• search
जम्मू-कश्मीर न्यूज़ के लिए
नोटिफिकेशन ऑन करें  

घाटी में सीमा पार 100 से अधिक आतंकी घुसपैठ करने की फिराक में: BSF

|
Google Oneindia News

नई दिल्ली, 25 जनवरी। सीमा सुक्षा बल ने सोमवार को बड़ी जानकारी देते हुए बताया कि तकरीबन 100 से अधिक आतंकी जम्मू कश्मीर सीमा पर अलग-अलग लॉन्च पैड पर मौजूद हैं और घुसपैठ की ताक में बैठे हैं। बीएसएफ की ओर से कहा गया है कि 2021 से भारत और पाकिस्तान के बीच सीजफायर समझौते बाद से सीमा पर शांति है। कश्मीर में बीएसएफ के इंस्पेक्टर जनरल राजा बाबू सिंह ने कहा कि एलओसी पर फिलहाल स्थिति शांतिपूर्ण है, यहां भारत और पाकिस्तान के बीच सीजफायर समझौते के बाद से हालात बेहतर हैं। लेकिन हमारे पास रिपोर्ट है कि 104-135 आतंकी घुसपैठ के लिए सीमा पार अलग-अलग लॉन्च पैड पर मौजूद हैं।

loc

राजा बाबू सिंह ने कहा कि कुछ स्थानीय गाइड के एलओसी पार करने के बाद सुरक्षा को काफी बढ़ा दिया गया है। हम इन लोगों के परिवारों पर नजर रख रहे हैं। इन गाइड का काम है कि ये लोग आतंकियों को सीमा पार लाने का काम कते हैं। हमारे अलर्ट सैनिकों ने इन लोगों को सही समय पर पकड़ा। इन्ही में से एक आतंकी की 2 जनवरी को हुए एनकाउंटर में मौत हो गई थी।

इसे भी पढ़ें- प्रशांत किशोर ने बताया भाजपा को हराने का फॉर्मूला, बोले- 5 राज्यों में जीत के बाद भी 2024 में हार सकती है BJPइसे भी पढ़ें- प्रशांत किशोर ने बताया भाजपा को हराने का फॉर्मूला, बोले- 5 राज्यों में जीत के बाद भी 2024 में हार सकती है BJP

हालांकि राजा बाबू सिंह ने कहा कि पिछले कुछ दिनों में एलओसी पर घुसपैठ कम हुई है। 2019 में 130 घुसपैठिए सीमा पार करके आए थे जबकि 2020 में यह संख्या 36 और 2021 में यह संख्या 21 पहुंच गई। पिछले साल 138-145 युवाओं को आतंकी गतिविधियों में शामिल होने के लिए प्रेरित किया गया। पिछले साल हमने 21 आतंकियों को वापस भेजने में सफलता हासिल की थी। बीएसएफ 343.9 किलोमीटर एलओसी की निगरानी करती है। कश्मीर में बीएसएफ की 52 कंपनियां तैनात हैं।

Comments
English summary
More than 100 terrorists waiting to cross border in Jammu Kashmir.
देश-दुनिया की ताज़ा ख़बरों से अपडेट रहने के लिए Oneindia Hindi के फेसबुक पेज को लाइक करें
For Daily Alerts
तुरंत पाएं न्यूज अपडेट
Enable
x
Notification Settings X
Time Settings
Done
Clear Notification X
Do you want to clear all the notifications from your inbox?
Settings X
X