• search
झारखंड न्यूज़ के लिए
नोटिफिकेशन ऑन करें  

झारखंडः जिस पुलिया से दो दिन पहले गुजरे थे शिक्षा मंत्री, वहां से जवानों ने बरामद किया 15 किलो का लैंडमाइन

|

बोकारो। झारखंड के बोकारो जिले में पुलिस की मुस्तैदी के चलते एक बड़ा हादसा होने से बच गया। नक्सलियों ने स्वतंत्रता दिवस के मौके पर बड़ी घटना को अंजाम देने के लिए बोकारो जिले के नावाडीह ऊपरघाट स्थित वंशी ग्राम के समीप पुलिया के नीचे 15 किलो का लैंडमाइन लगाया था, जिसे पुलिस ने बरामद किया। इसके बाद बम निरोधक दस्ते ने लैंडमाइन को निष्क्रिय कर दिया।

jharkhand police recovered landmine of 15 kg

यह कार्रवाई जिला एसपी चंदन कुमार झा को मिली गुप्त सूचना के आधार पर की गई है। जिस पुलिया से लैंडमाइन जवानों द्वारा बरामद किया गया उसके ऊपर से दो दिन पहले झारखंड के शिक्षा मंत्री जगरनाथ महतो का काफिला गुजरा था।

एएसपी अभियान के अनुसार बोकारो जिला के पुलिस कप्तान को जानकारी मिली थी कि ऊपरघाट के वंशी मोड़ के समीप पुलिया पर बम लगाया गया है। भाकपा माओवादियों ने स्वतंत्रता दिवस के मौके पर बड़ी घटना को अंजाम देने के लिए लैंडमाइन को प्लांट किया था।

इसके बाद एएसपी अभियान, झारखंड सशस्त्र पुलिस बल व सीआरपीएफ 26वीं बटालियन के जवान सहित स्वान के दस्ता को लेकर पुलिया के समीप पहुंचा। जहां जांच के दौरान पाया कि मिट्टी के नीचे कुछ तार दबे हुए हैं, जिसके बाद पुलिया के नीचे लगाए गए लैंडमाइन को बरामद कर लिया।

माओवादी द्वारा प्लांट किया गया लैंडमाइंन वंशी ग्राम के निर्माणाधीन विद्युत सबस्टेशन से कुछ ही दूरी पर पुलिया के समीप बरामद किया गया। उक्त सबस्टेशन का शिलान्यास शिक्षा मंत्री जगरनाथ महतो 12 अगस्त को किया था। मिली जानकारी के अनुसार हाल के दिनों नक्सलियों के खिलाफ पुलिस की ओर से लगातार अभियान चलाया जा रहा है। इससे नक्सली बौखलाए हुए हैं।

गुजरात: झारखंड की महिला समेत ​3 नक्सली 10 दिन की रिमांड के बाद जेल भेजे गए

देश-दुनिया की ताज़ा ख़बरों से अपडेट रहने के लिए Oneindia Hindi के फेसबुक पेज को लाइक करें
English summary
jharkhand police recovered landmine of 15 kg
For Daily Alerts
तुरंत पाएं न्यूज अपडेट
Enable
x
Notification Settings X
Time Settings
Done
Clear Notification X
Do you want to clear all the notifications from your inbox?
Settings X
X