• search
जयपुर न्यूज़ के लिए
नोटिफिकेशन ऑन करें  

जयपुर की भारी बारिश ने याद दिला दी साल 1959 की, इन 10 तस्वीरों ने देखें पानी का खौफनाक मंजर

|

जयपुर। राजस्थान की राजधानी जयपुर में 14 अगस्त 2020 को भारी बारिश हुई। पूरे शहर में सुबह से दोपहर तक पानी का सैलाब रहा। सड़कें दरिया बनी रही। कारों, मोटरसाइकिलों समेत अन्य वाहन सड़कों पर दौड़ने की बजाय कागज की नाव की तरह तैरते रहे। जयपुर की इस बारिश ने साल 1959 की याद दिला दी, क्योंकि जयपुर शहर में बीते 60 साल में अगस्त माह में 24 घंटों के दौरान सर्वाधिक बारिश ​का​ रिकॉर्ड साल 1959 के नाम है, जो अभी तक टूटा नहीं है।

    Rajasthan Weather: Jaipur में Heavy Rain से सड़कें बनी तालाब, पानी में फंसे MLA | वनइंडिया हिंदी
    जयपुर में भारी बारिश के कारण

    जयपुर में भारी बारिश के कारण

    मौसम केन्द्र जयपुर के प्रभारी निदेशक आरएस शर्मा ने बताया कि मानसून ट्रफ रेखा राजस्थान के बीकानेर-जयपुर से होकर गुजर रही है। इसके अलावा पूर्वी राजस्थान में साइक्लोन सर्कुलेशन बना हुआ है। इसी वजह से जयपुर में भारी बारिश हुई है। इसके अलावा बंगाल की खाड़ी में निम्न दबाव का क्षेत्र बना है। इन सभी कारणों से जयपुर में बारिश हुई है।

     12 अगस्त को ही जारी किया था अलर्ट

    12 अगस्त को ही जारी किया था अलर्ट

    जयपुर मौसम केन्द्र ने 12 अगस्त को ही जयपुर के लिए ओरेंट अलर्ट जारी कर दिया था। बात अगर बारिश के रिकॉर्ड की करें तो जयपुर में बीते आठ से दस घंटे के दौरान भारी बारिश हुई। जयपुर एयरपोर्ट स्थित मौसम केन्द्र की ऑब्जर्वेटरी में दोपहर ढाई बजे 102.6 एमएम बारिश रिकॉर्ड ​की गई है।

     जयपुर में एक दिन की बारिश का रिकॉर्ड

    जयपुर में एक दिन की बारिश का रिकॉर्ड

    16 अगस्त 1959 : 188.4 एमएम

    22 अगस्त 2012 : 170.1 एमएम

    14 अगस्त 2020 : 102.6 एमएम (ढाई बजे तक)

    9 अगस्त 2014 : 98.4एमएम

    जयपुर परकोटा में बाढ़ के हालात

    जयपुर परकोटा में बाढ़ के हालात

    भारी बारिश के कारण जयपुर परकोटा में बाढ़ के हालात बन गए हैं। चांदपोल बाजार, छोटी चौपड़ी, अजमेरी गेट, रामगंज मंडी इलाके में सड़कों व गलियों में तीन-तीन फीट पानी जमा हो गया, जिससे ​लोगों को आवामन में भारी दिक्कतों का सामना करना पड़ा। कई लोगों की जान जोखिम में पड़ी।

     कांग्रेस विधायकों की बस भी पानी में फंसी

    कांग्रेस विधायकों की बस भी पानी में फंसी

    उधर, राजस्थान विधानसभा का सत्र भी शुक्रवार को हुआ है। महीनेभर के सियासी संकट के बाद अशोक गहलोत सरकार विधानसभा सत्र में विश्वास प्रस्ताव लाने वाली है। कांग्रेस के विधायक होटलों में रुके हुए हैं। सुबह 11 बजे उन्हें विधानसभा पहुंचना था, मगर विधायकों से भरी बस भी सड़कों पर बरसाती पानी में फंस गई। हालांकि बाद में थोड़ी देरी से सभी विधायक सकुशल विधानसभा पहुंच गए।

     विधायकपुरी पुलिस थाने की दीवार गिरी

    विधायकपुरी पुलिस थाने की दीवार गिरी

    जयपुर में 14 अगस्त 2020 को हुई इस भारी बारिश से नुकसान के भी समाचार हैं। खबर है कि जयपुर शहर में विधायकपुरी पुलिस थाने समेत कई जगहों की दीवारें गिर गई। वहीं, निचले इलाके जलमग्न हो गए और कच्चे घर भी गिर गए। जयपुर के जेएलएन मार्ग, जगतपुरा, दिल्ली रोड, टोंक रोड, सीकर रोड, सांगानेर, आगरा रोड पर जलभराव होने से आमजन को परेशानी का सामना करना पड़ा।

     राजस्थान के 23 जिलों में अलर्ट

    राजस्थान के 23 जिलों में अलर्ट

    मीडिया से बातचीत में मौसम विभाग जयपुर केंद्र के निदेशक राधेश्याम शर्मा ने बताया कि मौसम विभाग ने शुक्रवार को प्रदेश के 3 जिलों में अत्यधिक भारी बरसात का रेड अलर्ट और 23 जिलों में भारी बरसात का ऑरेंज-यलो अलर्ट जारी किया है। 14 से 17 अगस्त तक अजमेर, अलवर, बांसवाड़ा, बारां, भरतपुर, भीलवाड़ा, बूंदी, चित्तौड़ढ़, दौसा, धौलपुर, डूंगरपुर, जयपुर, झालावाड़, झुंझुनूं, करौली, कोटा, प्रतापगढ़, राजसमंद, सवाईमाधोपुर, सीकर, सिरोही, टोंक, उदयपुर, चूरू, नागौर, पाली और जालौर में भारी से अति भारी बारिश हो सकती है।

     बारिश से विद्युत निगम का भारी ​नुकसान

    बारिश से विद्युत निगम का भारी ​नुकसान

    खबर है कि जामडोली पुराना घाट समेत आसपास के इलाकों में 37 बिजली के पोल गिर गए। मालवीय नगर में दो ट्रांसफार्मर भी पानी भराव के चलते गिरे। 14 बिजली के पोल-2 ट्रांसफार्मर हुए क्षतिग्रस्त। 5 जगहों पर आरएमयू से सप्लाई हुई बाधित। शहर में 38 बिजली फीडरों से बंद की बिजली सप्लाई।

     बारिश से बिगड़े हालात

    बारिश से बिगड़े हालात

    दोपहर तक चारदीवारी के प्रमुख बाजारों में आधी से ज्यादा दुकानें नहीं खुली। चांदपोल बाजार की कई दुकानों में पानी भर गया। इनके अलावा बापू बाजार में दुकानों के बेसमेंट में पानी की खबरें हैं। आमेर, नाहरगढ़ और भट्टा बस्ती में मकान गिरने की सूचना है। शहर में 200 से अधिक जगहों पर पानी भराव, फ्लड कंट्रोल रूम में लगातार सूचनाएं आ रही हैं।

     सोशल मीडिया पर छाई जयपुर की बारिश

    सोशल मीडिया पर छाई जयपुर की बारिश

    लगातार चार घंटे की बारिश ने जयपुर वासियों की परेशानी में डाल दिया। जयपुर के कई इलाकों में घुटनों तक पानी भरा गया। वहीं बारिश से परेशान लोगों ने अपने-अपने क्षेत्र वीडियो बनाकर सोशल मीडिया पर शेयर कर रहे हैं। ट्विटर और फेसबुक पर बारिश के वीडियो और फोटोज अपलोड कर रहे है। बारिश के फनी वीडियो बनाकर भी सोशल मीडिया पर शेयर किया जा रहा है। ट्विटर पर #JaipurRain हैशटैग के साथ जयपुर बारिश के वीडियो शेयर कर रहे हैं।

    देश-दुनिया की ताज़ा ख़बरों से अपडेट रहने के लिए Oneindia Hindi के फेसबुक पेज को लाइक करें
    English summary
    The highest rainfall till date was 188 mm in Jaipur in the year 1959
    For Daily Alerts
    तुरंत पाएं न्यूज अपडेट
    Enable
    x
    Notification Settings X
    Time Settings
    Done
    Clear Notification X
    Do you want to clear all the notifications from your inbox?
    Settings X
    X