• search
झारखंड न्यूज़ के लिए
नोटिफिकेशन ऑन करें  

कोरबाः पिता को था बेटे पर मां के साथ अवैध संबंध का शक तो बेटे ने पिता को उतार दिया मौत के घाट

|

कोरबा। झारखंड के कोरबा जिले में घरेलू विवाद के चलते पिता का गला घोंटकर बेटे ने हत्या कर दी। इसके बाद घटना को आत्महत्या का रूप देने के लिए पिता के शव को पंखे से लटका दिया। हालांकि पोस्टमार्टम रिपोर्ट आने के बाद घटना का खुलासा हो गया। पुलिस ने आरोपित युवक को गिरफ्तार कर लिया। घटना जिले के विकासखंड पोड़ी उपरोड़ा के गांव सेन्हा की है। पुलिस ने बताया कि ग्राम सेन्हा निवासी बुद्धुराम की लाश घर में फांसी के फंदे पर मिली थी।

पोस्टमार्टम रिपोर्ट से हुआ खुलासा

पोस्टमार्टम रिपोर्ट से हुआ खुलासा

बुद्धुराम के खुदकुशी की जानकारी उसके बेटे विश्वनाथ चौधरी ने ही दी थी। खुदकुशी की वजह घर का झगड़ा और शराब पीने की बुरी आदत को बताया था। हालांकि पुलिस मामले की जांच कर रही है। सोमवार को डॉक्टर ने पुलिस को पोस्टमार्टम रिपोर्ट सौंपा था, जिसमें बुद्धुरान की मौत का कारण गला घोंटकर हत्या करना बताया गया है। पुलिस ने परिजनों से घटना की जानकारी ली तो पता चला कि घटना के दौरान आरोपित पुत्र विश्वनाथ अपनी मां के साथ घटना की शाम एक अप्रैल को गांव के सरपंच सहदेव सिंह उइके के घर सोने चला गया था।

पिता को था बेटे और पत्नी के बीच अवैध संबंध का शक

पिता को था बेटे और पत्नी के बीच अवैध संबंध का शक

इसके बाद पुलिस ने सरपंच से भी पूछताछ की थी। विश्वनाथ ने पिता की हत्या के जुर्म को कबूल कर लिया है। पुलिस की पूछताछ में उसने बताया कि पिता बुद्धुराम को उसके चरित्र पर शक था। उसे शक था कि उसकी पत्नी के साथ मेरा अवैध संबंध है। इसे लेकर घर में लड़ाई झगड़ा करता रहता था। शराब पीने की भी उसकी बुरी लत थी। घटना के दौरान दोनों के बीच झगड़ा हुआ। इस दौरान विश्वनाथ ने बुद्धुराम के पैर पर पत्थर मार दिया। वह चोटिल होकर कमरे में चला गया था।

पिता की हत्या कर चला गया दूसरे के घर

पिता की हत्या कर चला गया दूसरे के घर

इसी दौरान विश्वनाथ पहुंचा और जीआई तार से गला घोंटकर बुद्धुराम को मार दिया। फिर शव को घर के कमरे में फांसी के फंदे पर लटका दिया। इसके बाद विश्वनाथ अपनी मां के साथ सरपंच सहदेव के घर चला गया और वहां उसने कहा कि पिता बुद्धुराम झगड़ा करके बाहर चला गया है। लौटने पर दोबारा मारपीट कर सकता है। इसकी आशंका जताते हुए सहदेव से उसने रात भर के लिए शरण मांगा। सहदेव ने मां-बेटे को घर में शरण दिया। अगले दिन सुबह विश्वनाथ मां के साथ घर लौटा और पड़ोसियों को पिता के खुदकुशी का जानकारी दी।

लखीमपुर खीरी: राशन लेने गए पिता-पुत्र की गोली मारकर हत्या, पुरानी रंजिश का शकलखीमपुर खीरी: राशन लेने गए पिता-पुत्र की गोली मारकर हत्या, पुरानी रंजिश का शक

English summary
jharkhand korba son did murder of his father due to illegal relationship
देश-दुनिया की ताज़ा ख़बरों से अपडेट रहने के लिए Oneindia Hindi के फेसबुक पेज को लाइक करें
For Daily Alerts
तुरंत पाएं न्यूज अपडेट
Enable
x
Notification Settings X
Time Settings
Done
Clear Notification X
Do you want to clear all the notifications from your inbox?
Settings X
X