• search
जोधपुर न्यूज़ के लिए
नोटिफिकेशन ऑन करें  

Pooja Bishnoi : कौन है 9 साल की पूजा बिश्नोई जिसे विराट कोहली ने दिलाया फ्लैट, अमिताभ बच्चन भी मुरीद

|

जोधपुर। राजस्थान के जोधपुर जिला मुख्यालय से तीस किलोमीटर दूर एक छोटा गांव है गुड़ा बिश्नोइयान। यहां की बेटी पूजा बिश्नोई ने छोटी उम्र में कमाल कर दिखाया है। जिस उम्र में बच्चे ठीक से चलना भी नहीं सीख पाते हैं उस उम्र में पूजा ने एथलीट बनने की दिशा में कदम बढ़ा दिए थे और अब नौ वर्षीय पूजा को भारत की 'उसैन बोल्ट' कहें तो कोई ​अतिश्योक्ति नहीं होगी।

मामा श्रवण बुड़िया हैं पूजा बिश्नोई के कोच

मामा श्रवण बुड़िया हैं पूजा बिश्नोई के कोच

पूजा के कोच और मामा श्रवण बुड़िया ने वन इंडिया हिंदी से बातचीत में बयां किया भतीजी के एथलीट बनने का पूरा सफर। उन्होंने पूजा की जीवनी के साथ-साथ इसकी सफलताओं का जिक्र भी किया। साथ ही यह भी बताया कि पूजा यूथ ओलंपिक 2024 में हिस्सा लेने का अपना ख्वाब पूरा करने के लिए किस तरह से मेहनत कर रही है।

Jodhpur : 8 माह बाद छुट्टी आए फौजी ने घर पहुंचने से पहले साथी शहीद लक्ष्मण चौधरी की चिता पर जाकर टेका माथा

 पूजा बिश्नोई की जीवनी

पूजा बिश्नोई की जीवनी

पूजा बिश्नोई ​जोधपुर जिले के गांव गुड़ा बिश्नोईयान के किसान अशोक बिश्नोई व मीना देवी की बेटी हैं। 10 अप्रैल 2011 को जन्मी पूजा बिश्नोई के छोटा भाई कुलदीप भी एथलीट है। पूजा जोधपुर की राजमाता कृष्ण कुमारी स्कूल में चौथी कक्षा में पढ़ रही है। इसने तीन साल की उम्र से एथलीट बनने की तैयारियां शुरू कर दी थी।

Jodhpur : पति ने पूरी की पत्नी आशा कंवर की अंतिम इच्छा, 7 लाख के गहने बेचकर राम मंंदिर को दान किए, VIDEO

पूजा बिश्नोई की उपलब्ध्यिां

पूजा बिश्नोई की उपलब्ध्यिां

• 5 साल की उम्र सिक्स-पैक एब्स वाली दुनिया की पहली छोटी लड़की

• 8 साल की उम्र में 3 किमी की दौड़ 12.50 मिनट में पूरी कर अंडर 10 विश्व रिकॉर्ड

• 6 साल की उम्र में 48 मिनट में 10 किमी की दौड़ पूरी की

• दुबई सरकार को आयरन अवार्ड

• वीर दुर्गदास राठौर पुरस्कार 2019

• फ़िटनेस मॉडल

Shaheed Laxman Choudhary Jodhpur : जोधपुर में परिजन कर रहे थे शादी की तैयारियां, बेटा हुआ शहीद

पूजा बिश्नोई का लक्ष्य

पूजा बिश्नोई बेहतरीन धावक होने के साथ-साथ फास्ट बोलर भी है। एक साल बाद यूथ ओलंपिक 2024 की क्वालिफाई प्रतियोगिता में हिस्सा लेंगी। तीन हजार मीटर लोंग रनिंग पूजा बिश्नोई का पसंदीदा इवेंट है।

 विराट कोहली फाउंडेशन कर रहा मदद

विराट कोहली फाउंडेशन कर रहा मदद

एथलीट बनने के लिए पूजा का जुनून देखकर विराट कोहली फाउंडेशन पूजा की यात्रा, न्यूट्रिशन, ट्रेनिंग आदि का सारा खर्च उठा रहा है। विराट कोहली फाउंडेशन ने पूजा को जोधपुर में फ्लैट भी दिला रखा है, जहां वे अपने मामा के साथ रहती हैं। जोधपुर के विभिन्न खेल मैदानों में पूजा यूथ ओलंपिक की तैयारियों में जुटी है।

रोजाना आठ घंटे करती प्रैक्टिस

पूजा बताती हैं कि इस वक्त उसका पूरा ध्यान अपनी तैयारियों और पढ़ाई पर है। वे रोज सुबह तीन बजे उठती हैं। सुबह तीन चार घंटे प्रैक्टिस करने के बाद सात बजे स्कूल चली जाती है। फिर शाम को करीब पांच घंटे रनिंग करती हैं।

 सोशल मीडिया पर जबरदस्त फैन फॉलोइंग

सोशल मीडिया पर जबरदस्त फैन फॉलोइंग

पूजा बिश्नोई को टीवी देखना पसंद नहीं है। हालांकि ये सोशल मीडिया पर काफी एक्टिव रहती हैं। इंस्टाग्राम, फेसबुक और ट्विटर पर अपनी तैयारियों से जुड़ी पोस्ट शेयर करती रहती है। महज 9 साल की पूजा की सोशल मीडिया पर जबरदस्त फैन फॉलोइंग है।

 जब अमिताभ बच्चन व विराट कोहली से मिली पूजा

जब अमिताभ बच्चन व विराट कोहली से मिली पूजा

साल 2019 में मुम्बई में विराट कोहली फाउंडेशन की ओर से आयोजित इंडिया स्पोट्र्स ऑनर समारोह में पूजा बिश्नोई को भी बुलाया गया था। समारोह में पूजा की मुलाकात विराट कोहली व अभिनेता अमिताभ बच्चन से हुई थी। अमिताभ बच्चन भी पूजा की प्रतिभा से प्रभावित हुए थे। उन्होंने ने भी पूजा बिश्नोई को इंटरनेशनल एथलीट बनाने के लिए हरसंभव का वादा किया।

ankit gupta jodhpur : जोधपुर की झील में ​6 दिन बाद मिला कैप्टन का शव, इकलौते बेटे थे, 46​ दिन पहले थी शादी

देश-दुनिया की ताज़ा ख़बरों से अपडेट रहने के लिए Oneindia Hindi के फेसबुक पेज को लाइक करें
English summary
pooja bishnoi biography in hindi Virat Kohli Foundation is helping Her in Jodhpur rajasthan
For Daily Alerts
तुरंत पाएं न्यूज अपडेट
Enable
x
Notification Settings X
Time Settings
Done
Clear Notification X
Do you want to clear all the notifications from your inbox?
Settings X
X