• search
जयपुर न्यूज़ के लिए
नोटिफिकेशन ऑन करें  

विष्णुदत्त बिश्नोई सुसाइड केस : राजगढ़ थाने के पूरे स्टाफ ने ट्रांसफर के लिए IG को लिखा पत्र, यह बताई वजह

|

चूरू। राजस्थान के चूरू जिले के राजगढ़ (सादुलपुर) पुलिस थानाधिकारी विष्णुदत्त बिश्नोई के 23 मई को सुसाइड कर लेने के बाद से यहां का पूरा स्टाफ भयभीत व व्यथित है। स्टाफ ने बीकानेर रेंज आईजी का पत्र लिखकर ट्रांसफर की मांग की है। खुद एसएचओ बिश्नोई ने भी अपने सुसाइड नोट में भी प्रेशर बनाए जाने का जिक्र किया था।

सादुलपुर विधायक पर आरोप

सादुलपुर विधायक पर आरोप

सादुलपर पुलिस थाने के स्टाफ की ओर से आईजी को लिखे गए पत्र में कहा गया है कि आए दिन ड्यूटी करते वक्त छोटी-छोटी बातों को लेकर सादुलपुर विधायक और उनके कार्यकर्ता हमारी झूठी शिकायत उच्च अधिकारियों से करते हैं। पिछले दिनों हेड कांस्टेबल सज्जन कुमार, हेड कांस्टेबल इंद्रसिंह, कांस्टेबल चालक राजेश व कांस्टेबल मनोज की ऐसी झूठी शिकायतें करके उन्हें चूरू लाइन हाजिर करवा दिया था। जिससे हम सभी भयभीत व व्यथित हैं। अब थानाधिकारी के सुसाइड के बाद हमारा मनोबल पूरी तरह से टूट गया है। इसलिए हम सबका राजगढ़ से दूसरी जगह ट्रांसफर कर दिया जाए।

Churu : राजगढ़ एसएचओ ने एसपी-परिजनों के नाम लिखे थे 2 सुसाइड नोट, जानिए दोनों में क्या-क्या कहा?

गांव लुणेवाला में हुआ अंतिम संस्कार

गांव लुणेवाला में हुआ अंतिम संस्कार

राजगढ़ थानाधिकारी विष्णुदत्त बिश्नोई मूलरूप से श्रीगंगानगर जिले के गांव लुणेवाला के रहने वाले थे। लुणेवाला में राजकीय सम्मान से उनका अंतिम संस्कार किया गया। विष्णुदत्त की अंतिम यात्रा में बड़ी संख्या में लोग शामिल हुए और विष्णुदत्त जिंदाबाज के नारों से आसमां गूंजा दिया। उनकी पार्थिव देह के साथ आए राजगढ़ चूरू एएसपी भरतराज, जिलेभर के पुलिसकर्मी व श्रीगंगानगर पुलिस अधीक्षक हेमंत शर्मा, अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक अमृतलाल, उपखंड अधिकारी मिथिलेश कुमार आदि भी अंतिम यात्रा में शामिल हुए।

भाई ने दर्ज करवाया मामला

भाई ने दर्ज करवाया मामला

राजगढ़ सीआई विष्णुदत्त बिश्नोई के छोटे भाई संदीप ने आत्महत्या के लिए उकसाने का मामला दर्ज करवाया है। संदीप ने रिपोर्ट दी कि उनके भाई विष्णु दत्त बिश्नोई को गंदी राजनीति में फंसाने की साजिश रची जा रही थी। उन्हें अनुचित तरीके से परेशान किया जा रहा था। इसलिए दबाव में आकर उन्होंने आत्महत्या कर ली। वहीं, पूरे प्रकरण की जांच सीआईडी क्राइम ब्रांच के एसपी विकास शर्मा को सौंपी गई है।

सीआई विष्णुदत्त बिश्नोई ने लिखा- मैं बुजदिल नहीं, बस तनाव नहीं झेल पाया

सीआई विष्णुदत्त बिश्नोई ने लिखा- मैं बुजदिल नहीं, बस तनाव नहीं झेल पाया

विष्णुदत्त ने दो सुसाइड नोट लिखे थे। इनमें से एक पत्र एसपी चूरू तेजस्विनी गौतम और दूसरा परिजनों के नाम। एसपी को लिखे पत्र कहा था- मैडम, माफ करना, प्लीज, मेरे चारों तरफ इतना प्रेशर बना दिया गया कि मैं तनाव नहीं झेल पाया। मैंने अंतिम सांस तक मेरा सर्वोत्तम देने का प्रयास किया। निवेदन है कि किसी को परेशान नहीं किया जाए। मैं बुजदिल नहीं था। बस तनाव नहीं झेल पाया। मेरा गुनाहगार मैं स्वयं हूं।

 सुसाइड नोट में परिजनों से कही यह बात

सुसाइड नोट में परिजनों से कही यह बात

पुलिस इंस्पेक्टर विष्णुदत्त ने दूसरा सुसाइड नोट अपने माता पिता, पत्नी उमेश के नाम लिखते हुए कहा था- आदरणीय मां पापा, मैं आपका गुनाहगार हूं। इस उम्र में दुख देकर जा रहा हूं। उमेश, मन्कू और लक्की मेरे पास कोई शब्द नहीं है। आपको बीच मझधार में छोड़कर जा रहा हूं। पता है। ये कायरों का काम है। बहुत कोशिश की खुद को संभालने की पर शायद गुरु महाराज ने इतनी सांस दी थी। उमेश दोनों बच्चों के लिए मेरा सपना पूरा करना। संदीप भाई पूरे परिवार को संभाल लेना प्लीज, मैं खुद गुनाहगार हूं।

व्हाट्सएप चैट वायरल, लिखा-गंदी राजनीति में फंसाने की कोशिश

व्हाट्सएप चैट वायरल, लिखा-गंदी राजनीति में फंसाने की कोशिश

दो सुसाइड नोट के अलावा राजगढ़ थानाधिकारी विष्णु दत्त बिश्नोई की अपने किसी परिचित से की गई व्हाट्सएप चैटिंग भी वायरल हो रही है। चैटिंग में उन्होंने लिखा था कि 'राजगढ़ में उन्हें गंदी राजनीति के भंवर में फंसाने की कोशिश हो रही है। ऐसे में वह अब स्वैच्छिक सेवानिवृत्ति के लिए आवेदन करने वाले हैं। यहां के ऑफिसर बहुत कमजोर है'।

 क्या है विष्णुदत्त बिश्नोई सुसाइड केस

क्या है विष्णुदत्त बिश्नोई सुसाइड केस

बता दें कि राजस्थान के चूरू जिले में राजगढ़ थानाप्रभारी विष्णुदत्त विश्नोई ने शनिवार तड़के अपने थाना परिसर के नजदीक बने सरकारी क्वार्टर में पंखे के कड़े से गले में फंदा लगाकर खुदकुशी कर ली थी। शनिवार सुबह करीब 9:30 बजे रसोईया चाय लेकर विष्णुदत्त को जगाने पहुंचा। तब अंदर से कमरे का दरवाजा बंद मिला। तब उसने थाने के स्टाफ को बताया। इसके बाद पुलिसकर्मियों ने क्वार्टर का दरवाजा तोड़कर देखा तो अंदर फंदे पर शव लटक मिला।

Rajasthan Police : चूरू के राजगढ़ SHO विष्णु दत्त बिश्नोई का शव फांसी के फंदे पर लटका मिला, VIDEO

Vishnudutt Bishnoi Suicide Case OF Rajagarh Churu Rajasthan

देश-दुनिया की ताज़ा ख़बरों से अपडेट रहने के लिए Oneindia Hindi के फेसबुक पेज को लाइक करें
English summary
Vishnudutt Bishnoi Suicide Case OF Rajagarh Churu Rajasthan
For Daily Alerts
तुरंत पाएं न्यूज अपडेट
Enable
x
Notification Settings X
Time Settings
Done
Clear Notification X
Do you want to clear all the notifications from your inbox?
Settings X
X