• search
झारखंड न्यूज़ के लिए
नोटिफिकेशन ऑन करें  

धनबादः कोरोना की जांच में देरी होने पर पुलिसकर्मियों और स्वास्थ्यकर्मियों के बीच मारपीट, तीन निलंबित

|

धनबाद। झारखंड के धनबाद जिले में कोरोना जांच में देर होने पर सोमवार की शाम को पाटलिपुत्र मेडिकल कॉलेज एंड अस्पताल (पीएमसीएच) में डॉक्टर और स्वास्थ्यकर्मियों के साथ बरवाअड्डा थाने के पुलिसकर्मियों के बीच विवाद हो गया। मामला इतना बढ़ गया कि दोनों पक्ष मारपीट पर उतारु हो गए। पुलिसकर्मियों पर डॉक्टर और चिकित्साकर्मियों को पीट देने का आरोप लगाया गया।

कोरोना वैक्सीन: ऑक्सफोर्ड ही नहीं, ये 6 वैक्सीन भी पहुंच चुकी हैं थर्ड फेज के ट्रायल में

Dhanbaad clash between doctors and policemen for late during corona test

घटना के विरोध में पीएमसीएच में हड़ताल की घोषणा कर दी गई। कोरोना टेस्ट और मरीजों का इलाज प्रभावित होने लगा। इस मामले को शांत करने के लिए एसएसपी अखिलेश बी वॉरियर ने आनन-फानन में कार्रवाई की। इस पूरे मामले में दो सब इंस्पेक्टर और एक सिपाही को निलंबित किया। इसके बाद डॉक्टर और स्वास्थ्यकर्मी शांत हुए। इसके बाद सभी काम पर लौट गए हैं। अब हालात सामान्य है।

12 अगस्‍त को रूस से आ रही है पहली कोरोना वायरस वैक्‍सीन, जानिए इसके बारे में सबकुछ

दरअसल, बरवाअड्डा थाने के पुलिसकर्मी सोमवार दोपहर पीएमसीएच में कोरोना टेस्ट कराने गए थे। वे लाइन में लगे थे। काफी देर होने पर पुलिसकर्मियों ने पूछताछ की तो कहा गया कि एक घंटे में हो जाएगा। एक घंटा होते-होते शाम हो गया तो पुलिसकर्मियों ने नाराजगी जताई। इसी बात को लेकर कोरोना जांच कर रहे स्वास्थ्यकर्मियों और पुलिस के बीच बहस शुरू हुई। बहस मारपीट तक पहुंच गई।

Dhanbaad clash between doctors and policemen for late during corona test

चिकित्सक डॉ. एलबी टुडू ने पुलिसकर्मियों पर हाथापाई और मारपीट करने का आरोप लगाया। हंगामे के बाद पीएमसीएच के चिकित्सक और स्वास्थ्यकर्मियों ने हड़ताल की घोषणा कर दी। पीएमसीएच में डॉक्टर-चिकित्साकर्मियों और पुलिस के बीच विवाद की जानकारी मिलते ही धनबाद जिला प्रशासन ने गंभीरता से लिया। उपायुक्त उमाशंकर सिंह ने गतिरोध समाप्त करने के लिए एसएसपी से बात की। डीएसपी मुकेश कुमार पीएमसीएच पहुंचे। घटना की पूरी तस्वीर सीसीटीवी कैमरे में कैद है।

देर रात डीएसपी ने एसएसपी को जांच रिपोर्ट दी। इसके बाद एसएसपी ने कार्रवाई की। वहीं एसएसपी अखिलेश बी वारियर ने बताया कि डीएसपी ने जांच रिपोर्ट दी है। प्रथमृष्टया पुलिसकर्मियों की गलती मिली है। वैश्विक महामारी कोरोना के समय फ्रंटलाइन पर काम करने वालों से इस तरह का व्यवहार गलत है। दोषी पुलिसकर्मियों को चिह्नित कर कार्रवाई की जा रही है।

देश में 24 घंटों के भीतर कोरोना वायरस के 52,050 नए केस और 803 मरीजों की मौत

देश-दुनिया की ताज़ा ख़बरों से अपडेट रहने के लिए Oneindia Hindi के फेसबुक पेज को लाइक करें
English summary
Dhanbaad clash between doctors and policemen for late during corona test
For Daily Alerts
तुरंत पाएं न्यूज अपडेट
Enable
x
Notification Settings X
Time Settings
Done
Clear Notification X
Do you want to clear all the notifications from your inbox?
Settings X
X