• search
जम्मू-कश्मीर न्यूज़ के लिए
नोटिफिकेशन ऑन करें  

महबूबा मुफ्ती की बहन रूबिया को 1989 अपहरण के एक मामले में कोर्ट का समन, 15 जुलाई को होना है पेश

|
Google Oneindia News

जम्मू, मई 27। जम्मू कश्मीर के अलगाववादी नेता यासीन मलिक की अपहरण के एक मामले में मुश्किलें बढ़ सकती हैं। दरअसल, जम्मू की टाडा कोर्ट ने जम्मू कश्मीर की पूर्व मुख्यमंत्री महबूबा मुफ्ती की बहन रूबिया सईद को समन भेजा है। समन में रूबिया सईद 15 जुलाई को अदालत के समक्ष पेश होने के लिए कहा गया है। आपको बता दें कि रूबिया को यह समन 1989 के अपहरण के मामले में भेजा गया है। कथित तौर पर यासीन मलिक ने उस वक्त रूबिया का अपहरण किया था।

Mehbooba mufti sister court summon

रूबिया को बतौर गवाह भेजा गया है समन

जानकारी के मुताबिक, टाडा कोर्ट ने रूबिया सईद को बतौर गवाह के रूप में यह समन भेजा है। 1989 अपहरण के मामले में रूबिया खुद पीड़ित हैं। उनका आरोप है कि जम्मू कश्मीक के अलगाववादी नेता यासीन मलिक ने ही उनका अपहरण किया था। उस वक्त उनकी रिहाई के बदले में यासीन मलिक ने अपने कुछ साथियों को छुड़वाने की मांग की थी। उस वक्त देश के गृहमंत्री रूबिया के पिता मुफ्ती मोहम्मद सईद थे। सरकार ने उस वक्त पांच आतंकियों को रिहा किया था।

आपको बता दें कि यासीन मलिक को हाल ही में टेरर फंडिंग के एक मामले में उम्रकैद की सजा सुनाई गई है। यासीन मलिक को इस मामले में 2017 में गिरफ्तार किया गया था। रूबिया सईद के अपहरण के मामले में भी यासीन मलिक आरोपी है।

ये भी पढ़ें: Mudasir Ahmad Sheikh : पिता ने कहा - जानता था बेटा लौटेगा नहीं, आंसू न बहाओ, मुझे उसपर गर्व हैये भी पढ़ें: Mudasir Ahmad Sheikh : पिता ने कहा - जानता था बेटा लौटेगा नहीं, आंसू न बहाओ, मुझे उसपर गर्व है

Comments
English summary
Rubaiya Sayeed sister of Mehbooba Mufti court summon in 1989 kidnapping case
देश-दुनिया की ताज़ा ख़बरों से अपडेट रहने के लिए Oneindia Hindi के फेसबुक पेज को लाइक करें
For Daily Alerts
तुरंत पाएं न्यूज अपडेट
Enable
x
Notification Settings X
Time Settings
Done
Clear Notification X
Do you want to clear all the notifications from your inbox?
Settings X
X