• search
जयपुर न्यूज़ के लिए
नोटिफिकेशन ऑन करें  

राजस्थान: सचिन पायलट गुट में रहे विधायक हरीश मीना के सुर बदले, अनदेखी के सवाल पर दिया ​अजीब जवाब

|
Google Oneindia News

टोंक, 11 जून। राजस्थान कांग्रेस में अंदरखाने चल रहे सियासी संग्राम के बीच शुक्रवार को सचिन पायलट के पिता राजेश पायलट की पुण्यतिथि के मौके पर टोंक जिले के उनियारा पहुंचे विधायक हरीश मीना के सुर बदले-बदले नजर आए।

गोलमोल जवाब कई सियासी सवाल छोड़ गए

गोलमोल जवाब कई सियासी सवाल छोड़ गए


एक ओर जहां विधायक मीना ने दौसा में आयोजित होने वाले कार्यक्रम में शामिल होने की बात कही तो वहीं आज कांग्रेस पार्टी के निर्देशों पर उनियारा पहुंचकर मंहगाई के खिलाफ धरने प्रदर्शन में शामिल होने की मजबूरी जाहिर की।जब विधायक हरीश मीना से पूर्व उपमुख्यमंत्री सचिन पायलट और साथी विधायकों द्वारा राजनैतिक नियुक्तियों और कार्यकर्ताओं की अनदेखी पर उठाए जा रहे सवालों पर बात की तो गोलमोल जवाब कई सियासी सवाल छोड़ गए।

बीमारी का समय पर समाधान होना चाहिए

बीमारी का समय पर समाधान होना चाहिए

विधायक मीना ने बिना किसी का नाम लिए कहा कि किसी भी समस्या या बीमारी का समय पर समाधान होना चाहिए। जैसे सरकार ने कोरोना की समय पर वैक्सीन लगाने की शुरूआत की है। वैसे ही पार्टी के कार्यकर्ताओं की समस्याओं का समाधान करना चाहिए।

उनके किसी भी बयान पर मैं जवाब नहीं दे सकता

उनके किसी भी बयान पर मैं जवाब नहीं दे सकता

वहीं, बीते दिनों अलग करते हुए कहा कि उनके किसी भी बयान पर मैं जवाब नहीं दे सकता। वो बड़े ही सीनियर नेता हैं। कई बार मंत्री, सांसद, विधायक व जिला प्रमुख रह चुके हैं। मुझे बस इतनी उम्मीद है कि सभी समस्याओं का जल्द समाधान होगा।

विधायक मीना भी पायलट कैम्प को छोड़ चुके हैं

विधायक मीना भी पायलट कैम्प को छोड़ चुके हैं

विधायक हरीश मीना के यह जवाब राजस्थान की सियायत में उठ रहे उबाल को और बढ़ाते नजर आ रहा है। सियासी गलियारों में इन बयानों को लेकर कई कयास लगा रहे है। कोई कह रहा है कि विधायक मीना भी पायलट कैम्प को छोड़ चुके हैं।

राजस्थान का सियासी मौसम : पायलट गुट के 5 विधायकों को तोड़ने की रणनीति बनाने में जुट गई गहलोत सरकारराजस्थान का सियासी मौसम : पायलट गुट के 5 विधायकों को तोड़ने की रणनीति बनाने में जुट गई गहलोत सरकार

सीएम गहलोत ने इनका पूरा ख्याल रखा

सीएम गहलोत ने इनका पूरा ख्याल रखा

कोई कह रहा है कि टोंक जिले में सबसे ज्यादा मुख्यमंत्री गहलोत ने देवली उनियारा को सौगातें दी हैं। 10 महीने पहले जब हरीश मीना पायलट कैम्प से लौटकर आए तब से ही सीएम गहलोत ने इनका पूरा ख्याल रखा है। ऐसे में माना जा रहा है कि आने वाले दिनों में राजस्थान की राजनीति में कोई बड़ा संकट खड़ा होता है तो मीना कही गहलोत के तारणहार की भूमिका में तो नहीं आएंगे।

English summary
Sachin Pilot Side MLA Harish Meena changed in rajasthan Political crisis
देश-दुनिया की ताज़ा ख़बरों से अपडेट रहने के लिए Oneindia Hindi के फेसबुक पेज को लाइक करें
For Daily Alerts
तुरंत पाएं न्यूज अपडेट
Enable
x
Notification Settings X
Time Settings
Done
Clear Notification X
Do you want to clear all the notifications from your inbox?
Settings X
X