद की प्रतिमा

वीर शहीद वेलफेयर संस्था के पर्वतसिंह बताते हैं कि उनके पिता हमीरसिंह भारतीय सेना में शहीद हो गए थे। शहीद हमीरसिंह की प्रतिमा लगवाने के लिए अधिकारियों को खूब चक्कर लगाए। थक-हारकर राजस्थान सैनिक कल्याण बोर्ड के पूर्व मंत्री प्रेमसिंह बाजौर से ​मुलाकात की। इसके दूसरे ही दिन शहीद हमीरसिंह की प्रतिमा लगाने का काम शुरू हो गया था।

 क्यों लगाई प्रेमसिंह बाजौर की प्रतिमा?

क्यों लगाई प्रेमसिंह बाजौर की प्रतिमा?

पर्वतसिंह ने बताया कि प्रेमसिंह बाजौर के प्रयासों से उनके पिता हमीरसिंह के साथ-साथ शेरगढ़ क्षेत्र में करीब 40 शहीदों की मूर्तियां लगवाई गई हैं। उन प्रतिमाओं का अनावरण का काम चल रहा है। शहीदों की प्रतिमा लगवाने के काम को प्राथमिकता देने की खुशी में ही वीर शहीद वेलफेयर संस्था ने शेरगढ़ के गांव ढूंगरा में प्रेमसिंह बाजौर की प्रतिमा लगाई है।

बाजौर प्रदेशभर में लगवा रहे शहीद प्रतिमाएं

बाजौर प्रदेशभर में लगवा रहे शहीद प्रतिमाएं

प्रेमसिंह बाजौर राजस्थान के वो इकलौते नेता हैं, जो अपने खर्च से प्रदेशभर में शहीदों की प्रतिमाएं लगवा रहे हैं। प्रेमसिंह बाजौर ने खुद के 28 करोड़ रुपए खर्च करके राजस्थान के विभिन्न गांव-ढाणियों में 1170 शहीदों की प्रतिमाएं लगवाने का बीड़ा उठा रखा है।

बाजौर की प्रतिमा अनावरण समारोह

बाजौर की प्रतिमा अनावरण समारोह

बता दें कि प्रेमसिंह बाजौर की आदमकद की प्रतिमा का अनावरण समारोह 26 फरवरी को गांव ढूंगरा में हुआ, जिसमें बाजौर के साथ-साथ हंत प्रतापपुरी तारातरा मठ, प्रेमाराम भाळू रामद्वारा, केंद्रीय मंत्री गजेंद्र सिंह शेखावत, शेरगढ़ के पूर्व विधायक बाबूसिंह राठौड़ व जोधपुर के पूर्व जिला प्रमुख पूनाराम चौधरी, पूर्व प्रधान कल्याण​सिंह राठौड़, शहीद हमीरसिंह की पत्नी तुलसीकंवर ने भी शिकरत की।

 प्रेम सिंह बाजौर की जीवनी

प्रेम सिंह बाजौर की जीवनी

प्रेमसिंह बाजौर मूलरूप से राजस्थान के सीकर जिले के मलकेड़ा गांव के रहने वाले हैं। प्रेमिसंह बाजौर का जन्म 14 जुलाई 1957 को आसुसिंह शेखावत व उछबकंवर के घर हुआ था। प्रेमसिंह बाजौर की शादी सुप्यार कंवर से हुई है। इनके एक बेटा व तीन बेटी हैं। राजस्थान विधानसभा चुनाव 2018 के शपथ पत्र के मुताबिक 40 करोड़ की सम्पत्ति के साथ भाजपा के सबसे अमीर प्रत्याशी थे।

Jaipur : 87 लाख का प्लॉट खरीदा, 20 फीट लंबी सुरंग खोदकर पड़ोसी के फर्श में दबी करोड़ों की चांदी चुराईJaipur : 87 लाख का प्लॉट खरीदा, 20 फीट लंबी सुरंग खोदकर पड़ोसी के फर्श में दबी करोड़ों की चांदी चुराई

देश-दुनिया की ताज़ा ख़बरों से अपडेट रहने के लिए Oneindia Hindi के फेसबुक पेज को लाइक करें
English summary
Prem Singh Bajor Statue in village Dhoongra Shergarh Jodhpur Rajasthan
For Daily Alerts
तुरंत पाएं न्यूज अपडेट
Enable
x
Notification Settings X
Time Settings
Done
Clear Notification X
Do you want to clear all the notifications from your inbox?
Settings X
X